पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Business
  • IT Sector Revenue To Grow By 9 Pc In FY22 Demand For Employees Will Increase

IT कंपनियों में बढ़ेगी हायरिंग:2021-22 में 9% तक रह सकता है IT सेक्टर का रेवेन्यू ग्रोथ, कर्मचारियों की बढ़ेगी डिमांड

नई दिल्ली5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
विप्रो ने जनवरी-मार्च 2021 तिमाही में बड़े पैमाने पर कर्मचारियों की भर्ती करने का संकेत दिया - Dainik Bhaskar
विप्रो ने जनवरी-मार्च 2021 तिमाही में बड़े पैमाने पर कर्मचारियों की भर्ती करने का संकेत दिया

देश के IT सेक्टर में हायरिंग बढ़ने के मजबूत संकेत दिख रहे हैं। प्रमुख IT कंपनियों ने कमजोर समझी जाने वाली दिसंबर तिमाही में बेहतरीन वित्तीय नतीजे दिए हैं। वहीं अगले कारोबारी साल में भी इन कंपनियां का प्रदर्शन काफी अच्छा रहने की उम्मीद है। इन कंपनियों ने पिछली तिमाही में अपने कर्मचारियों की संख्या में भी बढ़ोतरी की है।

देश की तीसरी सबसे बड़ी IT सर्विसेज कंपनी विप्रो ने कहा है कि वह इस तिमाही (जनवरी-मार्च 2021) में बड़े पैमाने पर कर्मचारियों की भर्ती करने वाली है। विप्रो के चीफ ह्यूमन रिसोर्सेज (HR) ऑफीसर सौरभ गोविल ने कहा कि काम के कई नए ठेके मिलने के कारण विभिन्न विशेषज्ञता (कार्य कुशलता) क्षेत्रों में कर्मचारियों की मांग में भारी बढ़ोतरी होगी। इस बीच देश की एक प्रमुख रेटिंग एजेंसी इकरा ने कहा है कि अगले कारोबारी साल (2021-22) में देश के IT सेक्टर का रेवेन्यू ग्रोथ रेट 7-9 फीसदी (रुपए मूल्य में) रह सकता है।

डिजिटल टेक्नोलॉजी की मांग के कारण IT सेक्टर में ग्रोथ को बल मिलेगा

इकरा ने अपनी ताजा रिपोर्ट में IT सेक्टर को स्टेबल आउटलुक दिया है। रिपोर्ट में कहा गया है कि कोरोनावायरस महामारी के कारण जहां कई सेक्टरों की हालत खराब है, वहीं IT सेक्टर ने सराहनीय विकास दर्ज किया है। अपने वित्तीय नतीजों में इन कंपनियों ने आगे भी ऊंचा विकास दर्ज करने की संभावना दिखाई है। इकरा ने कहा कि डिजिटल टेक्नोलॉजी की मांग और आर्थिक गतिविधियों में रिकवरी के कारण IT सेक्टर में ग्रोथ को बल मिलेगा।

IT सेक्टर में टेक्नोलॉजी टैलेंट की कमी के कारण एट्रीशन रेट बढ़ सकता है

विप्रो के चीफ HR ऑफीसर सौरभ गोविल ने कहा कि नौकरी छोड़ने वाले कर्मचारियों के अनुपात में यूं तो स्थिरता आई है, लेकिन पूरे IT सेक्टर में टेक्नोलॉजी टैलेंट की कमी के कारण नौकरी छोड़ने वालों का अनुपात (एट्रीशन रेट) बढ़ सकता है। उन्होंने कहा कि विप्रो ने इस कारोबारी साल में जितनी भर्ती कर रही है, उससे ज्यादा भर्ती वह अगले कारोबारी साल में करेगी। जल्द ही विप्रो चीफ ग्रोथ ऑफीसर और चीफ टेक्नोलॉजी ऑफीसर की नियुक्ति करने जा रही है।