• Hindi News
  • Business
  • Loan ; Being A Guarantor Of A Loan Also Affects Your Credit Score, Keep These Important Things In Mind Before Becoming A Guarantor

काम की बात:लोन का गारंटर बनने से आपके क्रेडिट स्कोर पर भी पड़ता है असर, गारंटर बनने से पहले इन जरूरी बातों का रखें ध्यान

नई दिल्ली5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कोरोना काल में कई लोगों की नौकरी चली गई है तो कईयों की इनकम पर असर पड़ा है। इसी के चलते कई लोगों को अपना लोन चुकाने में परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। ऐसे में अगर कोई कर्जदार लोन की किस्तें नहीं चुका पा रहा है तो लोन का डिफॉल्ट होने पर न केवल लोन लेने वाले व्यक्ति बल्कि गारंटर को भी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। लोन न चुकाने पर गारंटर का क्रेडिट स्कोर तो खराब होता ही है बल्कि गारंटर को ये लोन तक चुकाना पड़ सकता है।

क्या हैं लोन गारंटर को लेकर नियम?
नियमों के मुताबिक किसी लोन की गारंटी देने वाला व्‍यक्ति भी लोन लेने वाले व्‍यक्ति के बराबर कर्जदार होता है। डिफॉल्ट की स्थिति में बैंक पहले कर्जदार को नोटिस भेजता है और उसका जवाब नहीं आने पर कर्जदार के साथ ही गारंटर को भी नोटिस भेजा जाता है। बैंक जितना हो सकेगा कर्जदार से ही वसूली की कोशिश करेगा, लेकिन असफल रहने पर गारंटर को भी डिफॉल्ट के लिए जिम्मेदार माना जाएगा।

कब जरूरी होता है गारंटर?
बैंक सभी लोन के लिए गारंटर पर जोर नहीं देते हैं। लेकिन, जब गारंटी पर्याप्‍त नहीं होती है और उन्‍हें कर्ज के चुकाए जाने पर संदेह होता है तो वे ऐसा करने के लिए कहते हैं। बड़ी राशि के लोन के लिए गारंटर का होना जरूरी है।

बिगड़ सकता है गारंटर का क्रेडिट स्कोर
आप अपने आप से पूछिए कि क्या आप अपनी क्षमता पर बैंक से लोन लेकर किसी और को उधार दे सकते हैं। जिस लोन पर आप गारंटी दे रहे हैं, उसमें कोई रिस्क तो नहीं है। सिबिल केवल कर्जदारों की सूचनाएं ही नहीं जुटाता है बल्कि गारंटी देने वालों का रिकॉर्ड भी रखता है। जिस लोन की आपने गारंटी दी है उसे आपके द्वारा लिया गया माना जाएगा। ऐसे में कर्जदार द्वारा लोन न चुकाने पर आपको क्रेडिट स्कोर खराब हो सकता है।

गारंटर बनने पर आपको लोन मिलने में हो सकती है परेशानी
जिस राशि के लिए आप गारंटी देंगे वह आपकी क्रेडिट रिपोर्ट में बकाए के रूप में दिखाई देगी। इससे आपकी लोन लेने की क्षमता पर भी असर पड़ता है। ऐसे में अगर आप भविष्य में घर, कार या पर्सनल लोन लेने का फैसला लेते हैं और आप अपने जिस मित्र या रिश्तेदार के लोन की गारंटी ली है और वो समय पर लोन नहीं चुका रहा है तो आपके लिए मुश्किल बढ़ सकती है।

गारंटर बनने से पहले लोन लेने वाले की वित्तीय स्थिती का पता करें
किसी के लोन एप्लीकेशन का गारंटर बनते समय इस बात का पूरा ध्यान रखें की उस व्यक्ति को आप अच्छे से जानते हों। उसकी स्थिति का ठीक से पता करें। हो सके तो ये भी पता कर लें कि वह व्यक्ति पहले कभी डिफॉल्टर तो नहीं रहा।

किसी की गारंटी ले चुके हैं तो क्‍या करें?
अगर आप पहले ही गारंटर हैं तो कर्ज लेने वाले व्‍यक्ति और कर्ज देने वाले बैंक से भी संपर्क में रहें। इसके अलावा अपना क्रेडिट स्‍कोर भी नियम‍ित रूप से चेक करें। अगर कोई परेशानी होगी, तो वह आपके स्‍कोर में दिखेगी। गारंटर को कर्ज लेने वाले से पर्याप्‍त लोन इंश्‍योरेंस कवर खरीदने पर जोर देना चाहिए। इससे कुछ अनहोनी होने पर लोन को अदा करने की जिम्‍मेदारी गारंटर पर नहीं आएगी।

गारंटर से हटने के लिए क्या करें ?
अगर आप किसी के गारंटर हैं और अब हटाना चाहते हैं तो इसके कई कारण हो सकते हैं। जैसे आप खुद लोन लेना चाहते हैं। हालांकि, बैंक इसकी अनुमति तब तक नहीं देते हैं जब तक कर्ज लेने वाला व्‍यक्ति कोई और गारंटर नहीं तलाश लेता है। यहां तक कोई दूसरा गारंटर ढूंढ लेने के बावजूद यह बैंक पर निर्भर करता है कि वह इसकी अनुमति देता है कि नहीं।

डिफॉल्‍ट होने पर क्‍या करें?
अगर कर्ज लेने वाला व्‍यक्ति नियमित रूप से इसका भुगतान नहीं कर रहा है और बैंक आपको कर्ज चुकाने के लिए कह रहा है तो कर्ज लेने वाले से बात करके आप लीन चुका सकते हैं। ऐसा करने पर गारंटर कर्ज लेने वाले से बाद में पैसा वसूल सकता है।