पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

फायदा बढ़ा लेकिन मार्जिन घटी:HUL को 2,061 करोड़ रुपए का फायदा, एक साल पहले की तुलना में 10% ज्यादा

मुंबई8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • जून 2020 में इसका फायदा 1,897 करोड़ रुपए था
  • शेयर 3% बढ़त के साथ 2,490 रुपए पर कारोबार कर रहा है

लीडिंग फास्ट मूविंग कंज्यूमर गुड्स (FMCG) कंपनी हिंदुस्तान यूनिलीवर लिमिटेड (HUL) को जून तिमाही में 2,061 करोड़ रुपए का फायदा हुआ है। एक साल पहले इसी तिमाही की तुलना में यह फायदा 10% ज्यादा है। जून 2020 में इसका फायदा 1,897 करोड़ रुपए था।

हालांकि कंपनी के मार्जिन में गिरावट आई है। कंपनी का शेयर दोपहर में 3% बढ़त के साथ 2,490 रुपए पर कारोबार कर रहा था।

रिजल्ट अनुमान के मुताबिक रहा

कंपनी ने अप्रैल-जून तिमाही का फाइनेंशियल रिजल्ट गुरुवार को जारी किया। उसका रिजल्ट विश्लेषकों के अनुमान के मुताबिक ही रहा है। साबुन से लेकर शैंपू तक बनाने वाली कंपनी के रेवेन्यू में सालाना आधार पर 13% की बढ़त हुई है। यह 11,915 करोड़ रुपए रहा है। जून 2020 में यह 10,570 करोड़ रुपए था। हालांकि मार्च तिमाही से तुलना करें तो इसके रेवेन्यू और फायदा दोनों में गिरावट रही है। मार्च में इसका रेवेन्यू 12,542 करोड़ रुपए जबकि फायदा 2,186 करोड़ रुपए था।

कंज्यूमर ग्रोथ 12% की रही

कंपनी ने बताया कि इसकी घरेलू कंज्यूमर ग्रोथ सालाना आधार पर 12% की रही है। इसके वोल्युम ग्रोथ में 9% की बढ़त रही है। कंपनी का प्रदर्शन सभी तीनों डिवीजन पर उम्मीदों के मुताबिक रहा है। यह दो अंकों में रहा है। कंपनी ने कहा कि हमारा बिजनेस फंडामेंटल मजबूत रहा है। टॉप लाइन यानी रेवेन्यू में ग्रोथ इसके फूड्स और रिफ्रेशमेंट और पर्सनल केयर सेगमेंट में तेजी से रही है। इन सेगमेंट ने 10% से ज्यादा की ग्रोथ की है।

कमोडिटी की ज्यादा कीमतों से मार्जिन प्रभावित

कंपनी का मार्जिन हालांकि प्रभावित हुआ है। इसके मार्जिन में 1.10% की गिरावट आई है और यह 24% पर रही है। ऐसा इसलिए हुआ क्योंकि हाल के समय में कमोडिटी की कीमतों में तेजी रही है। कंपनी के चेयरमैन संजीव मेहता ने कहा कि आगे चलकर, हम लगातार मांग की रिकवरी को लेकर आशावादी हैं। हमारा फोकस वोल्युम लीड कंपटीटिव ग्रोथ और हेल्थी मार्जिन पर है।

दिसंबर तिमाही में 12,235 करोड़ का रेवेन्यू

दिसंबर तिमाही में इसका रेवेन्यू 12,235 करोड़ जबकि फायदा 1,937 करोड़ रुपए रहा है। सितंबर तिमाही में इसका रेवेन्यू 11,776 करोड़ रुपए और फायदा 1,974 करोड़ रुपए का था। वित्त वर्ष 2020-21 की पहली तिमाही में कंपनी का कुल खर्च 9,546 करोड़ रुपए था जो एक साल पहले 8,324 करोड़ रुपए था।

खबरें और भी हैं...