2021 में कहां लगाएं पैसा:इस साल सोना में 40% और शेयर बाजार में 15% मिल सकता है रिटर्न

मुंबई10 महीने पहले
  • बैंकिंग, फार्मा, आईटी और टेलीकॉम शेयरों में ज्यादा तेजी की उम्मीद
  • म्यूचुअल फंड में मिड और स्माल कैप में अधिक रिटर्न की गुंजाइश

2021 की शुरुआत हो चुकी है। ऐसे में आपको इस साल के लिए निवेश की तैयारी शुरू कर देनी चाहिए। साल 2020 भले ही संकट वाला रहा हो, लेकिन उस संकट में भी निवेशकों ने ऐतिहासिक रूप से सबसे अधिक फायदा कमाया। सोने में निवेशकों को 24% रिटर्न मिला तो शेयर बाजार ने भी 15% का मुनाफा दिया। मार्च के बाद जिसने शेयर बाजार में पैसे लगाए उसकी रकम तो दोगुना हो गई। म्यूचुअल फंड की स्कीम्स ने भी अच्छे रिटर्न दिए। म्यूचुअल फंड की कुछ इक्विटी स्कीम्स ने मार्च के बाद से 80% का रिटर्न दिया है। हम आपको बता रहे हैं कि साल 2021 में आपको कहां और क्यों सबसे ज्यादा फायदा मिल सकता है।

15 जनवरी के बाद बजट की उम्मीदों पर चलेगा बाजार

निर्मल बंग फाइनेंशियल सर्विसेस ने निफ्टी का लक्ष्य 14,500 रखा है। फिलहाल निफ्टी 14 हजार पर है। ब्रोकरेज हाउस का कहना है कि 15 जनवरी के बाद बाजार को बजट का सपोर्ट मिलने लगेगा। तब निफ्टी और आगे जा सकता है। इस ब्रोकरेज हाउस ने स्टरलाइट टेक्नोलॉजी के शेयर को 252 रुपए के लक्ष्य पर खरीदने की सलाह दी है। इसमें फायदा इसलिए मिलेगा क्योंकि इसके मुनाफे में अगले वित्त वर्ष में 85% और 2022-23 में 46% की बढ़त हो सकती है। टेक महिंद्रा के शेयर को इस ब्रोकरेज हाउस ने 1,138 रुपए के लक्ष्य पर खरीदने की सलाह दी है। इस कंपनी का प्रॉफिट 2022 में 11.9% और 2023 में 12.3% बढ़ सकता है।

छोटी और मझोली कंपनियां दे सकती हैं ज्यादा रिटर्न

ब्रोकरेज हाउस आईसीआईसीआई सिक्युरिटीज के मुताबिक छोटी और मझोली कंपनियों के शेयर इस साल में अच्छा प्रदर्शन कर सकते हैं। इनमें फार्मा, आईटी और मैन्युफैक्चरिंग से जुड़ी कंपनियों के शेयर खरीदे जा सकते हैं। ब्रोकरेज हाउस का कहना है कि बाजार में जारी तेजी रुकती है तो भी निफ्टी 13,500 अंकों के आस-पास रहेगा।

इन शेयरों में करें खरीदारी

आईसीआईसीआई सिक्योरिटीज ने पीएनसी इंफ्रा के शेयर को 220 रुपए के लक्ष्य पर खरीदने की सलाह दी है। इसमें 26 पर्सेंट का फायदा मिल सकता है। डिवीज लैब के शेयर में 16 पर्सेंट, अंबर इंटरप्राइजेज के शेयर में 19 पर्सेंट और एचसीएल टेक के शेयर में 17 पर्सेंट का फायदा मिलने की उम्मीद इस ब्रोकरेज हाउस ने जताई है।

रेलिगेयर ब्रोकिंग के VP रिसर्च, अजीत मिश्रा कहते हैं कि जिन सेक्टर में 2021 में सबसे ज्यादा तेजी की उम्मीद है, उनमें बैंकिंग और टेलीकॉम सेक्टर प्रमुख हैं। उनका कहना है कि बजट के पहले कंपनियों के नतीजे भी बाजार के लिए प्रमुख फैक्टर रहने वाला है।

एनबीएफसी, आईटी, बैंकिग स्टॉक्स हैं बेहतर

ब्रोकरेज फर्म शेयरखान ने उम्मीद जताई है कि 2021 में गैर बैंकिंग वित्तीय कंपनियों (NBFC), इंजीनियरिंग, फार्मा, आईटी, कंज्यूमर और बैंकिंग स्टॉक्स निवेशकों को तगड़ा रिटर्न देंगे। ब्रोकरेज फर्म HDFC सिक्योरिटीज ने बंधन बैंक के शेयर को खरीदने की सलाह दी है। बंधन बैंक देश की सबसे बड़ी माइक्रो फाइनेंस कंपनी है। इसका मार्केट शेयर 20% से अधिक है। वहीं, पूर्वी राज्यों और उत्तर पूर्व में कंपनी का मार्केट शेयर 50% है। गेल इंडिया के शेयर को भी इसने खरीदने की सलाह दी है। कंपनी गैस के कोर बिजनेस के आलावा कारोबार को पेट्रोकेमिकल्स और ग्रीन एनर्जी के क्षेत्र में बढ़ाने की योजना बना रही है।

