• Hindi News
  • Business
  • IIFL NCD, JM Financial NCD, Interest Rate On Investment, Interest Rate , Bank Deposit, Bank Fixed

फायदा कमाने का मौका:NCD में पैसा लगाकर कमा सकते हैं सालाना 8.75% का ब्याज, दो कंपनियों में निवेश का है मौका

मुंबई2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

अगर आप फिक्स्ड निवेश के जरिए फायदा कमाना चाहते हैं तो दो कंपनियों में इस समय आप निवेश कर सकते हैं। दोनों कंपनियों ने नॉन कनवर्टिबल डिबेंचर (NCD) लॉन्च किया है। इसमें 8.75% तक का ब्याज मिलेगा।

NCD फिक्स्ड डिपॉजिट की तरह होता है

NCD एक तरह से फिक्स्ड डिपॉजिट की तरह होता है। इसे कंपनियां जारी करती हैं। इस समय इंडिया इंफोलाइन (IIFL) और जेएम फाइनेंशियल ने NCD जारी किया है। IIFL का NCD 18 अक्टूबर को बंद होगा। जेएम फाइनेंशियल का NCD 14 अक्टूबर को बंद होगा। हालांकि इस तरह के निवेश में थोड़ा जोखिम भी होता है। इसलिए निवेशकों को निवेश से पहले फाइनेंशियल एडवाइजर्स से सलाह लेनी चाहिए।

10-20% हिस्सा पांच साल के लिए लगा सकते हैं

फाइनेंशियल एडवाइजर्स कहते हैं कि इसमें निवेशक कुल निवेश का 10-20% हिस्सा पांच साल के लिए लगा सकते हैं। जेएम फाइनेंशियल के NCD को क्रिसिल और केयर ने AA की रेटिंग दी है। कंपनी 100 करोड़ रुपए जुटाना चाहती है। हालांकि ज्यादा रकम मिलने पर इससे 500 करोड़ रुपए तक कंपनी जुटा सकती है।

39 महीने, 60 महीने और 100 महीने के निवेश का समय

कंपनी 39 महीने, 60 महीने और 100 महीने के निवेश का समय रखा है। इसमें 60 महीने पर 8.2% और 100 महीने पर 8.3% का ब्याज देगी। IIFL फाइनेंस के NCD को क्रिसिल ने AA की रेटिंग दी है। ब्रिकवर्क ने AA प्लस निगेटिव की रेटिंग दी है। कंपनी 100 करोड़ रुपए जुटाना चाहती है। ज्यादा रकम मिलने पर इसे बढ़ाकर एक हजार करोड़ रुपए किया जा सकता है।

24 महीने के निवेश पर 8.25% का ब्याज

IIFL फाइनेंस 24 महीने के निवेश पर 8.25, 36 महीने के निवेश पर 8.5 और 60 महीने के निवेश पर 8.75% का ब्याज देगी। दोनों कंपनियों का ब्याज बैंकों की फिक्स्ड डिपॉजिट की तुलना में 70-80% ज्यादा है। इसमें फायदा यह है कि इस पर मिलने वाले ब्याज पर कोई टैक्स नहीं लगता है। ज्यादातर जानकार मानते हैं कि गैर बैंकिंग वित्तीय कंपनियों (एनबीएफसी) में ज्यादा जोखिम होता है, इसलिए ज्यादा ब्याज की लालच में निवेशकों को सारा पैसा इसमें नहीं लगाना चाहिए। कंपनियों की स्थिति और मैनेजमेंट को देखते हुए उनकी रेटिंग को भी ध्यान में रखना चाहिए।

इन दोनों कंपनियों को जो रेटिंग मिली है, वह औसत तरीके से ठीक है। किसी भी कंपनी की रेटिंग अगर AAA हो तो उसे अच्छा माना जाता है। इन दोनों कंपनियों की रेटिंग AA है। इसलिए निवेशक चाहें तो 2-3 साल के लिए कुछ रकम इन दोनों कंपनियों में लगा सकते हैं। बैंकों की डिपॉजिट की तुलना में उन्हें अच्छा ब्याज मिल जाएगा।