• Hindi News
  • Business
  • HDFC Mutual Fund Launches New Fund Offer (NFO) Nifty Equal Weight Index Fund

निवेश का अवसर:HDFC म्यूचुअल फंड ने लांच किया निफ्टी 50 इक्वल वेट इंडेक्स फंड, 50 टॉप कंपनियों में करेगा निवेश

मुंबई6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • निफ्टी 50 इक्वल वेट इंडेक्स अनुशासित तरीके से निवेश का अवसर दे रहा है
  • इसमें सभी स्टॉक बराबर का योगदान इंडेक्स की ग्रोथ में करेंगे

देश की लीडिंग म्यूचुअल फंड कंपनी HDFC म्यूचुअल फंड ने नया फंड ऑफर (NFO) निफ्टी इक्वल वेट इंडेक्स फंड लांच किया है। यह नई स्कीम निफ्टी की टॉप 50 कंपनियों में निवेश करेगी। यह एक ओपन एंडेड स्कीम है जो निफ्टी 50 इक्वेल वेट इंडेक्स को ट्रैक करेगी।

4 अगस्त को खुलेगा, 13 को बंद होगा

इस बारे में कंपनी ने बताया कि यह नया फंड 4 अगस्त को खुलेगा और 13 अगस्त को बंद होगा। उसके बाद फिर से खरीदी और बिक्री के लिए यह फंड खुलेगा। HDFC म्यूचुअल फंड का कुल असेट अंडर मैनेजमेंट (AUM) 4.26 लाख करोड़ रुपए है। AUM उसे कहते हैं जो निवेशकों के पैसे फंड हाउस के पास होते हैं। इस फंड का उद्देश्य निफ्टी 50 इंडेक्स की तुलना में बेहतर प्रदर्शन करना है।

सभी कंपनियों में बराबरी का निवेश होगा

इक्वल वेट इंडेक्स का मतलब सभी कंपनियों में बराबरी का निवेश होगा। HDFC म्यूचुअल फंड के पास इंडेक्स फंड को मैनेज करने का 19 सालों का लंबा ट्रैक रिकॉर्ड है। यह AUM के लिहाज से इंडेक्स फंड कैटेगरी में सबसे बड़े निवेश मैनेजर्स में से एक है।

बड़ी अर्थव्यवस्था की ग्रोथ में अवसर का तलाश करने का लक्ष्य

HDFC निफ्टी वेड इंडेक्स फंड का उद्देश्य बड़ी अर्थव्यवस्था की ग्रोथ में अवसरों को तलाश कर उनसे अनुशासित तरीके से फायदा कमाने का है। यह फंड इंडेक्स के सभी स्टॉक में निवेश करेगा, जो अर्थव्यवस्था की ग्रोथ स्टोरी में भागीदार बनने का उद्देश्य रखते हैं। यह निवेश मार्केट कैप के आधार पर नहीं होगा। HDFC निफ्टी 50 इक्वल वेट इंडेक्स फंड के सभी टॉप 50 कंपनियों में इसलिए निवेश करेगा ताकि स्टॉक में जोखिम को कम किया जा सके और सेक्टरल फोकस किया जा सके।

टॉप 50 कंपनियों में स्मार्ट तरीके से निवेश होगा

कंपनी ने कहा कि यह फंड उन निवेशकों के लिए सही होगा, जो टॉप 50 कंपनियों में स्मार्ट तरीके से निवेश करना चाहते हैं। निफ्टी 50 इक्वल वेट इंडेक्स अनुशासित तरीके से निवेश का अवसर दे रहा है जहां सभी स्टॉक बराबर का योगदान इंडेक्स की ग्रोथ में करेंगे। यह ऑटोमैटिक तरीके से हर तिमाही में स्टॉक को रीबैलेंस करेगा। साथ ही यह ऑटो प्रॉफिट बुकिंग को भी सक्षम बनाए रखेगा।

कॉर्पोरेट के फायदे में होगा सुधार

इस बारे में कंपनी के सीनियर फंड मैनेजर कृष्ण कुमार डागा ने कहा कि कॉर्पोरेट का फायदा पिछले कुछ सालों से कम रहा है। हालांकि आगे चलकर इसमें अच्छा सुधार दिखने की उम्मीद है और हाल में ऐसा हुआ भी है। इस समय बाजार का प्रदर्शन अच्छा है और इसमें अच्छा सुधार भी है। इस साल अप्रैल से जून की तिमाही में कुल 25 NFO म्यूचुअल फंड हाउस ने लांच किए हैं। इसके जरिए 7,540 करोड़ रुपए की रकम जुटाई गई है।

एक साल पहले 2020 जून में केवल 9 NFO आए थे। जून तिमाही में कुल 7 इक्विटी स्कीम ने 3,537 करोड़ रुपए जुटाए हैं। पिछले साल जून तिमाही में महज 1 स्कीम ही लांच हो पाई थी।

खबरें और भी हैं...