सुरक्षित निवेश की ओर लपके निवेशक:गोल्ड ईटीएफ में जुलाई में 921 करोड़ रुपए का हुआ निवेश, यह जून के मुकाबले 86% ज्यादा है

नई दिल्लीएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
कोरोनावायरस महामारी के कारण निवेशकों ने गोल्ड ईटीएफ में निवेश बढ़ा दिया है - Dainik Bhaskar
कोरोनावायरस महामारी के कारण निवेशकों ने गोल्ड ईटीएफ में निवेश बढ़ा दिया है
  • गोल्ड ईटीएफ का असेट अंडर मैनेजमेंट जून 2020 के मुकाबले जुलाई में 19% बढ़ा
  • गोल्ड ईटीएफ कैटेगरी में कुल एयूएम 31 जुलाई 2020 को 12,941 करोड़ रुपए था

गोल्ड एक्सचेंज ट्रेडेड फंड (ईटीएफ) में जुलाई में 921 करोड़ रुपए का निवेश हुआ। यह जून के मुकाबले 86 फीसदी ज्यादा है। कोरोनावायरस महामारी के कारण निवेशकों ने गोल्ड ईटीएफ में निवेश बढ़ा दिया है।

एसोसिएशन ऑफ म्यूचुअल फंड्स इन इंडिया (एंफी) के मुताबिक गोल्ड ईटीएफ कैटेगरी में कुल असेट अंडर मैनेजमेंट (एयूएम) 31 जुलाई 2020 को 12,941 करोड़ रुपए था। गोल्ड ईटीएफ का एयूएम जून 2020 के मुकाबले जुलाई में 19 फीसदी बढ़ा है।

इस साल अब तक गोल्ड ईटीएफ में 4,249 करोड़ रुपए का शुद्ध निवेश

इस साल अब तक गोल्ड ईटीएफ में 4,249 करोड़ रुपए का शुद्ध निवेश हुआ है। जनवरी में 202 करोड़ रुपए और फरवरी में 1,483 करोड़ रुपए का शुद्ध निवेश हुआ। मार्च में निवेशकों ने इससे 195 करोड़ रुपए निकाल लिए। इसके बाद अप्रैल में 731 करोड़ रुपए का और मई में 815 करोड़ रुपए का निवेश हुआ।

गोल्ड ईटीएफ में ऐसे करते हैं निवेश

गोल्ड ईटीएफ स्टॉक एक्सचेंज पर लिस्टेड होता है। यह फंड फिजिकल गोल्ड में निवेश करता है। यह काफी लिक्विड निवेश है, क्योंकि निवेशक इसे एक्सचेंज पर कभी भी कारोबार अवधि के दौरान बेच सकता है। एक्सचेंज पर ईटीएफ फिजिकल गोल्ड के मार्केट प्राइस पर ट्र्रेड करता है।

गोल्ड के आयात में 81.22% की गिरावट, इस साल अप्रैल से जुलाई के बीच भारत ने विदेश से महज 2.47 अरब डॉलर का सोना खरीदा

खबरें और भी हैं...