• Hindi News
  • Business
  • NSE Nifty Live Indices; Trading Stop Due To Technical Glitch At National Stock Exchange Of India Ltd

NSE में गड़बड़ी पर सेबी ने मांगी रिपोर्ट:तकनीकी खराबी के बाद 3.45 बजे शुरू हुआ NSE, बीएसई भी 5 बजे तक खुला रहा

मुंबई8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • सभी ब्रोकरेज को एनएसई की ओर से मिलने वाले इंडेक्स प्राइस फीड के अपडेशन में दिक्कत आ रही है

शेयर बाजार रेगुलेटर ने NSE से रिपोर्ट मांगी है। यह रिपोर्ट NSE में तकनीकी गड़बड़ी पर मांगी गई है। आज एनएसई सुबह से लाइव अपडेट नहीं कर पाया। सेबी ने एक रिलीज जारी कर कहा है कि एनएसई को यह सलाह दी जाती है कि वह इस मामले में पूरी जानकारी मुहैया कराए।

सेबी ने पूछा, क्यों नहीं डिजास्टर रिकवरी साइट पर कारोबार शिफ्ट किया गया

सेबी ने कहा कि NSE ने डिजास्टर रिकवरी साइट पर कारोबार को क्यों नहीं शिफ्ट किया, इसका भी जवाब दे। यह जवाब एनएसई को जल्दी से जल्दी देने को कहा गया है। सेबी ने कहा कि वह लगातार NSE के साथ संपर्क में इस दौरान था। साथ ही उसे कारोबारी समय बढ़ाने को कहा गया। शेयर बाजार में बुधवार को शाम 5 बजे तक कारोबार हुआ। 3.45 बजे एनएसई में कारोबार शुरू हुआ था। इससे पहले 3.30 बजे प्री ओपन मार्केट कारोबार शुरु हुआ। इसी के साथ बीएसई पर भी 5 बजे तक कारोबार हुआ। इसका कट ऑफ टाइम 5.30 बजे रहा।

सुबह 11.40 को आई थी खराबी

इससे पहले नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE) के सिस्टम में सुबह 11:40 बजे खराबी आ गई थी। लोग जिस कीमत पर शेयर खरीदते हैं, वह कीमत एक्सचेंज पर दिखना बंद हो गई थी। इस वजह से ट्रेडिंग रोक दी गई। तकनीकी दिक्कत 3.45 को सही हुई। इसके बाद कारोबार का समय बढ़ाने का फैसला हुआ। साथ ही जो भी ऑर्डर आज पेंडिंग थे, उन्हें कैंसल कर दिया गया है।

1 बजे भी नहीं शुरू हो पाया NSE

इस बीच, खबर आई कि 1 बजे NSE में प्री मार्केट शुरू होगा और 1.15 बजे सामान्य कारोबार शुरू होगा। दरअसल प्री मार्केट कारोबार हर दिन सुबह 9 बजे होता है और 9.15 बजे मार्केट चालू हो जाता है। जब इसकी खबर फैली तो NSE ने यह कह दिया कि ऐसा कुछ नहीं है। एक ब्रोकरेज हाउस ने बताया कि आज कारोबार होना मुश्किल है। हालांकि, BSE में कैश सेगमेंट चालू है, इसलिए ट्रेडर या निवेशक वहां पर कारोबार करते रहे।

NSE के लाइव डेटा के अपडेट में आज सुबह से ही दिक्कत आ रही थी। सोशल मीडिया पर रिटेल ट्रेडर और ब्रोकरेज हाउस लगातार इसकी शिकायत कर रहे थे। एक्सचेंज पर इस तरह की समस्या जुलाई 2017 में भी देखने को मिली थी, जब कैश और वायदा सेगमेंट को तकनीकी दिक्कतों के चलते बंद करना पड़ा था।

NSE ने कैश और वायदा सेगमेंट बंद किया

NSE ने इस मामले में कहा कि टेलीकॉम सेवा देने वाली दो कंपनियों के साथ NSE के ढेर सारे लिंक हैं। हमने दोनों कंपनियों से बात की है। हम जल्द ही सिस्टम को फिर से चालू करने की कोशिश कर रहे हैं। इस वजह से 11.40 बजे से हमारे सभी सेगमेंट बंद हैं।

माक ट्रेडिंग सेशन भी होता है

एक यूजर्स ने लिखा है कि NSE इस तरह की गड़बड़ियों से निपटने और अपने सिस्टम को जांचने के लिए माक ट्रेडिंग सेशन करता रहता है, लेकिन फिर भी ऐसी गड़बड़ियां सामने आती रहती हैं। माक ट्रेडिंग सेशन मतलब अचानक आई गड़बड़ी का पता लगाना और उसे सुलझाना।

सोशल मीडिया पर बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE) ने कहा कि यहां सभी सेगमेंट में नॉर्मल ट्रेडिंग हो रही।

रिटेल ट्रेडर की नजर लगातार प्राइस फीड पर

रिटेल ट्रेडर लगातार अपडेट हो रहे प्राइस फीड पर नजर गड़ाए रहते हैं। ये ट्रेडर्स सोशल मीडिया पर लगातार इसकी शिकायत करते रहे। सोशल मीडिया पर शिकायतों में कहा गया है कि NSE इंडेक्स का लाइव डेटा अपडेट नहीं हो रहा है। निफ्टी 50, निफ्टी बैंक से जुड़े लाइव अपडेट हासिल करने में परेशानी हो रही है। शिकायत करने वालों ने कहा है कि वे लगातार NSE से संपर्क में हैं।