LIC IPO:लिस्टिंग से 1 दिन पहले ग्रे मार्केट में LIC के शेयर में गिरावट, हालांकि एक्सपर्ट्स का शेयर्स में तेजी का अनुमान

नई दिल्ली3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कल, यानी 17 मई को देश के सबसे बड़े LIC के IPO की लिस्टिंग होनी है। इससे पहले IPO में सफल हुए इन्वेस्टर्स के लिए बुरी खबर सामने आ रही है। ग्रे मार्केट में LIC IPO का प्रीमियम (GMP) लिस्टिंग से पहले और गिर गया है, जिससे डिस्काउंट पर लिस्टिंग के संकेत मिल रहे हैं।

लिस्टिंग से एक दिन पहले सोमवार को LIC IPO का GMP शून्य से 25 रुपए तक नीचे गिर चुका है। एक समय यह ग्रे मार्केट में 92 रुपये के प्रीमियम के साथ ट्रेड कर रहा था। टॉप शेयर ब्रोकर के आंकड़ों के अनुसार, अभी LIC IPO का ग्रे मार्केट प्रीमियम शून्य से 15 रुपए नीचे है।

डिस्काउंट में हो सकती है लिस्टिंग
इसके चलते LIC के IPO की लिस्टिंग डिस्काउंट में हो सकती है। ग्रे मार्केट प्रीमियम में इसके संकेत मिल रहे हैं। ग्रे मार्केट में LIC अपने इश्यू प्राइस 949 रुपए प्रति शेयर से 25 रुपए तक डिस्काउंट पर है। यानी, रिटेल निवेशकों को IPO में मिले डिस्काउंट रेट से ये केवल 20 रुपए ज्यादा है। ग्रे मार्केट में LIC का प्रीमियम अगर और नीचे आता है तो निवेशकों को नुकसान हो सकता है।

विदेशी और संस्थागत निवेशकों से अच्छा रिस्पॉन्स न मिलने से बिगड़े सेंटीमेंट्स
ग्रे मार्केट पर नजर रखने वाले अधिकांश डीलरों ने कहा कि विदेशी और संस्थागत निवेशकों से IPO को ज्यादा अच्छा रिस्पॉन्स नहीं मिलने के कारण ग्रे मार्केट सेंटीमेंट पर असर पड़ा है। सेकेंडरी मार्केट में उतार-चढ़ाव आग में घी का काम कर रहा है। अनलिस्टेड एरिया के को-फाउंडर अभय दोशी ने कहा, महंगाई की चिंता ने पॉलिसी को कड़ा कर दिया है जो पूरे इक्विटी स्पेस को नुकसान पहुंचा रहा है।

इश्यू 2.95 गुना सब्सक्राइब हुआ
LIC के IPO को निवेशकों से अच्छा रिस्पॉन्स मिला है। हालांकि, अट्रैक्टिव वैल्यूएशन के बावजूद ये विदेशी और संस्थागत निवेशकों को लुभाने में विफल रहा है। रिटेल और अन्य निवेशकों के लिए 4 मई को खुले इस IPO के सब्सक्रिप्शन का 9 मई को आखिरी दिन था। इश्यू 2.95 गुना सब्सक्राइब हुआ है। 16.2 करोड़ शेयरों के मुकाबले 47.77 करोड़ शेयरों के लिए बोलियां मिलीं।

पॉलिसीधारकों का पोर्शन 6.10 गुना भरा
पॉलिसीधारकों के लिए रिजर्व रखा गया पोर्शन 6.10 गुना, स्टाफ 4.39 गुना और रिटेल निवेशकों का हिस्सा 1.99 गुना सब्सक्राइब हुआ है। QIB के आवंटित कोटे के लिए 2.83 गुना बोलियां आई हैं, जबकि NII का हिस्सा 2.91 गुना सब्सक्राइब हुआ है। 17 मई को शेयर स्टॉक एक्सचेंज पर लिस्ट होंगे। ज्यादातर मार्केट एनालिस्ट ने IPO में पैसा लगाने की सलाह दी थी।

डिस्काउंट में लिस्ट होने की संभवना नहीं
IIFL सिक्योरिटीज के वाइस प्रेसिडेंट (कमोडिटी एंड करेंसी) अनुज गुप्ता कहते हैं कि LIC IPO के डिस्काउंट में लिस्ट होने की संभवना नहीं है। LIC का शेयर 1,200 से 1,300 रुपए पर लिस्ट हो सकता है।

लम्बे समय के लिए होल्ड करना सही
अनुज गुप्ता के अनुसार LIC का शेयर एक साल में ही 2,000 रुपए तक पहुंच सकता है। ऐसे में इसे कम से कम 1 साल के लिए होल्ड करना चाहिए। वहीं इसे जितने लम्बे समय के लिए होल्ड करेंगे ये उतना ज्यादा फायदेमंद साबित होगा।