• Hindi News
  • Business
  • N 95 Masks Became Cheaper By 47% After Government Intervention, A Mask Was Being Sold For Rs. 150 To Rs. 300.

कोरोनावायरस:सरकारी हस्तक्षेप के बाद 47% तक सस्ता हुआ N-95 मास्क, पहले 150 से लेकर 300 रुपए तक में बिक रहा था एक मास्क

नई दिल्ली2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
एन-95 मास्क की कीमत में बड़ी कटौती की गई है - Dainik Bhaskar
एन-95 मास्क की कीमत में बड़ी कटौती की गई है
  • प्रमुख कंपनियों और आयातकों ने इसके दाम कर दिए हैं।
  • सरकार ने एन-95 मास्क को अनिवार्य वस्तु अधिसूचित किया है

एन-95 मास्क के दाम 47 फीसदी तक कम कर दिए हैं। नियामक राष्ट्रीय औषधि मूल्य प्राधिकरण (एनपीपीए) के देश में इस प्रमुख उत्पाद को सस्ती दर पर उपलब्ध कराने के लिए कदम उठाए जाने के बाद कीमतें नीचे आई हैं। यानी अब एन-95 मास्क बनाने वाली प्रमुख कंपनियों और आयातकों को सस्ते दामों पर एन-95 मास्क बेचना होगा। बता दें कि बाजार में पहले 1 पिस एन-95 मास्क 150 से 300 रुपए में बेचे जा रहे थे।

मास्क की ऊंची कीमत को कम करने के लिए लिया गया फैसला
रसायन एवं उर्वरक मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि एन-95 मास्क की ऊंची कीमत के मसले के समाधान के लिए एनपीपीए ने कदम उठाया और यह सुनिश्चित किया कि वह देश में आम लोगों को सस्ती दर पर उपलब्ध हो। बयान के अनुसार, ‘प्राधिकरण ने 21 मई 2020 को सभी विनिर्माताओं/आपूर्तिकर्ताओं को परामर्श जारी कर एन-95 मास्क की गैर-सरकारी खरीद के लिए मूल्य एकसमान और युक्तिसंगत रखने को कहा था।’

इसे आवश्यक वस्तु अधिनियम के अंतर्गत रखा गया है
एनपीपीए ने बंबई हाई कोर्ट के सामने कहा कि वह देश में एन-95 मास्क की मांग और आपूर्ति में अंतर को देख रहा है और विनिर्माताओं, आयातकों तथा आपूर्तिकर्ताओं को स्वेच्छा से इसके दाम कम करने की सलाह दी है। हाई कोर्ट के कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए एन-95 मास्क के दाम तय करने से जुड़ी याचिका पर सुनवाई के दौरान प्राधिकरण ने यह बात कही।
बयान के मुताबिक, एन-95 मास्क के दाम में 47 फीसद तक की कमी की गई है। बता दें कि सरकार ने एन-95 मास्क को अनिवार्य वस्तु अधिसूचित किया है और इसे आवश्यक वस्तु अधिनियम के अंतर्गत रखा है।

खबरें और भी हैं...