बाजार में IPO की बहार:इस साल अगस्त में टूट सकता है IPO से सबसे ज्यादा फंड जुटाने का रिकॉर्ड, 2021 में अब तक 38 कंपनियों ने जुटाएं 70679 करोड़ रुपए

मुंबई4 महीने पहलेलेखक: अजीत सिंह
  • कॉपी लिंक

भारतीय IPO बाजार का रिकॉर्ड इस महीने टूट सकता है। 2021 में अब तक 38 कंपनियों ने 70,679 करोड़ रुपए जुटाए हैं, जबकि 2017 में 38 कंपनियों ने 75,279 करोड़ रुपए जुटाए थे। ये किसी साल कंपनियों की तरफ से IPO के जरिए जुटाई जाने वाली अभी तक की सबसे बड़ी रकम है।

इस महीने बाजार में 4 और कंपनियां बाजार में उतर सकती हैं
अगस्त 2021 में 4 और कंपनियां IPO ला सकती हैं। अगर इनमें से 2 भी कंपनियां इश्यू लेकर आती हैं तो साल 2017 का रिकॉर्ड टूट सकता है। इससे पहले 2020 में 15 कंपनियों ने बाजार से 26,628 करोड़ और 2019 में 16 कंपनियों ने 12,687 करोड़ रुपए जुटाए थे।

2010 में 36,562 करोड़ रुपए कंपनियों को मिले थे
2017 से पहले 2010 में सबसे ज्यादा 36,562 करोड़ रुपए फंड जुटाई गई थी। इस साल में 64 कंपनियां बाजार में आई थीं। जबकि 2018 में 24 कंपनियों ने 31,731 करोड़ रुपए जुटाए थे। 2016 में 27 कंपनियों ने 26,501 करोड़ तो 2015 में 21 कंपनियों ने 13,513 करोड़ रुपए जुटाए थे। 2012 और 2013 IPO के लिहाज से बहुत खराब साल रहा। दोनों साल में केवल 2,500 करोड़ रुपए कंपनियों ने जुटाए थे।

2009 में 21 कंपनियों ने पैसा जुटाए थे
2009 में 21 कंपनियां बाजार में उतरी थीं। इन्होंने 19,307 करोड़ रुपए जबकि 2008 में 36 कंपनियां 18,340 करोड़ रुपए जुटाने में सफल हुई थीं। 2007 में 104 कंपनियां बाजार में आई थीं। इन्होंने 33,946 करोड़ रुपए जुटाए थे। नंबर्स के लिहाज से यह सबसे बेहतरीन साल रहा है।

महाराष्ट्र, गुजरात की कंपनियां आगे हैं
राज्यवार बात करें तो महाराष्ट्र, गुजरात और दिल्ली की कंपनियां टॉप पर रही हैं। इसमें SME IPO भी रहे हैं। दोनों एक्सचेंज पर छोटी और मझोली (SME) कंपनियां भी पैसा जुटा सकती हैं। ये कंपनियां 2 करोड़, 5 करोड़ 50 करोड़ जैसी रकम SME प्लेटफॉर्म पर जुटाती हैं। 2021 में 38 कंपनियों में से महाराष्ट्र की 19 और गुजरात की 11 कंपनियां थीं। बाकी 8 कंपनियां पूरे देश से थीं। 2020 में महाराष्ट्र की 23 और गुजरात की 6 जबकि 2019 में महाराष्ट्र की 26 और गुजरात की 16 कंपनियां बाजार में आई थीं।

दिल्ली की भी कंपनियां बाजार में आती हैं
2018 में महाराष्ट्र की 43, गुजरात की 48 और दिल्ली की 18 कंपनियां बाजार में उतरी थीं। 2017 में दिल्ली की 13, गुजरात की 53 और महाराष्ट्र की 56 कंपनियां बाजार में आई थीं। 2016 में गुजरात और महाराष्ट्र दोनों की 29-29 कंपनियां बाजार में उतरी थीं।

हाल ही में आए कुछ IPO, जिन्होंने भरी निवेशकों की जेब...

  • सालासर टेक सबसे ज्यादा रिस्पांस पाया है: हाल के सालों में अगर टॉप रिस्पांस पाने वाले IPO की बात करें तो सालासर टेक सबसे हिट रहा है। इस IPO को 273 गुना रिस्पांस मिला था। अपोलो माइक्रो को 248 गुना सब्सक्रिप्शन, एस्ट्रान पेपर को 241 गुना, MTAR को 200 गुना सब्सक्रिप्शन मिला था। मिसेज बेक्टर्स को 198 गुना, कैपासिट इंफ्रा को 183 गुना, तत्व चिंतन को 180 गुना, इजी ट्रिप प्लानर्स को 159 गुना और नजारा टेक को 175 गुना सब्सक्रिप्शन मिला था।
  • डीमार्ट की पैरेंट कंपनी ने सबसे ज्यादा रिटर्न दिया: इस दौरान सबसे ज्यादा फायदा देने वाले इश्यू में डीमार्ट की पैरेंट कंपनी अवेन्यू सुपर मार्ट रही है। इसका इश्यू 299 रुपए पर आया था और अब यह 3,651 रुपए पर कारोबार कर रहा है। यानी 12.20 गुना का रिटर्न दिया है। डिक्सन टेक का इश्यू 1766 रुपए पर आया था। इस समय इसका भाव 4,098 रुपए पर है। यानी 10.60 गुना का रिटर्न दिया है। यह शेयर 21000 रुपए के लेवल को भी पार कर गया था। मार्च 2021 में इसे 1 के बदले 5 शेयरों में बांट कर इसका शेयर प्राइस कम किया गया था। हैप्पिएस्ट माइंड का इश्यू 166 रुपए पर आया था। अब यह शेयर 1,432 रुपए पर कारोबार कर रहा है। इसने 7.62 गुना का फायदा दिया है।
  • IRCTC ने 7.49 गुना का फायदा दिया: सरकारी कंपनी आईआरसीटीसी ने 320 रुपए पर शेयर बेची थी। यह शेयर अब 2,719 रुपए पर कारोबार कर रहा है। इसने 7.49 गुना का फायदा दिया है। इंडिया मार्ट ने 973 रुपए पर शेयर बेची थी। यह शेयर अब 7,114 रुपए पर कारोबार कर रहा है। यानी इसने 6.30 गुना का रिटर्न दिया है। डॉ. लाल पैथ के शेयर ने 6.28 गुना का फायदा दिया है। इसका शेयर 550 रुपए पर बेचा गया जबकि अभी यह 4,008 रुपए पर कारोबार कर रहा है।
  • एफल इंडिया ने 4.49 गुना का फायदा दिया: एफल इंडिया का शेयर अभी 5,372 रुपए पर कारोबार कर रहा है। इसने 4.49 गुना का फायदा दिया है। इसका इश्यू 745 रुपए पर आया था। रूट मोबाइल के शेयर ने 4.53 गुना का रिटर्न दिया है। इसने 350 रुपए पर शेयर बेचा और अभी इसका भाव 1,937 रुपए है। एंजल ब्रोकिंग 306 रुपए पर शेयर बेची थी। अभी यह 1,196 रुपए पर है। यानी 2.89 गुना का फायदा मिला है।