पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Business
  • India GDP Growth Rate Projection 2020 Update; India's GDP Growth May Fall Below 9 Percent

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

GDP ग्रोथ:दूसरी तिमाही में 9% तक गिर सकती है GDP, प्रमुख रेटिंग एजेंसियों ने अनुमान में सुधार किए

नई दिल्ली6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
इक्रा की मुख्य अर्थशास्त्री अदिति नायर ने कहा कि दूसरी तिमाही में निर्माण और मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर में उम्मीद से बेहतर रिकवरी दर्ज की गई है। इससे इंड्रस्ट्रियल ग्रॉस वैल्यू एडेड (GVA) में भी सुधार की उम्मीद है।
  • दूसरी तिमाही के GDP आंकड़े 27 नवंबर को पेश किए जा सकते हैं
  • पहली तिमाही में GDP 23.9% की ऐतिहासिक गिरावट दर्ज की गई थी

देश के कई क्षेत्रों में दूसरी तिमाही के दौरान आर्थिक सुधार के संकेत दिख रहे हैं। ऐसे में रेटिंग एजेंसियों ने दूसरी तिमाही के लिए अनुमान पेश किए हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक चालू वित्त वर्ष (2020-21) की दूसरी तिमाही के GDP आंकड़े 27 नवंबर को पेश किए जा सकते हैं। इसे सेंट्रल स्टेटस्टिक्स ऑफिस (CSO) द्वारा जारी किया जाएगा।

इकोनॉमी में सुधार

रेटिंग एजेंसी इक्रा (ICRA) ने गुरुवार को कहा कि दूसरी तिमाही में GDP पिछले साल की तुलना में 9.5% नीचे गिर सकता है। क्योंकि अनलॉक प्रक्रिया के तहत सरकार ने कई रियायतें दी हैं। इससे कारोबारी सक्रियता बढ़ी है। इससे पहले सख्त लॉकडाउन के चलते पहली तिमाही में GDP 23.9% की ऐतिहासिक गिरावट दर्ज की गई थी। इक्रा की मुख्य अर्थशास्त्री अदिति नायर ने कहा कि दूसरी तिमाही में निर्माण और मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर में उम्मीद से बेहतर रिकवरी दर्ज की गई है। इससे इंड्रस्ट्रियल ग्रॉस वैल्यू एडेड (GVA) में भी सुधार की उम्मीद है।

दूसरी तिमाही में GDP गिरावट

इन्वेस्टमेंट बैंक बार्केलेज ने गुरुवार को दूसरी तिमाही में भारतीय GDP ग्रोथ में गिरावट के पूर्वानुमान को बदला है। बैंक के नए अनुमान के मुताबिक भारत की GDP ग्रोथ 8.5% नीचे गिर सकती है। वहीं, वित्त वर्ष 2021 की तीसरी तिमाही के लिए GDP में 0.4% ग्रोथ का अनुमान है। बैंक ने पहले 2.1% की ग्रोथ का अनुमान दिया था। बैंक के मुताबिक अगले वित्त वर्ष (FY2021-22) में भारत की GDP में 8.5% की ग्रोथ देखने को मिल सकती है। बैंक ने कहा कि मैन्युफैक्चरिंग सेगमेंट में हालिया सुधार प्री-कोविड स्तर के भी पार पहुंच गया है।

सरकार के महत्वपूर्ण कदम

पूर्व मुख्य आर्थिक सलाहकार अरविंद विरमानी ने कहा कि वित्त वर्ष 2021-22 में भारत की इकॉनमी की ग्रोथ रेट बेहतर रह सकती है। उन्होंने कहा कि देश की इकोनॉमी में चालू वित्त वर्ष में 7.5% नीचे गिर सकती है। एक वर्चुअल इवेंट में विरमानी ने कहा कि केंद्र सरकार GST, बैंक करप्सी एंड क्रेडिट इंसॉल्वेंसी कोड और मौद्रिक नीति समिति के गठन सहित कुछ महत्वपूर्ण सुधार किए हैं, जिसका असर आने वाले सालों में दिख सकता है।

प्रमुख रेटिंग एजेंसियों ने बदले अनुमान

मूडीज इनवेस्टर सर्विस ने हाल ही में अपने अनुमान बदलाव कर में भारत की GDP ग्रोथ रेट में 8.9% गिरावट का अनुमान जताया है। भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने भी देश की इकोनॉमी में चालू वित्त वर्ष में 9.5% गिरावट का अनुमान जताया है। भारत की इकोनॉमी में अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) ने 10.3% और विश्व बैंक ने 9.6% गिरावट की उम्मीद जताई है। पिछले महीने हुए रॉयटर्स पोल के मुताबिक वित्त वर्ष 2021-22 के लिए GDP ग्रोथ 9% रहने का अनुमान है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- परिस्थिति तथा समय में तालमेल बिठाकर कार्य करने में सक्षम रहेंगे। माता-पिता तथा बुजुर्गों के प्रति मन में सेवा भाव बना रहेगा। विद्यार्थी तथा युवा अपने अध्ययन तथा कैरियर के प्रति पूरी तरह फोकस ...

और पढ़ें