• Hindi News
  • Business
  • India Employment Report; India Added 1.6 Crore Jobs, Highest In Agriculture And Construction

रोजगार के मोर्चे पर राहत:भारत में 1.6 करोड़ लोगों को जुलाई में मिला जॉब, एग्री और कंस्ट्रक्शन सेक्टर सबसे आगे

मुंबईएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

रोजगार के लिहाज से जुलाई का महीना शानदार रहा। दिल्ली बेस्ड थिंक टैंक सेंटर फॉर मॉनिटरिंग इंडियन इकोनॉमी (CMIE) के मुताबिक जुलाई में 1.6 करोड़ जॉब मिले। वहीं, जून के मुकाबले सैलरीड वर्कर्स की संख्या 32 लाख घटी है।

ताजा आंकड़ों के मुताबिक एग्रीकल्चर सेक्टर में जुलाई 2021 के दौरान 1.12 करोड़ जॉब मिले। कंस्ट्रक्शन सेक्टर में 54 लाख, सर्विस सेक्टर में 5 लाख और मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर में 8 लाख रोजगार मिले।

एग्री और कंस्ट्रक्शन सेक्टर में रोजगार बढ़ा
CMIE ने कहा कि जुलाई में खेती किसानी और निर्माण कार्य में काम करने वाले मजदूरों की संख्या बढ़ी है। हालांकि, यह सभी तरह के कामों में सबसे निम्न स्तर का होता है, जो एग्री सेक्टर में अस्थाई होता है। इनमें से ज्यादातर असंगठित रोजगार है।

दूसरी ओर, सैलरीड वर्कर की संख्या जुलाई में 7.65 करोड़ रही, जोकि जून में कुल आंकड़ों से 32 लाख कम है। जुलाई का यह आंकड़ा कोरोना की दूसरी से पहले के आंकड़े से भी 36 लाख कम है।

सैलरीड वर्कर्स की संख्या प्री-कोविड लेवल से एक करोड़ घटी
जनवरी-मार्च 2021 के दौरान सैलरीड वर्कर्स की संख्या 8 करोड़ थी। जबकि कोरोना की पहली लहर से पहले इनकी संख्या 8.7 करोड़ थी। इस लिहाज से जुलाई 2021 में सैलरीड वर्कर्स की संख्या प्री-कोविड लेवल से एक करोड़ कम हो गई है। इसकी सबसे बड़ी वजह देशभर में लगे सख्त लॉकडाउन को माना जा रहा है।

बेरोजगारी दर जुलाई में 6.95% रही
CMIE के मुताबिक जुलाई में भारत की बेरोजगारी दर 6.95% रही। इसमें शहरी बेरोजगारी दर 8.30% और ग्रामीण बेरोजगारी दर 6.34% रही। इस दौरान हरियाणा में सबसे ज्यादा 28.1% रही।