• Hindi News
  • Business
  • Kotak Mahindra Bank MD to take one rupee salary, Uday Kotak's average basic salary is 27 lakhs monthly

कॉरपोरेट / कोटक महिंद्रा बैंक के एमडी लेंगे एक रुपए सैलरी, उदय कोटक की मासिक औसत बेसिक सैलरी 27 लाख रुपए है

उदय कोटक ने निजी तौर पर PM-CARES फंड में 25 करोड़ रुपए और 25 करोड़ रुपए कोटक महिंद्रा बैंक ने दान किए हैं। उदय कोटक ने निजी तौर पर PM-CARES फंड में 25 करोड़ रुपए और 25 करोड़ रुपए कोटक महिंद्रा बैंक ने दान किए हैं।
X
उदय कोटक ने निजी तौर पर PM-CARES फंड में 25 करोड़ रुपए और 25 करोड़ रुपए कोटक महिंद्रा बैंक ने दान किए हैं।उदय कोटक ने निजी तौर पर PM-CARES फंड में 25 करोड़ रुपए और 25 करोड़ रुपए कोटक महिंद्रा बैंक ने दान किए हैं।

  • बाकी टॉप अधिकारियों की भी सैलरी में होगी 15 प्रतिशत की कटौती
  • कोटक महिंद्रा बैंक ने राहत कोष में 60 करोड़ रुपए जमा कराए हैं

दैनिक भास्कर

Apr 10, 2020, 03:33 PM IST

मुंबई. देश के बैंकरों में उच्च सेलरी पानेवालों में से एक कोटक महिंद्रा बैंक के एमडी एवं सीईओ ने अपनी सैलरी में कटौती का फैसला किया है। इस फैसले के बाद वे वित्तीय वर्ष 2020-21 में महज एक रुपए सैलरी लेंगे। इसी के साथ बैंक के सभी बड़े अधिकारियों की भी सैलरी में 15 प्रतिशत की कमी की जाएगी। पिछले वर्ष में उदय कोटक को बेसिक औसत सैलरी मासिक 27 लाख रुपए मिल रही थी।

कोविड-19 की वजह से लिया फैसला

बैंक ने जारी बयान में कहा है कि कोटक महिंद्रा बैंक के ग्रुप के लीडरशिप ने अपनी सैलरी में कटौती करने का फैसला किया है। फिस्कल ईयर 2020-2021 में ग्रुप के सभी बड़े अधिकारियों की सैलरी में 15 फीसदी की कमी की जाएगी। बता दें कि कोटक महिंद्रा बैंक और उदय कोटक ने मिलकर केंद्र सरकार और महाराष्ट्र सरकार के राहत कोष में 60 करोड़ रुपए जमा कराए हैं।


पीएम राहत कोष में कोटक ने दिया 25 करोड़

उदय कोटक ने निजी तौर पर PM-CARES फंड में 25 करोड़ रुपए और 25 करोड़ रुपए कोटक महिंद्रा बैंक ने दान किए हैं। वहीं महाराष्ट्र सरकार के राहत कोष में 10 करोड़ रुपए दिए हैं। फिस्कल ईयर 2019 में उदय कोटक की बेसिक सैलरी 27 लाख रुपए थी। बैंक ने गुरुवार को जारी एक स्टेटमेंट में कहा है, "हम जीवन और रोजगार बचाने के संघर्ष के बीच जूझ रहे हैं। इकोनॉमी का रिवाइवल फाइनेंशियल सेक्टर की हालत पर निर्भर करता है। इस मुश्किल वक्त में बैंक सिविल सोसायटी, प्राइवेट एंटरप्राइज और सरकार के साथ मिलकर काम करने के लिए प्रतिबद्ध है।

निजी बैंकों के अधिकारियों की है भारी भरकम सेलरी

निजी बैंकिंग सेक्टर में एक्सिस बैंक के सीईओ अमिताभ चौधरी सेलरी के मामले में दूसरे स्थान पर काबिज हैं। उन्होंने पिछले साल जनवरी में पद संभाला है। बेसिक मासिक वेतन के तौर पर उन्हें पिछले वित्त वर्ष में 30 लाख रुपए मिले। कोटक महिंद्रा बैंक के उदय कोटक 27 लाख रुपए की बेसिक सैलरी के साथ तीसरे स्थान पर है। बैंकों की सालाना रिपोर्ट के मुताबिक आईसीआईसीआई बैंक की पूर्व प्रमुख चंदा कोचर चौथे स्थान पर हैं। पद छोड़ने तक उन्हें हर महीने 26 लाख रुपए की बेसिक सैलरी मिली। उनके उत्तराधिकारी संदीप बख्शी को हर महीने बेसिक सैलरी के रूप में औसतन 22 लाख रुपए मिले और वे पांचवें स्थान पर रहे।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना