पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Business
  • Global Debt May Reach To Record Levels Of 277 Trillion Dollars This Year Says IIF

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कर्ज का बोझ बढ़ा:महामारी से जुड़े खर्चों के कारण इस साल ग्लोबल डेट बढ़कर 277 लाख करोड़ डॉलर के रिकॉर्ड स्तर तक पहुंच जाएगा

नई दिल्ली11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
विकसित देशों का कुल डेट सितंबर तिमाही में बढ़कर GDP के मुकाबले 432% पर पहुंच गया, जो 2019 के अंत में 380% के स्तर पर था
  • IIF ने कहा कि इस साल सितंबर तक ग्लोबल डेट 15 लाख करोड़ डॉलर बढ़कर 272 लाख करोड़ डॉलर हो चुका है
  • डेट में जो बढ़ोतरी हुई है, उसमें करीब आधा योगदान सरकारों का है, जिसमें अधिकतर विकसित देशों की सरकारें शामिल हैं

कोरोनावायरस महामारी से निपटने के लिए सरकारों और कंपनियों द्वारा लगातार किए जा रहे खर्च के कारण इस साल के अंत तक ग्लोबल डेट बढ़कर रिकॉर्ड 277 लाख करोड़ डॉलर तक पहुंच जाने का अनुमान है। यह बात इंस्टीट्यूट ऑफ इंटरनेशनल फाइनेंस (IIF) ने कही, जिसके सदस्यों में दुनियाभर के 400 से ज्यादा बैंक और वित्तीय संस्थान शामिल हैं। IIF ने कहा कि इस साल सितंबर तक की अवधि में ही यह डेट 15 लाख करोड़ डॉलर बढ़कर 272 लाख करोड़ डॉलर हो चुका है। डेट में जो बढ़ोतरी हुई है, उसमें करीब आधा योगदान सरकारों का है, जिसमें अधिकतर विकसित देशों की सरकारें शामिल हैं।

विकसित देशों का कुल डेट तीसरी तिमाही में बढ़कर GDP के मुकाबले 432 फीसदी हो गया, जो 2019 के अंत में 380 फीसदी के स्तर पर था। उभरते बाजारों का डेट-टू-जीडीपी तीसरी तिमाही में करीब 250 फीसदी पर पहुंच गया। चीन का रेश्यो 335 फीसदी पर पहुंच गया। अनुमान है कि इस साल के अंत तक ग्लोबल डेट ग्लोबल GDP के मुकाबले बढ़कर 365 फीसदी पर पहुंच सकता है।

अमेरिका का कर्ज इस साल 71 लाख करोड़ डॉलर से बढ़कर 80 लाख करोड़ डॉलर तक पहुंच सकता है

IIF ने कहा कि वैश्विक अर्थव्यवस्था बिना बाजार की गतिविधियों को प्रभावित किए इस कर्ज को कैसे चुकाएगी इसे लेकर काफी अनिश्चितता की स्थिति है। अमेरिका का कर्ज इस साल 80 लाख करोड़ डॉलर तक पहुंच सकता है, जो 2019 के अंत में 71 लाख करोड़ डॉलर था। यूरो जोन का कर्ज इस साल सितंबर तक 1.5 लाख करोड़ डॉलर बढ़कर 53 लाख करोड़ डॉलर तक पहुंच गया है।

उभरते बाजारों में सरकारों के घटते रेवेन्यू के कारण कर्ज चुकाना कठिन हो गया है

IIF ने कहा कि विकासशील देशों में लेबनान, चीन, मलेशिया और तुर्की के नॉन-फाइनेंशियल डेट रेश्यो में इस साल अब तक सबसे ज्यादा बढ़ोतरी हुई है। उभरते बाजारों में सरकारों के घटते रेवेन्यू के कारण कर्ज को चुकाना और भी कठिन हो गया है, जबकि पूरी दुनिया में अभी ब्याज दर रिकॉर्ड निचले स्तर पर है। अगले साल के अंत तक करीब 7 लाख करोड़ डॉलर के इमर्जिंग मार्केट बांड्स और सिंडिकेटेड लोन को चुकाने का समय आ जाएगा। इन बांड और लोन का करीब 15 फीसदी हिस्सा डॉलर डिनोमिनेटेड है।

वैश्विक अर्थव्यवस्था में इस साल 4.4% गिरावट की आशंका

G20 ग्रुप के अधिकारी पिछले महीने ऑफीशियल बायलेटरल डेट पेमेंट्स पर डेट सर्विस सस्पेंसन इनिशिएटिव (DSSI) फ्रीज को 2021 की पहली छमाही तक बढ़ाने पर सहमत हुए थे। उन्होंने साथ ही कहा था कि अप्रैल में वे इसे 6 महीने के लिए और आगे बढ़ाने पर विचार कर सकते हैं। अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) के अनुमान के मुताबिक वैश्विक अर्थव्यवस्था में इस साल 4.4 फीसदी की गिरावट आ सकती है आौर 2021 में यह 5.2 फीसदी विकास कर सकती है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- पिछले रुके हुए और अटके हुए काम पूरा करने का उत्तम समय है। चतुराई और विवेक से काम लेना स्थितियों को आपके पक्ष में करेगा। साथ ही संतान के करियर और शिक्षा से संबंधित किसी चिंता का भी निवारण होगा...

और पढ़ें