पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Business
  • Invest In PPF Or National Savings Certificate Scheme Of Post Office For Higher Interest Than Fixed Deposit

आपके फायदे की बात:फिक्स्ड डिपॉजिट से ज्यादा ब्याज के लिए पोस्ट ऑफिस की PPF या नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट स्कीम में करें निवेश

नई दिल्ली25 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

पोस्ट ऑफिस की कई स्कीम्स में आपको फिक्स्ड डिपॉजिट (FD) से ज्यादा ब्याज मिल रहा है। इन्हीं स्कीम्स में पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF) और नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट (NSC) भी शामिल हैं। इनमें आप 80C के तहत 1.5 लाख रुपए तक के निवेश पर टैक्स बचा सकते हैं। देश का सबसे बड़ा बैंक SBI फिक्स्ड डिपॉजिट पर अधिकतम 5.4% ब्याज दे रहा है। आज हम आपको इन दोनों स्कीम्स के बारे में बता रहे हैं। इनमें आपको FD से ज्यादा ब्याज मिलेगा और पैसा भी सुरक्षित रहेगा।

PPF पर मिल रहा 7.1% ब्याज

  • पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF) खोला तो केवल 500 रुपए से जा सकता है, लेकिन फिर बाद में हर साल 500 रुपए एक बार में जमा करना जरूरी है। इस अकाउंट में हर साल अधिकतम 1.5 लाख रुपए ही जमा किए जा सकते हैं।
  • यह स्कीम 15 साल के लिए है, जिससे बीच में नहीं निकला जा सकता है। लेकिन इसे 15 साल के बाद 5-5 साल के लिए बढ़ाया जा सकता है।
  • इसे 15 साल के पहले बंद नहीं किया जा सकता है, लेकिन 3 साल बाद से इस अकाउंट के बदले लोन लिया जा सकता है।
  • ब्याज दरों की समीक्षा हर तीन माह में सरकार करती है। यह ब्याज दरें कम या ज्यादा हो सकती है। फिलहाल इस अकाउंट पर 7.1% ब्याज मिल रहा है।
  • इन योजना में निवेश के जरिए 80C के तहत 1.5 लाख रुपए तक टैक्स की छूट का लाभ लिया जा सकता है।
  • PPF इनकम टैक्स की EEE कैटेगरी के अंतर्गत आता है। इसका मतलब यह है कि रिटर्न, मैच्योरिटी राशि और ब्याज से इनकम पर आयकर छूट मिलती है। अधिक जानकारी के लिए यहां क्लिक करें

NSC में मिल रहा 6.8% ब्याज

  • पोस्ट ऑफिस नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट (NSC) में निवेश पर 6.8% सालाना ब्याज मिल रहा है।
  • इसमें ब्याज की गणना सालाना आधार पर होती है, लेकिन ब्याज की राशि निवेश की अवधि होने पर ही दी जाती है।
  • NSC अकाउंट खुलवाने के लिए आपको न्यूनतम 1000 रुपए निवेश करना होगा।
  • इस खाते को किसी नाबालिग के नाम पर और 3 वयस्कों के नाम पर जॉइंट अकाउंट भी खोला जा सकता है।
  • 10 साल से ज्यादा उम्र के माइनर के नाम भी अभिभावक की देखरेख में खाता खुल सकता है।
  • इसका मैच्योरिटी पीरियड 5 साल है। इससे पहले आप स्कीम से बाहर नहीं निकल सकते हैं।
  • इन योजना में निवेश के जरिए 80C के तहत 1.5 लाख रुपए तक टैक्स की छूट का लाभ लिया जा सकता है।
  • आप NSC में कितनी भी रकम निवेश कर सकते हैं। इसमें निवेश की कोई अधिकतम सीमा नहीं है। अधिक जानकारी के लिए यहां क्लिक करें

कहां निवेश करना रहेगा सही?
दोनों ही जगह निवेश करना पूरी तरह सुरक्षित रहेगा। अगर ब्याज की बात की जाए तो PPF में नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट स्कीम की तुलना में ज्यादा ब्याज मिल रहा है। लेकिन इसमें 15 साल का लॉक-इन रहता है। NSC में लॉक-इन 5 साल का ही रहता है। PPF इनकम टैक्स की EEE कैटेगरी के अंतर्गत आता है। इसका मतलब यह है कि रिटर्न, मैच्योरिटी राशि और ब्याज से इनकम पर आयकर छूट मिलती है। वहीं NSC में सिर्फ निवेश पर ही टैक्स बचा सकते हैं। आप अपने हिसाब से इन दोनों स्कीम्स में निवेश कर सकते हैं।