• Hindi News
  • Business
  • Maharashtra Is The Third State To Reduce VAT On Petrol And Diesel, Earlier Rajasthan And Kerala Had Reduced Tax

एक्साइज कटौती के बाद राज्य घटा रहे टैक्स:महाराष्ट्र पेट्रोल-डीजल पर वैट घटाने वाला तीसरा राज्य, पहले राजस्थान और केरल ने घटाया था टैक्स

मुंबईएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

महाराष्ट्र सरकार ने रविवार को पेट्रोल और डीजल पर वैल्यू ऐडेड टैक्स यानी वैट ₹2.08 प्रति लीटर और ₹1.44 प्रति लीटर कम कर दिया। महाराष्ट्र सरकार के बयान में कहा गया है कि कटौती को तत्काल प्रभाव से लागू किया जाएगा। महाराष्ट्र सरकार का यह कदम केंद्र की ओर से पेट्रोल और डीजल पर एक्साइज ड्यूटी में ₹8 और ₹6 प्रति लीटर की कमी करने के एक दिन बाद आया है।

वैट में कमी के बाद महाराष्ट्र सरकार को पेट्रोल पर हर महीने करीब ₹80 करोड़ और डीजल पर ₹125 करोड़ का नुकसान होने की उम्मीद है। इस हिसाब से सरकार को सालाना करीब 2,500 करोड़ रुपए का राजस्व घाटा होगा। मुंबई में एक्साइज ड्यूटी में कमी और वैट कम करने के फैसले के बाद, एक लीटर पेट्रोल की कीमत ₹109.27 और एक लीटर डीजल ₹95.84 का हो गया है।

राजस्थान और केरल घटा चुके हैं वैट
इससे पहले दिन में राजस्थान सरकार ने पेट्रोल पर वैट घटाकर ₹2.48 प्रति लीटर और डीजल पर ₹1.16 प्रति लीटर घटाने का ऐलान किया था। केरल सरकार ने भी पेट्रोल पर 2.41 रुपए और डीजल पर 1.36 रुपए के स्टेट टैक्स की कटौती की है। केंद्र की तरफ से की गई कस्टम ड्यूटी की कटौती से पेट्रोल और डीजल की कीमतों में ₹9.5 प्रति लीटर और ₹7 प्रति लीटर की कमी आई है। अब राज्यों ने भी वैट घटाना शुरू कर दिया है जिससे उन राज्यों में पेट्रोल-डीजल की कीमतें और ज्यादा कम हो गई है।

पिछले साल भी केंद्र ने घटाई थी एक्साइज ड्यूटी
इससे पहले पिछले साल 3 नवंबर को भी पेट्रोल और डीजल सरकार ने पेट्रोल पर 5 रुपए और डीजल पर 10 रुपए एक्साइज ड्यूटी कम की थी। सरकारी सूत्रों के अनुसार, तब विपक्ष शासित राज्यों ने वैट नहीं घटाया। महाराष्ट्र, प बंगाल, तमिलनाडु, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, केरल और झारखंड ने वैट से 11,945 करोड़ रुपए कमाए।