आईटी, एफएमसीजी पसंदीदा सेक्टर

ब्रोकरेज हाउसों ने बैंक, आईटी और एफएमसीजी को पसंदीदा सेक्टर बताया है। इन सभी ने 2020 में भी अच्छा प्रदर्शन किया है और 2021 में भी अच्छा प्रदर्शन करेंगे। लॉर्ज कैप आईटी स्टॉक 20 से 50 पर्सेंट का फायदा दे सकते हैं। एक्सिस सिक्योरिटीज ने इंफोसिस को 1,404 रुपए के लक्ष्य पर खरीदने की सलाह दी है। इसमें 11 पर्सेंट का रिटर्न मिलेगा। इस कंपनी की आगे ग्रोथ अच्छी रहेगी जिसमें डिजिटल और बड़ी डील ज्यादा योगदान करेंगे। भारती एयरटेल को इस ब्रोकरेज हाउस ने 676 रुपए के लक्ष्य पर खरीदने की सलाह दी है। इसमें 32 पर्सेंट का फायदा मिलेगा। ग्राहकों की संख्या बढ़ने के अलावा डिजिटाइजेशन का भी इसे फायदा मिलेगा।

म्यूचुअल फंड में स्माल और मिड कैप बेहतर रिटर्न देंगे

जिस तरह से शेयर बाजार 23 मार्च के निचले स्तर से 77% तक बढ़ा है, उसी तरह म्यूचुअल फंड की मिड कैप स्कीम्स ने निवेशकों को अच्छा रिटर्न दिया है। इन स्कीम्स ने 84% तक का रिटर्न पिछले 8 महीनों में दिया है। 23 मार्च 2020 से 14 दिसंबर 2020 तक के समय में ICICI प्रूडेंशियल मिड कैप ने 83.98% का फायदा दिया है। यूटीआई मिड कैप ने 23 मार्च 2020 से 14 दिसंबर तक की अवधि में 82.96% का फायदा दिया है। जबकि देश के सबसे बड़े फंड हाउस SBI मैग्नम मिड कैप ने इसी अवधि में 81% का रिटर्न निवेशकों को दिया है। विश्लेषकों के मुताबिक हाल के दौरान मिड कैप और उसके बाद लार्ज कैप स्टॉक अच्छे चले हैं। आगे स्माल कैप और मिड कैप में तेजी आ सकती है। ऐसे में निवेशकों को स्माल और मिड कैप म्यूचुअल फंड में फोकस करना चाहिए। आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल म्यूचुअल फंड के स्मॉल कैप के फंड मैनेजर हरीश बिहानी और मिड कैप के फंड मैनेजर प्रकाश गोयल कहते हैं कि जब कोविड इंफेक्शन की दर कम होगी या वैक्सीन उपलब्ध होगी, तब यह और फायदा दे सकता है।

मिड और स्माल कैप फंड में एसआईपी अच्छा विकल्प

इन फंड मैनेजर्स का मानना है कि कुछ ऐसे स्टॉक हैं जो आकर्षक मूल्य पर हैं। म्यूचुअल फंड के जरिए अगर एसआईपी का रास्ता आप अपनाते हैं तो निवेशकों को जोखिम कम करने में मदद मिलेगी। जो निवेशक अभी भी अगले पांच सालों के नजरिए से निवेश करना चाहते हैं वे मिड और स्मॉल कैप स्कीम में एसआईपी शुरू कर सकते हैं।

अब बात बैंक एफडी और स्माल सेविंग की

बैंक एफडी की ब्याज दरें इस समय सबसे निचले स्तर पर है। यह 5 पर्सेंट से लेकर 7 पर्सेंट के बीच है। बड़े बैंकों में तो यह 6 पर्सेंट से नीचे ही है। ऐसे में सबसे कम रिटर्न देने वाला साधन बैंक एफडी ही है। दूसरे नंबर पर स्माल सेविंग स्कीम्स हैं। इनमें 4 से 7.4 पर्सेंट तक का रिटर्न मिलेगा। सीनियर सिटिजन की सेविंग स्कीम पर 7.4 पर्सेंट का रिटर्न फिक्स है। पीपीएफ पर 7.1 पर्सेंट जबकि किसान विकास पर 6.9 पर्सेंट ब्याज है। सुकन्या समृद्धि पर 7.6 पर्सेंट ब्याज है।

बात सोने और चांदी के निवेश की

सोने और चांदी के बारे में ICICI सिक्योरिटीज का कहना है कि सोने का दाम 65 हजार प्रति 10 ग्राम तक जा सकता है। यानी इसमें आज पैसा लगाने पर 30-40% तक का फायदा मिल सकता है। चांदी प्रति किलो 90 हजार रुपए तक जा सकती है। सोने की कीमतें इसलिए बढ़ने की उम्मीद है क्योंकि कोरोना के कारण पूरी दुनिया में अनिश्चितता अब भी बनी हुई है। सोना और चांदी सुरक्षित निवेश माने जाते हैं।

2020 में सोने की चाल

जनवरी से दिसंबर 2020 के बीच सोने की कीमतें ऐतिहासिक स्तर पर जा चुकी थीं। यह 56 हजार रुपए प्रति 10 ग्राम तक पहुंची थी। इस दौरान सोने ने 28% का फायदा दिया। पिछले 10 सालों में सोने का सबसे शानदार प्रदर्शन यह रहा है। चांदी ने 2020 में करीब 48% का फायदा दिया है। 2020 में चांदी ने 77,949 रुपए प्रति किलो का रिकॉर्ड बनाया।