पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Business
  • Nifty May Remain In The Range Of 15,500 To 15,900, Investors Should Follow Buy On Every Dip Strategy

15,500 से 15,900 के दायरे में रहेगा निफ्टी:मेटल शेयरों पर होगी बाजार की नजर​​​​​​​, रियल्टी शेयरों पर भी दाव लगा सकते हैं निवेशक

3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • निफ्टी को 15600 अंक, फिर 15500 पर सपोर्ट
  • डाग्नोस्टिक लैब्स के शेयरों में खरीदारी हो सकती है
  • घरेलू संस्थागत निवेशकों की खरीदारी का दौर थमा
  • FII ने 2,028 करोड़ के शेयरों की नेट बिकवाली की

अगले हफ्ते बाजार की नजर मेटल शेयरों पर रह सकती है। टाटा स्टील और हिंडाल्को जैसे दिग्गजों में गहमागहमी रह सकती है। निवेशक रियल्टी शेयरों पर भी दाव लगा सकते हैं। डाग्नोस्टिक लैब्स के शेयरों में खरीदारी हो सकती है। मेट्रोपोलिस, एल्केम, डॉ लाल पैथलैब्स जैसे शेयरों में मजबूती रह सकती है।

वोलैटिलिटी इंडेक्स यानी इंडिया VIX में इस हफ्ते साप्ताहिक आधार पर 7.03% की गिरावट आई। इसमें कई महीनों के निचले स्तर से अचानक उछाल के बाद शुक्रवार को गिरावट आई जो शेयर बाजार में थोड़ी स्थिरता आने के संकेत दे रही है। वायदा बाजार के सौदे अगले हफ्ते निफ्टी के 15,500 से 15,900 अंक के दायरे में रहने के संकेत दे रहे हैं।

अगले हफ्ते निफ्टी अगर 15,750 अंक को पार करके उससे ऊपर बना रहा तो पहले 15,850 अंक की तरफ बढ़ेगा। उसके बाद इसका निशाना 15,915 अंक होगा। गिरावट आने की सूरत में इसको पहले 15,600 अंक पर सपोर्ट मिलेगा। इस लेवल से नीचे आने पर निफ्टी 15,500 अंक तक गिर सकता है।

15,600 पर सपोर्ट

अगले हफ्ते निफ्टी अगर 15,750 अंक को पार करके उससे ऊपर बना रहा तो पहले 15,850 अंक की तरफ बढ़ेगा। उसके बाद इसका निशाना 15,915 अंक होगा। गिरावट आने की सूरत में इसको पहले 15,600 अंक पर सपोर्ट मिलेगा। इस लेवल से नीचे आने पर निफ्टी 15,500 अंक तक गिर सकता है।

संस्थागत निवेश

इस हफ्ते ज्यादातर कारोबारी सत्रों में विदेशी निवेशकों (FII) ने शुद्ध बिकवाली की। उन्होंने जितने रुपए के शेयर खरीदे, उससे 2,028 करोड़ रुपए ज्यादा के शेयर बेचे। घरेलू संस्थागत निवेशकों (DII) की तरफ से चल रहा खरीदारी का दौर भी थम गया। उन्होंने पिछले हफ्ते शुद्ध रूप से 92 करोड़ रुपए के शेयर खरीदे।

सोना-चांदी

इस हफ्ते सोने में 1.32% का उछाल आया जबकि चांदी में 1.22% की गिरावट आई। सोने में पिछले दो हफ्ते से हायर हाई का तेजी वाला पैटर्न बन रहा है। इस हफ्ते की शुरुआत में यह 48,700 रुपए प्रति 10 ग्राम तक गया था। हफ्ते के बाकी दिन यह सीमित दायरे में रहा। कोरोना वायरस के डेल्टा वैरिएंट के बढ़ते खतरे को देखते हुए लोगों की दिलचस्पी सोने जैसे सुरक्षित निवेश में बढ़ सकती है। इसलिए निवेशकों को हर गिरावट में खरीदारी की रणनीति बनाए रखनी चाहिए। जहां तक चांदी की बात है, तो इस हफ्ते इसमें 1.22% की गिरावट आई।

क्रूड ऑयल

इस हफ्ते क्रूड ऑयल के दाम में साप्ताहिक आधार पर 0.57% कम रही है। इसमें पिछले सात हफ्तों से हायर हाई का मजबूती वाला पैटर्न बन रहा था। इस हफ्ते यह पिछले हफ्ते के निचले स्तर से नीचे आ गया। इस हफ्ते इसमें कमजोर शुरुआत हुई, लेकिन इकोनॉमिक रिकवरी से बढ़ी डिमांड को देखते हुए अंतिम दिनों में उछाल आया।

अमेरिकी बाजारों की बात करें तो डाउ जोंस इस हफ्ते साप्ताहिक आधार पर 0.24% मजबूत हुआ। कमजोर शुरुआत देने के बाद अंतिम दिनों में उसमें उछाल आया और एक सत्र में 1.3% से ज्यादा बढ़ गया। उसमें शॉर्ट टर्म में तेजी का रुझान बना रहा है। आने वाले दिनों में वहां चौतरफा खरीदारी हो सकती है।

(चंदन तापड़िया, हेड-टेक्निकल & डेरिवेटिव्स रिसर्च एवं शिवांगी सारडा, क्वांटिटेटिव एनालिस्ट, मोतीलाल ओसवाल)

खबरें और भी हैं...