सैलरी, बोनस और इंक्रीमेंट बरकरार रहेगा:HDFC बैंक ने कहा, इस साल भी कर्मचारियों की सैलरी में कोई कटौती नहीं, टेक्नोलॉजी को सुधारने पर जोर

मुंबई7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बैंक के एमडी एस. जगदीशन ने कहा कि हाल में हमने कुछ टेक्नोलॉजी की समस्याएं देखी थी, जिससे ग्राहकों को नेट बैंकिंग और मोबाइल बैंकिंग की दिक्कतें हुई थीं। उन्होंने कहा कि इसके लिए जो भी सोशल मीडिया या मीडिया में आ रहा है, उसे ध्यान में रखते हुए हमें ये देखना चाहिए कि बैंक और आईटी सिस्टम में क्या गड़बड़ी है - Dainik Bhaskar
बैंक के एमडी एस. जगदीशन ने कहा कि हाल में हमने कुछ टेक्नोलॉजी की समस्याएं देखी थी, जिससे ग्राहकों को नेट बैंकिंग और मोबाइल बैंकिंग की दिक्कतें हुई थीं। उन्होंने कहा कि इसके लिए जो भी सोशल मीडिया या मीडिया में आ रहा है, उसे ध्यान में रखते हुए हमें ये देखना चाहिए कि बैंक और आईटी सिस्टम में क्या गड़बड़ी है
  • बैंक के एमडी ने कर्मचारियों को ईमेल भेज कर दी जानकारी
  • चौथी तिमाही में 8,186.51 करोड़ रुपए का मुनाफा हुआ था

निजी क्षेत्र के देश के सबसे बड़े बैंक, HDFC बैंक के कर्मचारियों की सैलरी में इस साल भी इजाफा होगा। उनकी सैलरी या बोनस या किसी भी तरह से मिलने वाली इनकम में कोई कटौती नहीं होगी। इस तरह की जानकारी बैंक के एमडी एस. जगदीशन ने कर्मचारियों को भेजे एक ईमेल में दी है। बैंक के पास करीबन 1 लाख कर्मचारी हैं।

माना जा रहा है कि HDFC बैंक के इस फैसले के बाद अब दूसरे बैंक भी इस तरह से ही फैसला कर सकते हैं। वैसे पिछले साल भी HDFC बैंक ने कोरोना की वजह से अपने कर्मचारियों की सैलरी या भत्ते या किसी भी तरह की इनकम में कोई कटौती नहीं की थी।

पिछले साल भी कोई कटौती नहीं की थी

जगदीशन ने कहा कि जब पिछले साल हमने कहा था कि आपका बोनस, प्रमोशन और इंक्रीमेंट सुरक्षित है यह हमारे लिए एक छोटा सा टोकन था और कर्मचारियों के लिए एक कमिटमेंट था। इस साल भी हम इसी नियम का पालन करेंगे। चालू वित्तीय वर्ष में कोरोना से संबंधित कुछ चुनौतियां जरूर आएंगी। हम लगातार रिटेल, एमएसएमई और कॉर्पोरेट बैंकिंग में अवसरों को देखेंगे और इसे बढ़ाने के लिए अपने संसाधनों का निवेश करेंगे। इसके लिए हमें तीन सी यानी कल्चर, कस्टमर और कांसिनेस (अंतरात्मा) को ध्यान में रखकर काम करेंगे।

ऐतिहासिक रूप से मुश्किल भरा साल रहा है

ईमेल में जगदीशन ने कहा कि पिछले साल ऐतिहासिक रूप से एक मुश्किल भरे समय में हमारे कर्मचारियों ने ग्राहकों की सेवा के लिए काफी बेहतरीन प्रयास किया। आपके और आपके परिवार ने जो किया, उससे हमें प्रेरणा मिलती है। हम अब नए वित्तीय वर्ष में प्रवेश कर चुके हैं जिसमें काफी आशा और उम्मीदें हैं। चौथी तिमाही का हमारा फाइनेंशियल रिजल्ट जो शनिवार को आया था, वह अच्छा रहा है।

सेवा देने में अच्छी भूमिका अदा की है

उन्होंने ईमेल में कहा कि पिछले साल आप सभी ने सामूहिक मजबूती से बैंक की सेवाओं को ग्राहकों तक पहुंचाने में अच्छी भूमिका अदा की। हमारा ब्रांड हर और प्रत्येक कर्मचारी द्वारा परिभाषित किया जाता है। आगे भी यह जारी रहना चाहिए और ऐसे समय में आपकी सुरक्षा और आपके लोग सबसे पहले हैं। मैं उन सभी कर्मचारियों से अपील करता हूं कि वे वैक्सीन लें, जो इसके लिए फिट बैठ रहे हैं।

टेक्नोलॉजी की समस्याओं पर ध्यान देंगे

जगदीशन ने कहा कि हाल में हमने कुछ टेक्नोलॉजी की समस्याएं देखी थी, जिससे ग्राहकों को नेट बैंकिंग और मोबाइल बैंकिंग की दिक्कतें हुई थीं। उन्होंने कहा कि इसके लिए जो भी सोशल मीडिया या मीडिया में आ रहा है, उसे ध्यान में रखते हुए हमें ये देखना चाहिए कि बैंक और आईटी सिस्टम में क्या गड़बड़ी है। क्यों यह बार बार हो रहा है? हम अपने ग्राहकों को क्या जवाब दे रहे हैं? हमें इस सवाल को सुलझाना चाहिए। पिछले 28 महीनों में हमने इस तरह की 5 घटनाएं देखी हैं।

उन्होंने कहा कि बैंक अपनी क्लाउड रणनीति को तेज कर रहा है, ताकि इस क्षेत्र में बढ़त हासिल की जा सके। बैंक ने डाटा सेंटर (डीसी) की निगरानी की प्रक्रिया को मजबूत किया है और नए डीसी के लिए महत्वपूर्ण अनुप्रयोगों को स्थानांतरित कर दिया गया है।

चौथी तिमाही में 8,186 करोड़ का फायदा

HDFC बैंक को वित्त वर्ष 2020-21 की चौथी तिमाही में 8,186.51 करोड़ रुपए का मुनाफा रहा है। एक साल पहले की समान अवधि के मुकाबले बैंक के मुनाफे में 18.17% की बढ़ोतरी हुई है। मार्च 2020 में बैंक को 6,927.69 करोड़ रुपए का मुनाफा हुआ है। रेगुलेटरी फाइलिंग के मुताबिक, नेट इंटरेस्ट इनकम यानी ब्याज से कमाई बढ़ने के कारण प्रॉफिट में बढ़ोतरी रही है।

खबरें और भी हैं...