सलिल पारेख के हाथ में ही रहेगी इंफोसिस की कमान:इंफोसिस ने पारेख को दोबारा MD-CEO नियुक्त किया, 2027 तक इस पद पर रहेंगे

नई दिल्ली3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

भारत की दूसरी सबसे बड़ी सॉफ्टवेयर फर्म इंफोसिस ने रविवार को कहा है कि उसके बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स ने 1 जुलाई 2022 से 31 जुलाई 2027 तक कंपनी ने चीफ एग्जीक्यूटिव ऑफिसर ( CEO) और मैनेजिंग डायरेक्टर (MD) के रूप में सलिल पारेख को फिर से नियुक्त किया है।

बता दें कि सलिल पारेख कंपनी में साल 2018 से बतौर CEO और MD काम कर रहे हैं। पिछले 4 साल से वो कंपनी का नेतृतव कर रहे हैं। इससे पहले पारेख ने कैपजेमिनी में ग्रुप एग्जीक्यूटिव बोर्ड के सदस्य थे। यहां उन्होंने 25 साल तक कई पदों पर काम किया। पारेख के पास आईटी सेक्टर में काम करने का करीब 30 साल से अधिक का अनुभव है।

एम्प्लॉई स्टॉक ऑनरशिप भी दी
इसके अलावा कंपनी के बोर्ड ने कंपनी के मैनेजमेंट टीम के टॉप 6 लोगों को कंपनी की ESOP के तहत 1,04,000 शेयर मंजूर किए हैं। इसके अलावा 88 दूसरे सीनियर एग्जीक्यूटिव्स को भी एम्प्लॉई स्टॉक ऑनरशिप (ESOP) के तहत 3,75,760 शेयरों को जारी करने की मंजूरी दी है। कंपनी ने यह कदम अपने काबिल कर्मचारियों को कंपनी में रोके रहने की कोशिश के तहत उठाया है। दरअसल, आईटी इंडस्ट्री में इस समय पहले से ही भारी मारी-मा री देखने को मिल रही है। इसके चलते हाल की तिमाहियों में कंपनियों के एट्रिशन रेट में इजाफा देखने को मिला था।

इन्फोसिस के अब तक के सीईओ

  • नारायण मूर्ति 1981 से मार्च 2002
  • नंदन नीलेकणी मार्च 2002 से अप्रैल 2007
  • क्रिस गोपालकृष्णन अप्रैल 2007 से अगस्त 2011
  • एसडी शिबुलाल अगस्त 2011 से जुलाई 2014
  • विशाल सिक्का अगस्त 2014 से अगस्त 2017
  • यूबी प्रवीण राव अगस्त 2017 से जनवरी 2018
  • सलिल पारेख 2 जनवरी 2018 से अब तक