• Hindi News
  • Business
  • Mastercard India News | Mastercard Not Allowed To Issue New Cards; Restrictions By Reserve Bank Of India

नियमों का उल्लंघन करना पड़ा भारी:मास्टरकार्ड 22 जुलाई से अपने नेटवर्क में नहीं जोड़ पाएगा नए ग्राहक, RBI ने लगाई रोक

मुंबई5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने बुधवार को मास्टरकार्ड पर बड़ी कार्रवाई की। इसके तहत कंपनी अब 22 जुलाई से अपने नेटवर्क पर नए ग्राहकों को शामिल नहीं कर पाएगा, जिसमें घरेलू डेबिट, क्रेडिट या प्रीपेड कार्ड ग्राहक शामिल हैं।

RBI के मुताबिक मास्टरकार्ड ने भारत में पेमेंट सिस्टम डेटा के स्टोरेज पर उसके मानदंडों का उल्लंघन किया है, जिसके लिए पेमेंट सिस्टम ऑपरेटर के खिलाफ कार्रवाई की गई है। हालांकि, आदेश का मास्टरकार्ड के मौजूदा ग्राहकों पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा।

क्या है RBI के मानदंड, जिन्हें मास्टरकार्ड ने पूरा नहीं किया
बतातें चलें कि RBI ने अपने आदेश में सभी कार्ड जारी करने वाले बैंकों और गैर-बैंकों को निर्देशों का पालन करने का निर्देश दिया है। अप्रैल 2018 में जारी RBI के सर्कुलर के मुताबिक, सभी पेमेंट सिस्टम प्रोवाइडर से यह सुनिश्चित करने के लिए कहा था कि छह महीने की अवधि के भीतर पेमेंट सिस्टम से संबंधित उनका पूरा डेटा (जैसे अन्य जरूरतों के साथ ट्रांजेक्शन डीटेल्ड) जो उनके द्वारा संचालित है और केवल भारत में एक सिस्टम में स्टोर है। इन्हीं मानदंडों को पूरा न कर पाने पर मास्टरकार्ड के खिलाफ कार्रवाई हुई है।

HDFC बैंक, अमेरिकन एक्सप्रेस समेत डिनर्स क्लब पर भी लग चुकी है रोक
2021 में इस तरह की यह पहली घटना नहीं है, इससे पहले RBI ने अमेरिकन एक्सप्रेस और डिनर्स क्लब (Diners Club) के खिलाफ भी इसी तरह की कार्रवाई कर चुका है। इन दोनों को 1 मई 2021 से अपने नेटवर्क में नए डोमेस्टिक क्रेडिट कार्ड कस्टमर जोड़ने पर रोक लगाई गई।

RBI ने दिसंबर में HDFC बैंक पर भी सभी डिजिटल लॉन्चिंगपर अस्थाई तौर पर रोक लगा दी, जिसमें नए क्रेडिट कार्ड भी शामिल थी। क्योंकि बैंक के IT सिस्टम में पिछले दो सालों से दिक्कतें आ रही थीं, जिससे इंटरनेट बैंकिंग और पेमेंट सिस्टम में कई बार गड़बड़ियों देखने को मिली।

खबरें और भी हैं...