पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Business
  • Half The Vehicles Sold In May Were SUVs, Covid Increased The Market Share Of These Vehicles

ग्राहकों को लुभा रहा स्पोर्टी लुक, ज्यादा स्पेस:मई में बिकीं लगभग आधी गाड़ियां SUV थीं, कोविड ने बढ़ाया इन गाड़ियों का मार्केट शेयर

एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • इस साल के शुरुआती पांच महीनों में लगभग पांच लाख SUV बिकी थीं, इसके मुकाबले कोविड वाले 2020 में पूरे साल SUV की टोटल सेल 707,000 यूनिट रही थी
  • पिछले साल बिकी कुल गाड़ियों में SUV का हिस्सा 29% रहा था, जो इस साल बढ़कर 35% हो गया है, पिछले महीने बिकी कुल गाड़ियों में SUV का शेयर 48.5% रहा

देश में आजकल बिक रही हर तीन गाड़ियों में से एक SUV होती है। यह आंकड़ा बताता है कि लोगों की गाड़ियों की पसंद में बड़ा बदलाव आ रहा है। लोग शानदार लुक वाली मल्टीपर्पज गाड़ियां ज्यादा खरीद रहे हैं। जानकारों के मुताबिक, कोविड के चलते इनकी डिमांड में बढ़ोतरी हुई है।

शुरुआती पांच महीनों में लगभग पांच लाख SUV बिकीं

इंडस्ट्री के आकलन के मुताबिक, इस साल के शुरुआती पांच महीनों में लगभग पांच लाख SUV बिकी थीं। इसके मुकाबले कोविड वाले 2020 में पूरे साल SUV की टोटल सेल 707,000 यूनिट रही थी। पिछले साल बिकी कुल गाड़ियों में SUV का हिस्सा 29% रहा था, जो इस साल बढ़कर 35% हो गया है। पिछले महीने बिकी कुल गाड़ियों में SUV का शेयर 48.5% रहा था।

पिछले साल लॉकडाउन के बाद SUV की बिक्री ज्यादा बढ़ी थी

इंडस्ट्री के जानकारों का कहना है कि मई के आंकड़े में पैसेंजर व्हीकल मार्केट की सही तस्वीर नहीं दिख रही। असल में कोविड की दूसरी लहर पर रोकथाम के लिए देश के कई शहरों में लॉकडाउन लगाया गया था। अगर पिछले साल की बात करें तो लॉकडाउन हटने के बाद पैसेंजर गाड़ियों की बिक्री में तेज उछाल आया था। लेकिन उस दौरान SUV की बिक्री में ज्यादा बढ़ोतरी हुई थी।

हुंडई की टोटल सेल में SUV का शेयर 45% पर पहुंचा​​​​​

अगर इंडिविजुअल कंपनियों की बात करें तो हुंडई की टोटल सेल में SUV का शेयर 45% पर पहुंच गया है। 2015 में भारतीय SUV बाजार की मार्केट लीडर की कुल बिक्री में इन गाड़ियों का हिस्सा सिर्फ 9% था। SUV बाजार में हुंडई की हिस्सेदारी इस साल मई तक बढ़कर 23% तक पहुंच गई थी। हुंडई का मानना है कि कोविड के चलते बाजार में आई दिक्कतें दूर होने पर उनकी बिक्री में SUV का हिस्सा और बढ़ेगा।

कार कंपनियों ने SUV की तरफ शिफ्ट किया फोकस

देश में SUV के क्रेज का पता इसी से चलता है कि शुक्रवार को लॉन्च हुई अल्काजार के लिए हुंडई को पहले ही 4,000 गाड़ियों की बुकिंग मिल चुकी है। कंपनी ने अल्काजार की कीमत 16.30-19.99 लाख रुपए के बीच रखी है। यह इस साल कार कंपनियों की चौथी बड़ी SUV लॉन्चिंग है और इस साल 10 से ज्यादा ऐसी गाड़ियां लॉन्च होने वाली हैं। हालांकि, इस साल पैसेंजर कारों के मेन सेगमेंट में कोई बड़ी लॉन्चिंग नहीं हुई है। इससे पता चलता है कि कार कंपनियों ने अपना फोकस SUV की तरफ शिफ्ट कर दिया है।

ज्यादा प्रॉडक्ट और बेहतर फ्यूल एफिसिएंसी से बढ़ रही मांग

मल्टी परपज व्हीकल और यूटिलिटी व्हीकल मार्केट की दिग्गज कंपनी मारुति सुजुकी की एंट्री लेवल की SUV विटारा ब्रेजा का मार्केट शेयर पिछले दो महीनों में 2.9% पॉइंट बढ़ा है। कंपनी के एग्जिक्यूटिव डायरेक्टर शशांक श्रीवास्तव के मुताबिक, इस सेगमेंट में ज्यादा प्रॉडक्ट लाए जाने, कीमत ठीकठाक रखे जाने और ईंधन की खपत घटाए जाने से यूटिलिटी व्हीकल की मांग को बढ़ावा मिल रहा है।

कंसल्टेंसी फर्म एवेंटियम पार्टनर्स के मैनेजिंग पार्टनर वी जी रामकृष्णन के मुताबिक पैसेंजर गाड़ियों की बिक्री में SUV का शेयर कोविड के चलते बढ़ा है।

खबरें और भी हैं...