पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Business
  • Nifty Index Towards Record Growth, But 5 Events Including GDP, Auto Sales And RBI Meeting Will Be Important

निवेशकों के लिए काफी खास यह हफ्ता:रिकॉर्ड बढ़त की ओर निफ्टी इंडेक्स, लेकिन GDP, ऑटो बिक्री और RBI की बैठक समेत 5 इवेंट्स होंगे अहम

मुंबई2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

देश में कम हो रहे कोरोना के मामले और ग्लोबल शेयर बाजार में तेजी का असर घरेलू मार्केट पर भी पड़ रहा है। बीते हफ्ते निफ्टी रिकॉर्ड स्तर 15,400 के पार पहुंच गया। जून के शुरुआत से लॉकडाउन की पाबंदियों में मिलने वाली रियायतों से भी बाजार को सपोर्ट मिल सकता है।

लगातार दो हफ्तों से फायदे में निवेशक
भारतीय शेयर बाजार 28 मई को लगातार दूसरे हफ्ते पॉजिटिव रिटर्न के साथ बंद हुआ है। इससे पहले फरवरी 2021 में दो हफ्तों की रैली देखने को मिली थी। शुक्रवार को सेंसेक्स 882 पॉइंट यानी 1.75% ऊपर 51,422 पर और निफ्टी 260 पॉइंट यानी 1.72% चढ़कर 15,435 पर बंद हुआ। साथ ही एक्सचेंज पर लिस्टेड कंपनियों का कुल मार्केट कैप भी पहली बार 221 लाख करोड़ रुपए के पार पहुंच गया है।

निवेशकों की जेब बैंकिंग, ऑटो और इंफ्रा शेयरों ने भरी बाजार की बढ़त में मिडकैप और स्मॉलकैप शेयर सबसे आगे रहे। NSE पर दोनों 1-1.8% तक बढ़े। इंडेक्स इसमें टेक्नोलॉजी, बैंकिंग और फाइनेंशियल, ऑटो और इंफ्रास्ट्रक्चर शेयरों में जोरदारी खरीदारी हुई। वहीं, मेटल और फार्मा सेक्टर के शेयरों ने निवेशकों को निराश किया है।

बाजार में बढ़त की मुख्य वजह क्या रहें?

  • देश में कोरोना संक्रमण की दर घटी
  • सरकार की ओर से तीसरे राहत पैकेज की उम्मीद
  • कंपनियों ने चौथी तिमाही नतीजे उम्मीद से बेहतर पेश किए
  • घरेलू बाजार का सेंटीमेंट ग्लोबल संकेतों से भी मजबूत हुआ

कोरोना महामारी के चलते बाजार में बने उतार-चढ़ाव के बीच एक्सपर्ट को पॉजिटिव सेंटीमेंट की उम्मीद है। मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल सर्विसेस के वाइस प्रेसिडेंट,डेरिवेटिव्स & टेक्निकल रिसर्च हेड चंदन तापड़िया के मुताबिक अगले हफ्ते निफ्टी इंडेक्स 15,300 पॉइंट से ऊपर बना रहता है, तो यह 15,500 पॉइंट के ऑल टाइम हाई को छू सकता है। इसके बाद निफ्टी का प्रयास 15,650 पॉइंट तक पहुंचने की होगी।

ऐसे में अगले हफ्ते के लिए 5 बड़े इवेंट्स पर भी ध्यान दिजिए...

1.देश में कोरोना के मामलों में लगातार गिरावट: बीते तीन हफ्तों से लगातार कोरोना के मामले घटे हैं, जो 4 लाख प्रति दिन तक भी पहुंच गया था। संक्रमण दर में गिरावट से इकोनॉमिकल्स एक्टिविटीज शुरू होंगी। बीते 24 घंटे में यहां एक लाख 65 हजार 144 लोगों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई। यह आंकड़ा बीते 47 दिनों में सबसे कम है। इससे पहले 12 अप्रैल को एक लाख 60 हजार 854 केस आए थे।

2.चौथी तिमाही के नतीजे पर रहेगी नजर: इस हफ्ते ऑरोबिंदो फार्मा, ITC, मदरसन सूमी,PVR, भारत फोर्ज सहित बलरामपुर चीनी, गुजरात गैस जैसी कंपनियां मार्च तिमाही के नतीजे जारी करेंगी। यह कंपनियों द्वारा चौथी तिमाही के नतीजे जारी करने वाला आखिरी हफ्ता भी हो सकता है।

3.ऑटो सेल्स के आंकड़े आएंगे: देश की ऑटो कंपनियां मई में टोटल बिक्री के आंकड़े जारी करेंगी। ऐसे में मारुति सुजुकी, टाटा मोटर्स, TVS मोटर, अशोक लेलैंड, बजाज ऑटो, हीरो मोटोकॉर्प और आयशर मोटर के शेयर फोकस में रहेंगे।

4. घरेलू इकोनॉमी के आंकड़े जारी होंगे: सोमवार यानी 31 मई को सरकार फाइनेंशियल इयर 2020-21 की चौथी तिमाही के आंकड़े जारी करेगी। इसी दिन अप्रैल में इंफ्रास्ट्रक्चर प्रोडक्शन और फिस्कल डेफिसिट का डेटा भी जारी होगा। मंगलवार को मार्केिट मैन्युफैक्चरिंग और बुधवार को सर्विसेस PMI डेटा भी जारी होंगे।

5. RBI की MPC बैठक: हर दो महीने में होने वाली मॉनेटरी पॉलिसी कमेटी (MPC) की मीटिंग इसी हफ्ते होगी। तीन तक होने वाली मीटिंग की शुरुआत 4 जून यानी शुक्रवार से होगी। बैठक में अप्रैल और मई के दौरान सख्त पाबंदियों और कोरोना से इकोनॉमी पर पड़ने वाले असर को देखते हुए यह मीटिंग काफी अहम मानी जा रही है। उम्मीद है कि रिजर्व बैंक यानी RBI ब्याज दरों को जस का तस बनाए रख सकता है।