पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

कोरोना महामारी के बीच देश को लाभ:गोल्ड के आयात में 81.22% की गिरावट, इस साल अप्रैल से जुलाई के बीच भारत ने विदेश से महज 2.47 अरब डॉलर का सोना खरीदा

नई दिल्लीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सरकार गोल्ड का आयात घटाना चाहती है, क्योंकि गोल्ड के आयात से बड़े पैमाने पर देश की मुद्रा बाहर चली जाती है, जिससे देश का चालू खाता घाटा बढ़ता है
  • पिछले साल अप्रैल से जुलाई के बीच भारत ने 13.16 अरब डॉलर के गोल्ड का आयात किया था
  • चांदी का आयात भी इस दौरान 56.5% घटकर महज 68.532 करोड़ डॉलर का रह गया

कोरोनावायरस महामारी और लॉकडाउन के कारण मांग घटने से इस कारोबारी साल के पहले चार महीनों (अप्रैल-जुलाई) में गोल्ड का आयात पिछले साल की समान अवधि के मुकाबले 81.22 फीसदी कम रहा। वाणिज्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक इन चार महीनों में भारत नें महज 2.47 अरब डॉलर (करीब 18,590 करोड़ रुपए) मूल्य के गोल्ड का आयात किया। एक साल पहले की इसी अवधि में भारत ने 13.16 अरब डॉलर (करीब 91,440 करोड़ रुपए) वैल्यू के गोल्ड का आयात किया था।

सरकार गोल्ड का आयात घटाना चाहती है, क्योंकि गोल्ड के आयात से बड़े पैमाने पर देश की मुद्रा बाहर चली जाती है, जिससे देश का चालू खाता घाटा बढ़ता है। चांदी का आयात भी इस कारोबारी साल के पहले 4 महीने में 56.5 फीसदी घटकर महज 68.532 करोड़ डॉलर (करीब 5,185 करोड़ रुपए) का रहा।

व्यापार घाटा 59.4 अरब डॉलर से 13.95 अरब डॉलर पर आया

गोल्ड और सिल्वर का आयात घटने से देश के व्यापार घाटे को भी कम करने में मदद मिली है। अप्रैल-जुलाई 2020 में देश का व्यापार घाटा 13.95 अरब डॉलर का रहा, जो एक साल पहले की समान अवधि में 59.4 अरब डॉलर था। निर्यात के मुकाबले जब आयात का वैल्यू ज्यादा होता है, तो उसे व्यापार घाटा कहा जाता है।

दिसंबर से घट रहे गोल्ड इंपोर्ट में जुलाई में दिखी बढ़ोतरी

पिछले साल दिसंबर से गोल्ड के आयात में गिरावट दर्ज की जा रही है। गोल्ड का आयात पिछले साल की समान अवधि के मुकाबले मार्च में 62.6 फीसदी, अप्रैल में 99.93 फीसदी, मई में 98.4 फीसदी और जून में 77.5 फीसदी कम रहा। हालांकि जुलाई में गोल्ड का आयात मामूली 4.17 फीसदी बढ़कर 1.78 अरब डॉलर वैल्यू पर पहुंच गया, जो पिछले साल जुलाई में 1.71 अरब डॉलर का था।

भारत गोल्ड का सबसे बड़ा आयातक

भारत गोल्ड का सबसे बड़ा आयातक है। भारत में आयातित गोल्ड की खपत मुख्यत: ज्वेलरी इंडस्ट्र्री में होती है। वॉल्यूम के लिहाज से भारत आमतौर पर सालभर में 800-900 टन गोल्ड का आयात करता है।

जेम्स एंड ज्वेलरी निर्यात अप्रैल-जुलाई 2020 में करीब 66.36 फीसदी घटा

जेम्स एंड ज्वेलरी निर्यात अप्रैल-जुलाई 2020 में करीब 66.36 फीसदी घटकर 4.17 अरब डॉलर का रहा। जनवरी-मार्च 2020 में भारत को 0.6 अरब डॉलर का चालू खाता आधिक्य (करेंट अकाउंट सरप्लस) हुआ, जो जीडीपी के 0.1 फीसदी के बराबर है। एक साल पहले की समान तिमाही में देश को 4.6 अरब डॉलर का चालू खाता घाटा (करेंट अकाउंट डिफिसिट) हुआ था, जो जीडीपी के 0.7 फीसदी के बराबर है।

जुलाई में देश का निर्यात 10.21% फीसदी घटकर 23.64 अरब डॉलर पर आया

जुलाई में थोक महंगाई की दर लगातार चौथे महीने शून्य से 0.58 अंक नीचे रही

खुदरा महंगाई दर में बढ़ोतरी, जुलाई में 7% के करीब पहुंची

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- समय की गति आपके पक्ष में हैं। आपकी मेहनत और आत्मविश्वास की वजह से सफलता आपके नजदीक रहेगी। सामाजिक दायरा भी बढ़ेगा तथा आपका उदारवादी रुख आपके लिए सम्मान दायक रहेगा। कोई बड़ा निवेश भी करने के लिए...

और पढ़ें