टेक / जापान की स्टार्टअप कंपनी ने बनाया रोबोटिक फेस मास्क, यूजर की आवाज को टेक्स्ट मैसेज में कन्वर्ट करेगा

डोनट रोबोटिक्स के इंजीनियरों को मास्क बनाने का विचार इसलिए आया क्योंकि वह एक ऐसे प्रोडक्ट की तलाश में थे जो महामारी में भी कंपनी को बचाए रखे
X

  • स्मार्ट फेस माक्स जापानी भाषा को आठ अन्य भाषाओं में ट्रांसलेट भी करता है
  • यूजर की आवाज को भी एम्प्लीफाई करता है ताकि आवाज जोर से सुनाई दे

दैनिक भास्कर

Jun 28, 2020, 05:33 PM IST

टोक्यो. जापानी स्टार्टअप डोनट रोबोटिक्स ने एक इंटरनेट-कनेक्टेड 'स्मार्ट मास्क' तैयार किया है। मास्क न सिर्फ मैसेज ट्रांसमिट करता है बल्कि जापानी भाषा को आठ अन्य भाषाओं में ट्रांसलेट भी करता है। कंपनी ने इसे 'सी-मास्क' नाम दिया। यह स्टैंडर्ड फेस मास्क की तरह चेहरे पर आसानी से फिट हो जाता है। ब्लूटूथ के जरिए यह स्मार्टफोन और टैबलेट से कनेक्ट किया जा सकता है।

यह न सिर्फ स्पीच को टेक्स्ट मैसेज में कन्वर्ट करता है बल्कि यूजर इससे कॉल भी लगा सकते हैं। मास्क यूजर की आवाज को भी एम्प्लीफाई करने का काम भी करता है ताकि उसकी आवाज दूसरे व्यक्ति को जोर से सुनाई दे।

ऐसे प्रोडक्ट की तलाश में थे जो महामारी में हमारी कंपनी बचाए रखे- डोनट रोबोटिक्स

  • डोनट रोबोटिक्स के इंजीनियरों को मास्क बनाने का विचार इसलिए आया क्योंकि वह एक ऐसे प्रोडक्ट की तलाश में थे जो कंपनी को महामारी में भी बचाए रखने में मदद कर सके। डोनट रोबोटिक्स के चीफ एग्जीक्यूटिव टिसुके ओनो ने कहा, "हमने इस रोबोट को तैयार करने के लिए सालों तक कड़ी मेहनत की और हमने इस तकनीक का इस्तेमाल एक ऐसे प्रोडक्ट बनाने के लिए किया है, जो इस बात को दर्शाता है कि कोरोनोवायरस ने समाज को कैसे बदला है।

सितंबर में 5000 मास्क बेचेगी कंपनी, एक की कीमत लगभग 3 हजार रुपए

  • डोनट रोबोटिक्स ने सितंबर में जापान में 5000 हजार सी-मास्क बेचने का लक्ष्य रखा है। वहीं चीन, अमेरिका और यूरोप में भी इसे ओनो के जरिए बेचा जाएगा क्योंकि इन देशो ने भी इसके लिए रूचि दिखाई है।
  • एक फेस मास्क की कीमत $ 40 यानी लगभग 3,000 रुपए है। कंपनी ने यह भी बताया कि वे यूजर्स द्वारा डाउनलोड की जाने वाली ऐप के माध्यम से भी सब्सक्राइबर सर्विस द्वारा रेवेन्यू जनरेट किया जाएगा।

एक महीने के भीतर तैयार किया प्रोटोटाइप

  • डोनट रोबोटिक्स ने कनेक्टेड मास्क का प्रोटोटाइप एक महीने के भीतर तैयार किया। इसके लिए उन्होंने ट्रांसलेशन सॉफ्टवेयर को एडॉप्ट किया जो चेहरे की मांसपेशियों की मैपिंग कर उसे स्पीच में कन्वर्ट करता है। इसे तकनीक कंपनी को कंपनी के ही एक इंजीनियर शुनसुके फुजिबायशी ने एक स्टूडेंट प्रोजेक्ट के लिए चार साल पहले तैयार किया था।

क्राउडफंडिंग के जरिए जुटाए 1.98 करोड़ रुपए

  • ओनो ने जापानी क्राउडफंडिंग साइट फंडिननो के माध्यम से डोनट रोबोटिक्स के शेयर बेचकर इसे बनाने के लिए 28 मिलियन (लगभग 1.98 करोड़ रुपए) जुटाए। उन्होंने कहा कि हमने तीन मिनट के भीतर 7 मिलियन येन के अपना शुरुआती लक्ष्य रखा और 37 मिनट के बाद इसे बंद कर दिया, इस दौरान हम 28 मिलियन येन इकट्ठा कर चुके थे।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना