• Hindi News
  • Business
  • NITI Aayog Releases SDG India Index 2020 21; Kerala At The Forefront Of Performance, But Bihar's Condition Is The Worst

SDG इंडिया इंडेक्स 2020-21:नीति आयोग ने जारी की रिपोर्ट; प्रदर्शन करने में सबसे आगे केरल, लेकिन बिहार की हालत सबसे खराब

मुंबई6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

सरकारी थिंक टैंक नीति आयोग ने गुरुवार को सस्टेनेबल डेवलपमेंट गोल्स (SDG) इंडेक्स का तीसरा संस्करण जारी कर दिया। यह इंडेक्स पहली बार दिसंबर 2018 में लॉन्च किया गया था। इसके बाद से यह इंडेक्स देश में सतत विकास लक्ष्‍यों की प्रगति पर निगरानी रखने का कारगर माध्‍यम बन गया है। इस बार विधानसभा चुनावों के चलते संस्करण जारी करने में देरी हुई, जिसे मार्च 2021 में लॉन्च किया जाना था।

इंडेक्स में SDG पर गोल-वाइज स्कोर कैल्कुलेट होता है
इस इंडेक्स में प्रत्येक राज्य और केन्द्र शासित प्रदेश के लिए 16 SDG पर गोल-वाइज स्कोर को कैल्कुलेट करता है। कुल मिलाकर ये स्कोर 16 SDG पर उनके प्रदर्शन के आधार पर सब-नेशनल यूनिट के समग्र प्रदर्शन को मापने के लिए कैल्कुलेट किए गए गोल-वाइज स्कोर में से निकाले जाते हैं। यह इंडेक्स भारत में संयुक्त राष्ट्र के सहयोग से विकसित किया गया है।

ये स्कोर 0-100 के बीच होते हैं और अगर कोई राज्य/केन्द्र- शासित प्रदेश 100 का स्कोर प्राप्त करता है, तो यह इस तथ्य को दर्शाता है कि उस राज्य/केन्द्र शासित प्रदेश ने 2030 के लक्ष्य हासिल कर लिए हैं। किसी राज्य/केन्द्र शासित प्रदेश का स्कोर जितना ज्यादा होगा, उतनी ही ज्यादा दूरी तक उसने लक्ष्य हासिल कर लिया होगा।

केरल का प्रदर्शन सबसे अच्छा
सबसे अच्छा प्रदर्शन करने के लिहाज से केरल सबसे आगे है। इंडेक्स में राज्य का स्कोर 75 है, जो सबसे ज्यादा है। इसके बाद हिमाचल प्रदेश और तमिलनाडु का स्कोर 74 है। वहीं, कुल राज्यों में सबसे कम स्कोर बिहार है, जिसका स्कोर 52 है।

राज्यों में ध्यान देने वाले सेक्टर की पहचान किया जाता है
इंडिकेटर का निर्माण और आगामी कार्यप्रणाली SDG पर राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के परफॉर्मेंस को मापने और उन्हें रैंकिंग देने के केंद्रीय उद्देश्यों का सिंबल है। ये राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों का सपोर्ट उन सेक्टर की पहचान करने में करता है, जिन पर ज्यादा ध्यान देने की जरूरत है। जैसे एजुकेशन, हेल्थ, सेनिटाइजेशन, रोजगार, इंफ्रास्ट्रक्चर, एनर्जी और पर्यावरण है।

SDG पर सरकार के प्रयास को दुनियाभर में सराहा जा रहा
रिपोर्ट जारी करते हुए नीति आयोग के वाइस प्रेसिडेंट डॉ. राजीव कुमार ने कहा कि SDG इंडिया इंडेक्स और डैशबोर्ड के माध्यम से सस्टेनेबल डेवलपमेंट गोल्स की निगरानी के हमारे प्रयास को दुनियाभर में सराहा जा रहा है। हमें विश्वास है कि यह अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर निगरानी के प्रयासों को आगे बढ़ाने में मदद करेगा।

इंडेक्स के तहत वैश्विक लक्ष्‍यों के आधार पर रैंकिंग दिए जाने से राज्‍यों और केन्‍द्रशासित प्रदेशों के बीच स्‍वस्‍थ प्रतिस्‍पर्धा को भी बढ़ावा मिला है। नीति आयोग के सलाहकार (SDG) संयुक्ता समद्दर ने कहा कि तीसरे संस्करण में 17 उद्देश्य, 70 लक्ष्य और 115 इंडिकेटर शामिल किए गए हैं। नीति आयोग द्वारा जारी इस रिपोर्ट का नाम 'SDG इंडिया इंडेक्स एंड डैशबोर्ड 2020-21: कार्रवाई के दशक में भागीदारी' है।