पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

रेगुलेटरी फाइलिंग:महिंद्रा एंड महिंद्रा की साउथ कोरियाई आर्म सांगयोंग मोटर कंपनी ने बैंकरप्सी के लिए आवेदन किया

नई दिल्ली5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
SYMC में महिंद्रा एंड महिंद्रा की 75% हिस्सेदारी है और कंपनी अब तक इसमें 110 मिलियन डॉलर करीब 814 करोड़ रुपए का निवेश कर चुकी है।  - Dainik Bhaskar
SYMC में महिंद्रा एंड महिंद्रा की 75% हिस्सेदारी है और कंपनी अब तक इसमें 110 मिलियन डॉलर करीब 814 करोड़ रुपए का निवेश कर चुकी है। 
  • महिंद्रा एंड महिंद्रा ने 2010 में किया था SYMC का अधिग्रहण
  • 2017 से घाटे में चल रही है साउथ कोरियाई ऑटो कंपनी

महिंद्रा एंड महिंद्रा की घाटे में चल रही साउथ कोरियाई आर्म सांगयोंग मोटर कंपनी (SYMC) ने बैंकरप्सी के लिए आवेदन कर दिया है। महिंद्रा एंड महिंद्रा ने सोमवार को रेगुलेटरी फाइलिंग में यह जानकारी दी है। कंपनी का कहना है कि SYMC ने पुनर्वास प्रक्रिया शुरू करने और साउथ कोरिया के डिबेटर रिहैबिलिटेशन एंड बैंकरप्सी एक्ट के तहत सियोल की बैंकरप्सी कोर्ट में आवेदन किया है।

ऑटोनॉमस रीस्ट्रक्चरिंग सपोर्ट कार्यक्रम के लिए भी किया आवेदन

संकट का सामना कर रही SYMC ने ऑटोनॉमस रीस्ट्रक्चरिंग सपोर्ट (ARS) कार्यक्रम के लिए भी आवेदन किया है। यह कोर्ट की तरफ से डिजाइन की गई प्रक्रिया है। फाइलिंग के मुताबिक, यदि कोर्ट ARS कार्यक्रम के आवेदन को स्वीकार कर लेती है तो SYMC बोर्ड के सुपरविजन में कार्य लगातार जारी रखेगी। साथ ही कंपनी रिवाइवल पैकेज पर अंडरस्टैंडिंग के लिए स्टेकहोल्डर्स के साथ मोलभाव कर करेगी। इसमें इक्विटी और डेट फाइनेंसिंग के साथ अन्य कार्यवाही भी शामिल है।

आवेदन पर विचार करेगी कोर्ट

महिंद्रा एंड महिंद्रा ने कहा है कि अब सियोल की बैंकरप्सी कोर्ट आवेदन और उसके साथ दाखिल किए गए कागजात पर विचार-विमर्श करेगी। इसके बाद ही कोर्ट निर्धारित करेगी कि SYMC की रिस्ट्रक्चरिंग प्रकिया शुरू होगी या नहीं? पिछले सप्ताह ही महिंद्रा एंड महिंद्रा ने कहा था कि SYMC करीब 408 करोड़ रुपए के लोन रीपेमेंट में विफल रही है। SYMC पर करीब 100 बिलियन कोरियन वॉन करीब 680 करोड़ रुपए का लोन बकाया है।

SYMC में नई इक्विटी के प्रस्ताव को खारिज कर चुकी है महिंद्रा

महिंद्रा एंड महिंद्रा का बोर्ड इसी साल अप्रैल में SYMC में नई इक्विटी इंजेक्ट करने वाले प्रस्ताव को खारिज कर चुका है। महिंद्रा एंड महिंद्रा ने घाटे में चल रही SYMC का 2010 में अधिग्रहण किया था। लेकिन कई प्रयासों के बावजूद कंपनी इसमें बदलाव नहीं ला पाई है। SYMC में महिंद्रा एंड महिंद्रा की 75% हिस्सेदारी है और कंपनी अब तक इसमें 110 मिलियन डॉलर करीब 814 करोड़ रुपए का निवेश कर चुकी है।

2017 से लगातार घाटे में चल रही है SYMC

2017 में SYMC को 66 बिलियन वॉन का नेट लॉस हुआ था। तभी से कंपनी लगातार घाटे में चल रही है। इससे एक साल पहले 2016 में कंपनी को 58 बिलियन वॉन का नेट प्रॉफिट हुआ था। 2018 में SYMC को 62 बिलियन वॉन का नेट लॉस हुआ था जो 2019 में बढ़कर 341 बिलियन वॉन पर पहुंच गया था।

खबरें और भी हैं...

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज घर के कार्यों को सुव्यवस्थित करने में व्यस्तता बनी रहेगी। परिवार जनों के साथ आर्थिक स्थिति को बेहतर बनाने संबंधी योजनाएं भी बनेंगे। कोई पुश्तैनी जमीन-जायदाद संबंधी कार्य आपसी सहमति द्वारा ...

और पढ़ें