• Hindi News
  • Business
  • Aditya Puri, HDFC Bank MD Join Top Highest Paid Private Bank CEO {Updated} List: Aditya Puri, Chanda Kochhar, Amitabh Ch

वेतन / एचडीएफसी बैंक के आदित्य पुरी हैं सबसे ज्यादा वेतन पाने वाले बैंकर, 89 लाख रुपए महीना है उनकी सैलरी



HDFC बैंक के MD और CEO आदित्य पुरी। HDFC बैंक के MD और CEO आदित्य पुरी।
X
HDFC बैंक के MD और CEO आदित्य पुरी।HDFC बैंक के MD और CEO आदित्य पुरी।

  • एक्सिस बैंक के CEO अमिताभ चौधरी सबसे ज्यादा वेतन पाने वाले दूसरे बैंकर हैं
  • कोटक महिंद्रा के उदय कोटक 27 लाख रुपए मासिक वेतन के साथ तीसरे नंबर पर हैं
  • ICICI बैंक की पूर्व प्रमुख चंदा कोचर को इस लिस्ट में चौथे स्थान पर रखा गया है

Dainik Bhaskar

Aug 13, 2019, 12:48 PM IST

बिजनेस डेस्क. देश के प्रमुख निजी बैंकों की ओर से जारी एक रिपोर्ट के मुताबिक HDFC बैंक के मैनेजिंग डायरेक्टर आदित्य पुरी भारत में सबसे ज्यादा वेतन पाने वाले बैंकिंग CEO बने हुए हैं। वित्तीय वर्ष 2019 के लिए उनका मासिक वेतन 89 लाख रुपए है। पुरी पिछले 25 सालों से यानीकि बैंक की स्थापना के समय से ही इसका नेतृत्व कर रहे हैं। वेतन के मामले में दूसरे नंबर पर एक्सिस बैंक के CEO अमिताभ चौधरी हैं, हालांकि उनका वेतन आदित्य पुरी के मुकाबले आधे से भी कम हैं। अमिताभ का मासिक मूल वेतन 30 लाख रुपए है। उन्होंने इस साल जनवरी से ही इस पद को संभाला है। इस रिपोर्ट के मुताबिक बैंक CEO का वेतन फिक्स्ड-पे-कंपोनेंट, वेरिएबल-पे-कंपोनेंट और स्टॉक ऑपशन्स के आधार पर तय होता है। 

 

कोटक महिंद्रा बैंक के उदय कोटक सबसे ज्यादा वेतन पाने वाले भारत के तीसरे बैंकिंग CEO हैं। उनका मासिक मूल वेतन 27 लाख रुपए है। चौथे नंबर पर ICICI बैंक की पूर्व प्रमुख चंदा कोचर हैं, नौकरी से बाहर किए जाने से पहले तक उनका वेतन 26 लाख रुपए महीना था। उनके बाद बैंक की जिम्मेदारी संभालने वाले संदीप बक्शी वेतन के मामले में पांचवें नंबर पर हैं, वे 22 लाख रुपए महीना वेतन लेते हैं। पिछले साल अक्टूबर में जब चंदा कोचर ने अपना पद छोड़ दिया था, तब संदीप बक्शी को बैंक का MD और CEO बनाया गया था। इससे पहले वे बैंक में COO (चीफ ऑपरेटिंग ऑफीसर) की भूमिका में थे। इंडसइंड बैंक के चीफ रोमेश सोब्ती 16 लाख रुपए मासिक वेतन के साथ लिस्ट में छठी पोजिशन पर हैं।

 

वार्षिक वेतन के आधार निकाला औसत

 

रिपोर्ट के मुताबिक इन अधिकारियों के मासिक वेतन की गणना उनके वार्षिक मूल वेतन (एनुअल बेसिक पे) के औसत के आधार पर की गई है। यानीकि साल के बारह महीनों में से जितने महीने उस शख्स ने बैंक में पद संभाला है, उतने महीने का औसत निकाला गया है। इसके अलावा रिपोर्ट में जो डाटा दिया गया है, उसमें बैंक की ओर से इन अधिकारियों को मिलने वाले अन्य फायदों (पर्क्स) और सुविधाओं को शामिल नहीं किया गया है। क्योंकि इनका निर्धारण अलग-अलग बैंक अलग-अलग तरीकों से करते हैं।

 

यस बैंक के CEO का वेतन नहीं है शामिल

 

इस लिस्ट में यस बैंक के CEO रवनीत गिल और पूर्व CEO राना कपूर का नाम शामिल नहीं है। दरअसल बैंक ने इन दोनों का कंसोलिडेटेड (संयुक्त) डाटा जारी किया है, जिसमें उन्हें मिलने वाले सभी अतिरिक्त लाभ, भविष्यनिधि में उनका हिस्सा और मेडिक्लेम जैसे अन्य फायदे भी शामिल हैं। कंपनी की ओर से जारी वार्षिक रिपोर्ट में मार्च महीने के लिए गिल का मासिक वेतन 59 लाख बताया गया है। वहीं जनवरी तक बीते 10 महीनों के दौरान राना कपूर का सकल वेतन 6.48 करोड़ रुपए था।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना