पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सोना खरीदने का सही समय:अगली अक्षय तृतीया तक 60 हजार पर पहुंच सकता है सोना, इसमें निवेश करना रहेगा फायदेमंद

नई दिल्ली3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

अक्षय तृतीया के दिन हमारे देश में सोना खरीदना शुभ माना जाता है। इस साल 14 मई को ये त्योहार मनाया जाएगा। लेकिन लॉकडाउन के कारण कई राज्यों में इस साल भी सराफा बाजार बंद है। हालांकि कई ज्वेलर्स ने ऑनलाइन शॉपिंग की व्यवस्था की है। अभी सोना 48 हजार पर है और एक्सपर्ट्स का मानना है कि आने वाले 1 साल में सोना 60 हजार तक जा सकता है। ऐसे में इस अक्षय तृतीया सोना खरीदना या इसमें निवेश आपको मोटा मुनाफा दिला सकता है।

अगली अक्षय तृतीया तक 60 हजार तक जा सकता है सोना
केडिया कमोडिटी के डायरेक्टर अजय केडिया कहते हैं कि देश में कोरोना लगातार बढ़ रहा है। इससे भी लोगों में कोरोना के प्रति फिर से डर का माहौल है। इसके अलावा देश में महंगाई भी बढ़ने लगी है। इससे भी सोने के दाम आने वाले दिनों में बढ़ेंगे। अगर ऐसा ही माहौल रहा तो 2022 की अक्षय तृतीया तक सोना 60 हजार रुपए पर पहुंच सकता है।

IIFL सिक्योरिटीज के वाइस प्रेसिडेंट (कमोडिटी एंड करेंसी) अनुज गुप्ता कहते हैं कि अभी कोरोना के कारण दुनियाभर में अनिश्चितता का माहौल बना हुआ है। ऐसे में इसका फायदा सोने को मिल सकता है। आने वाले महीनों में सोना फिर 55 हजार के पार जा सकता है।

बीते 1 साल में सोना 11% महंगा हुआ
पिछले साल अक्षय तृतीया 26 अप्रैल 2020 को थी तब सोना 43,020 रुपए प्रति 10 ग्राम पर था, जो अब 47,764 रुपए पर है। यानी बीते 1 साल में सोना करीब 11% महंगा हुआ है। जो किसी भी बैंक की फिक्स्ड डिपॉजिट से ज्यादा है।

अक्षय तृतीया पर 15 टन सोना बिकता था पिछली साल 1 टन ही बिका
इंडिया बुलियन एंड ज्वेलर्स एसोसिएशन (IBJA) के नेशनल सेक्रेटरी सुरेंद्र मेहता कहते हैं कि कोरोना के कारण बीते 1 साल से ज्यादा समय से सराफा बाजार ठीक से नहीं खुल सकता है। साल 2020 में अक्षय तृतीया अप्रैल में थी और तब पूरे देश में लॉकडाउन लगा हुआ था। इस कारण तक सोने की बिक्री काफी कम हुई थी।

सुरेंद्र मेहता के अनुसार अक्षय तृतीया पर आमतौर पर 15 टन के करीब सोना बिकता था। लेकिन पिछले साल सिर्फ 1 टन सोने के करीब ही बिका था। हालांकि इस साल 3 टन सोना बिकने की उम्मीद है। क्योंकि इस बार ज्यादातर ज्वेलर्स ने ऑनलाइन ज्वेलरी बेचने की व्यवस्था की है। इससे बिक्री बढ़ सकती है।

क्यों महंगा हो रहा सोना?

  • कोरोना के कारण दुनियाभर में अनिश्चितता का माहौल बना हुआ है। इसके शेयर बाजार में ज्यादा उतार-चढ़ाव होत रहा है। माना जाता है कि इस दौरान निवेशक शेयरों से पैसा निकालकर सोने में निवेश करते हैं। इससे भी सोने के दाम बढ़ने लगते हैं।
  • अंतरराष्ट्रीय बाजार में डॉलर कमजोर हो रहा है। इतना ही नहीं रुपया भी डॉलर के मुकाबले कमजोर हुआ है। इससे भी सोने को सपोर्ट मिल रहा है।
  • चीन में बैंकों को सोना इंपोर्ट करने की मंजूरी से आने वाले दिनों में सोने-चांदी में तेजी देखने को मिल सकती है।
  • अंतरराष्ट्रीय बाजार में भी सोने के दाम तेजी से बढ़ने लगे हैं। सोने की कीमत 1,835 अमेरिकी डॉलर प्रति औंस के पार निकल गया है। 1 अप्रैल को सोना 1,730 अमेरिकी डॉलर पर था।
  • खुदरा और थोक महंगाई दर के आंकड़ों भी 8 साल के उच्चतम स्तर पर आ गए हैं। जिससे सोना और चांदी को सपोर्ट मिल रहा है।