पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

इंफोसिस का रेवेन्यू 12.3% बढ़ा:प्रॉफिट 16.6% बढ़ कर 5,197 करोड़ रुपए रहा, विप्रो को 2,966 करोड़ का फायदा

नई दिल्ली6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
इंफोसिस ने FY21 के लिए रेवेन्यू में 4.5%-5.0% बढ़ोतरी का अनुमान दिया, विप्रो ने मार्च 2021 तिमाही में IT सर्विसेज बिजनेस के लिए QoQ 1.5%-3.5% रेवेन्यू ग्रोथ का अनुमान दिया - Dainik Bhaskar
इंफोसिस ने FY21 के लिए रेवेन्यू में 4.5%-5.0% बढ़ोतरी का अनुमान दिया, विप्रो ने मार्च 2021 तिमाही में IT सर्विसेज बिजनेस के लिए QoQ 1.5%-3.5% रेवेन्यू ग्रोथ का अनुमान दिया
  • इंफोसिस का ऑपरेटिंग मार्जिन 25.4% और विप्रो का 21.7% रहा
  • इंफोसिस का एट्रीशन रेट 10% रहा, जबकि विप्रो का 11% रहा
  • विप्रो ने हर शेयर पर 1 रुपया का डिविडेंड दिया, इंफोसिस ने कोई डिविडेंड नहीं दिया

देश की दो दिग्गज IT सर्विसेज कंपनियों इंफोसिस और विप्रो ने बुधवार को दिसंबर तिमाही का दमदार फाइनेंशियल रिजल्ट जारी किया। इंफोसिस का नेट प्रॉफिट जहां YoY 16.6% बढ़ा, वहीं विप्रो का प्रॉफिट YoY 20.8% बढ़ा। देश की सबसे बड़ी IT कंपनी TCS ने भी पिछले दिनों जारी किए गए अपने तिमाही नतीजे में कहा था कि दिसबर तिमाही में उसका नेट प्रॉफिट साल-दर-साल आधार पर 7.2 फीसदी बढ़ा है।

दिसंबर तिमाही को IT सर्विस कंपनियों के लिए कमजोर तिमाही माना जाता है, क्योंकि दुनियाभर में इस दौरान कई छुटि्टयां होती हैं। लेकिन कोरोनावायरस और लॉकडाउन के कारण इस बार दिसंबर तिमाही में ही कारोबारी गतिविधियां शुरू हुई हैं। तीनों प्रमुख IT सर्विस कंपनियों ने दिसंबर तिमाही में कई साल का सबसे मजबूत रिजल्ट दिया है।

इंफोसिस के रेवेन्यू में डिजिटल सेगमेंट का हिस्सा 50% के पार पहुंचा

इंफोसिस ने कहा कि उसका नेट प्रॉफिट दिसंबर तिमाही में साल-दर-साल आधार पर 16.6% और तिमाही-दर-तिमाही आधार पर 7.3 फीसदी बढ़कर 5,197 करोड़ रुपए रहा। कंपनी का रेवेन्यू इस दौरान YoY 12.3% और QoQ 5.5% बढ़कर 25,927 करोड़ रुपए रहा। इस दौरान कंपनी के टोटल रेवेन्यू में डिजिटल रेवेन्यू का हिस्सा 50% के पार पहुंच गया।

इंफोसिस का ऑपरेटिंग मार्जिन 25.4% रहा

इंटरनेशनल फाइनेंशियल रिपोर्टिंग स्टैंडर्ड (IFRS) के मुताबिक रुपए के वैल्यू में कंपनी का ऑपरेटिंग मार्जिन 25.4% रहा। IT सर्विसेज सेगमेंट का वॉलंट्री एट्रीशन 10% रहा, जो एक साल पहले की समान तिमाही में 15.8% था। कंपनी ने इस पूरे कारोबारी साल के लिए अपने रेवेन्यू में 4.5%-5.0% बढ़ोतरी और ऑपरेटिंग मार्जिन 24.0%-24.5% रहने का अनुमान दिया है। कंपनी ने दिसंबर तिमाही में कोई डिविडेंड नहीं दिया।

इंफोसिस में 38.3% महिला कर्मचारी

इंफोसिस ने कहा कि उसके कर्मचारियों में 38.3% महिला कर्मचारी हैं। कंपनी के पास दिसंबर तिमाही में कुल 2,49,312 कर्मचारी थे। इस दौरान कंपनी का एट्र्रीशन रेट (नौकरी छोड़ने वाले) 10 फीसदी रहा।

विप्रो का नेट प्रॉफिट सितंबर तिमाही के मुकाबले 20.3% बढ़ा

IFRS के मुताबिक दिसंबर तिमाही में विप्रो का नेट प्रॉफिट YoY 20.8% बढ़कर 2,966.7 करोड़ रुपए रहा, जो एक साल पहले की समान अवधि में 2,455.8 करोड़ रुपए था। सितंबर तिमाही के मुकाबले कंपनी का नेट प्रॉफिट 20.3% बढ़ा है। ग्रॉस रेवेन्यू YoY 1.3% बढ़कर 15670 करोड़ रुपए रहा, जो सितंबर तिमाही के मुकाबले 3.7% ज्यादा है।

विप्रो का ऑपरेटिंग कैश फ्लो YoY 45% बढ़ा

विप्रो की प्रति शेयर आय साल-दर-साल आधार पर 20.7% बढ़कर 5.21 रुपए रही। कंपनी का ऑपरेटिंग कैश फ्लो 4,430 करोड़ रुपए रहा, जो नेट प्रॉफिट का 149.4% है। ऑपरेटिंग कैश फ्लो साल-दर-साल आधार पर 45% बढ़ा है।

विप्रो के IT सर्विसेज का रेवेन्यू QoQ 3.9% बढ़ा

विप्रो के IT सर्विसेज का रेवेन्यू QoQ 3.9% बढ़ा, जो पिछले 9 साल की सबसे तेज रफ्तार है। IT सेगमेंट का ऑपरेटिंग मार्जिन 21.7% रहा, जो 22 तिमाहियों में सबसे ज्यादा है। मार्च 2021 तिमाही में कंपनी ने IT सर्विसेज बिजनेस के लिए दिसंबर तिमाही के मुकाबले 1.5%-3.5% रेवेन्यू ग्रोथ का अनुमान दिया।

विप्रो के कर्मचारियों की कुल संख्या 1,90,308 रही

विप्रो के कर्मचारियों की कुल संख्या दिसंबर तिमाही में 1,90,308 रही और एट्रीशन रेट 11% रहा। कंपनी ने अपने हर शेयर पर 1 रुपया का अंतरिम लाभांश देगी। लाभांश के लिए रिकॉर्ड डेट 25 जनवरी 2021 है। 2 फरवरी तक शेयरधारकों को लाभांश का भुगतान हो जाएगा।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज का अधिकतर समय परिवार के साथ आराम तथा मनोरंजन में व्यतीत होगा और काफी समस्याएं हल होने से घर का माहौल पॉजिटिव रहेगा। व्यक्तिगत तथा व्यवसायिक संबंधी कुछ महत्वपूर्ण योजनाएं भी बनेगी। आर्थिक द...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser