ट्रे़ड डाटा:अप्रैल से फरवरी के दौरान कोल आयात में 14% की गिरावट, इस अवधि में 196.13 मिलिटन टन कोयला भारत पहुंचा

नई दिल्ली8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
थर्मल कोल आयात में गिरावट और अंतरराष्ट्रीय मार्केट में ज्यादा फ्रेट रेट के कारण फरवरी में कोयले के आयात में बड़ी कमी आई है। - Dainik Bhaskar
थर्मल कोल आयात में गिरावट और अंतरराष्ट्रीय मार्केट में ज्यादा फ्रेट रेट के कारण फरवरी में कोयले के आयात में बड़ी कमी आई है।
  • पिछले साल अप्रैल से फरवरी के दौरान 227.23 मिलियन टन कोयले का आयात हुआ था
  • फरवरी 2021 में सिर्फ 15.29 मिलियन टन कोयले का आयात हुआ है

चालू वित्त वर्ष में अप्रैल 2020 से फरवरी 2021 के दौरान कोयला आयात में 13.6% की गिरावट आई है। इस अवधि के दौरान चालू वित्त वर्ष में देश में 196.13 मिलियन टन कोयले के आयात हुआ है। एक साल पहले समान अवधि में देश में 227.23 मिलियन टन कोयले का आयात हुआ था। टाटा स्टील और SAIL के जॉइंट वेंचर एमजंक्शन की ताजा रिपोर्ट से यह जानकारी सामने आई है। एमजंक्शन एक बी2बी ई-कॉमर्स कंपनी है और कोयला-स्टील संबंधी रिपोर्ट प्रकाशित करती है।

128.91 मिलियन टन नॉन-कोकिंग कोल का आयात

रिपोर्ट के मुताबिक, अप्रैल-फरवरी 2020-21 के दौरान कुल 196.13 मिलियन टन कोयला और कोक उत्पादों का आयात हुआ है। यह अप्रैल-फरवरी 2019-20 के 227.23 मिलियन टन के मुकाबले 13.69% कम है। अप्रैल-फरवरी 2020-21 के दौरान 128.91 मिलियन टन नॉन-कोकिंग कोल का आयात हुआ है। एक साल पहले समान अवधि में यह आयात 157.59 मिलियन टन था। इस अवधि में कोकिंग कोल का आयात 43.98 मिलियन टन रहा है। एक साल पहले समान अवधि में 45.17 मिलियन टन कोकिंग कोल का आयात हुआ था।

फरवरी 2021 में 15.29 मिलियन टन कोयले का आयात

फरवरी 2021 में 15.29 मिलियन टन कोयले का आयात हुआ है। एक साल पहले यानी फरवरी 2020 में 22.68 मिलियन टन कोयले का आयात हुआ था। फरवरी 2021 के नॉन-कोकिंग कोल का आयात 9.07 मिलियन टन रहा है। एक साल पहले समान अवधि में 16.94 मिलियन टन नॉन-कोकिंग कोल का आयात हुआ था। फरवरी में कोकिंग कोल का आयात 4.82 मिलियन टन रहा है। एक साल पहले समान अवधि में 4.02 मिलियन टन कोकिंग कोल का आयात हुआ था।

ज्यादा फ्रेट रेट के कारण घटा आयात

रिपोर्ट में कहा गया है कि थर्मल कोल आयात में गिरावट और अंतरराष्ट्रीय मार्केट में ज्यादा फ्रेट रेट के कारण फरवरी में कोयले के आयात में बड़ी कमी आई है। एमजंक्शन सर्विसेज के MD और CEO विनय वर्मा का कहना है कि चालू वित्त वर्ष में देश का कोल आयात 210-215 मिलियन टन के आसपास रह सकता है।

खबरें और भी हैं...