पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Business
  • IPO News; Gland Pharma IRFC RailTel Including 30 Companies Raise Over Rs 31277 Crore In Financial Year 2020 21

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

जारी रहेगी IPO की धूम:निवेशकों को नए वित्त वर्ष में 32 IPO में निवेश का मिलेगा मौका, पिछले साल लॉन्च हुए 30 इश्यू

मुंबईएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

शेयर बाजार में उतार-चढ़ाव के बीच निवेशकों के लिए IPO में निवेश के लगातार मौके मिल रहे हैं। इससे एक तरफ कंपनिया तो रकम जुटा ही रही हैं, दूसरी ओर निवेशकों की जेब भी भर रही है। पिछला वित्त वर्ष इसका अच्छा उदाहरण रहा, जिसमें कुल 30 कंपनियों ने IPO लॉन्च हुए और 31 हजार करोड़ रुपए से ज्यादा के फंड जुटाए।

13 साल बाद 3 महीने में IPO के जरिए जुटाए करीब 16 हजार करोड़ रुपए
खास बात यह है कि 2021 के शुरुआती 3 महीने में ही कंपनियों ने IPO के जरिए करीब 16 हजार करोड़ रुपए से ज्यादा फंड जुटाए हैं। डेटा के मुताबिक 2008 के बाद पिछले 13 सालों में किसी भी साल के शुरुआती 3 महीनों में IPO के द्वारा भारतीय कंपनियों द्वारा जुटाई गई यह सबसे बड़ी रकम है

तीन साल बाद IPO लॉन्चिंग में होड़
2020-21 के दौरान लॉन्च हुए IPO की संख्या और साइज के लिहाज से यह तीन साल में सबसे ज्यादा है। इससे पहले वित्त वर्ष 2017-18 के दौरान 45 IPO खुले थे। जबकि वित्त वर्ष 2019-20 में 13 कंपनियों ने IPO के जरिए 20,352 करोड़ रुपए और वित्त वर्ष 2018-19 में 14 कंपनियों ने अपने पब्लिक इश्यू के जरिए 14,719 करोड़ रुपए जुटाए थे।

31 मार्च को समाप्त वित्त वर्ष में सबसे बड़ा IPO ग्लैंड फार्मा ने अपने IPO से 6,480 करोड़ रुपए जुटाए। इसके बाद सरकारी कंपनी इंडियन रेलवे फाइनेंस कॉर्पोरेशन यानी IRFC ने 4,633 करोड़ रुपए जुटाए। इसके अलावा एंजेल ब्रोकिंग, कल्याण ज्वैलर्स, रोस्सारी बायोटेक, होम फर्स्ट फाइनेंस कंपनी, रेलटेल कॉर्पोरेशन, बार्बीक्यू नेशन और सूर्योदय स्मॉल फाइनेंस कॉर्पोरेशन ने IPO लॉन्च किए।

MTAR टेक को निवेशकों से मिला जबरदस्त रिस्पांस
इस दौरान निवेशकों ने चुनिंदा इश्यू पर ज्यादा फोकस किया। सब्सक्रिप्सन के लिहाज से MTAR टेक का IPO सबसे ज्यादा 200 गुना सब्सक्राइब हुआ था। वहीं, मिसेस बैक्टर्स फूड का इश्यू 198 गुना सब्सक्राइब हुआ था। दूसरी ओर अन्य 8 IPO 100 गुना से ज्यादा सब्सक्राइब हुए, जिनमें बर्गर किंग, मझगांव डॉक शिपबिल्डर्स, हैपिएस्ट माइंड्स, लक्ष्मी ऑर्गोनिक इंडस्ट्रीज, नजारा टेक, इजी ट्रिप प्लानर्स, इंडियो पेंट्स और केमकॉन स्पेशियलिटी केमिकल्स के IPO शामिल हैं।

ज्यादा IPO आने की मुख्य वजह

  • भारी मात्रा में विदेशी निवेश
  • मजबूत कॉर्पोरेट अर्निंग
  • केंद्र सरकार द्वारा खर्च भारी

रकम जुटाने में भारतीय कंपनियां दुनिया के टॉप देशों में शुमार
मार्केट एक्सपर्ट्स के मुताबिक विदेशी संस्थागत निवेशकों (FII) और नए रिटेल निवेशकों ने पिछले 1 साल में IPO में दिल खोलकर निवेश किया है, जिससे 2020 में IPO के जरिये फंड्स जुटाने में भारत, अमेरिका और चीन के बाद तीसरे नंबर पर रहा और यह सिलसिला आगे भी जारी रहेगा। नतीजतन चालू वित्त वर्ष 2021-22 में कम से कम 32 कंपनियां IPO लॉन्च होने को तैयार हैं, जो करीब 41 हजार करोड़ रुपए जुटाएंगी।

आगे भी निवेशकों के लिए निवेश के मौके
IPO लाने के लिए LIC, HDB फाइनेंशियल सर्विसेज, NCDEX, ESAF स्मॉल फाइनेंस बैंक, जोमैटो जैसी कई कंपनियां कतार में हैं। मार्केट रेगुलेटर सेबी ने 18 कंपनियों को IPO लॉन्च करने को मंजूरी दे दी है, जबकि 14 कंपनियों को IPO लॉन्च करने के लिए मंजूरी का इंतजार है।

आने वाले दिनों में जन स्मॉल फाइनेंस बैंक, सेवेन आइलैंड्स शिपिंग सहित लोढ़ा डेवलपर्स के IPO भी लॉन्च होंगे। इसमें जन स्मॉल इश्यू के जरिए 1,100 करोड़ रुपए और सेवेन आइलैंड 600 करोड़ रुपए जुटाने की तैयारी में है।

खबरें और भी हैं...

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज घर के कार्यों को सुव्यवस्थित करने में व्यस्तता बनी रहेगी। परिवार जनों के साथ आर्थिक स्थिति को बेहतर बनाने संबंधी योजनाएं भी बनेंगे। कोई पुश्तैनी जमीन-जायदाद संबंधी कार्य आपसी सहमति द्वारा ...

और पढ़ें