पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना से बाहर निकलने की कोशिश:IPO आने तक ओयो होटल्स 7,200 करोड़ रुपए खर्च करने के लिए तैयार

मुंबई6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
रितेश ने कहा कि आईपीओ के लिए कंपनी तैयार है। हमारे शेयर धारक और बोर्ड सदस्य इस मामले में सही फैसला सही समय पर लेंगे। बता दें कि ओयो भारत सहित कई देशों में छोटे होटल की सेवा देती है - Dainik Bhaskar
रितेश ने कहा कि आईपीओ के लिए कंपनी तैयार है। हमारे शेयर धारक और बोर्ड सदस्य इस मामले में सही फैसला सही समय पर लेंगे। बता दें कि ओयो भारत सहित कई देशों में छोटे होटल की सेवा देती है
  • कोरोना के दौरान कंपनी का बिजनेस पूरी तरह से ठप रहा क्योंकि आवागमन इस दौरान बंद था
  • रितेश अग्रवाल ने कर्मचारियों से कहा कि वे बाहरी शेयर धारकों के किसी दबाव में नहीं हैं

हॉस्पिटालिटी सेवाएं देने वाले ओयो होटल्स ने कहा है कि जब तक उसका प्रारंभिक सार्वजनिक निर्गम (IPO) नहीं आ जाता है, तब तक उसके पास 7,200 करोड़ रुपए ऑपरेशन पर खर्च करने के लिए हैं। हॉस्पिटालिटी सेक्टर का यह स्टार्टअप कोविड से निकलने की कोशिश कर रहा है। कंपनी को उम्मीद है कि वह बहुत जल्द ही IPO लेकर आ जाएगी।

बोर्ड के सदस्य के साथ चैट में कही यह बात

ओयो के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (CEO) रितेश अग्रवाल ने ओयो के बोर्ड सदस्य ट्राय एलेस्टेड के साथ एक चैट में कहा कि ओयो सॉफ्टबैंक ग्रुप कॉर्प के पोर्टफोलियो में सबसे बड़े स्टार्टअप में से एक है। इसका मूल्यांकन कोरोना से पहले 10 अरब डॉलर का था। हालांकि कंपनी ने कोविड के दौरान कर्मचारियों को निकाला भी और बिजनेस भी घाटे में रहा।

कंपनी का फोकस रेवेन्यू बढ़ाने पर

रितेश अग्रवाल ने कहा कि कंपनी का फोकस प्रति उपलब्ध रूम पर रेवेन्यू 60 से 80% पर है। कोरोना से पहले इसी स्तर पर यह था। कंपनी सभी बाजारों में इसे इसी स्तर पर लाना चाहती है। भारत, चीन, जापान और दक्षिण पूर्व एशिया में इस मामले में प्रगति हो रही है। अग्रवाल ने कहा कि हम अभी भी बेस्ट प्लेस पर नहीं हैं। अभी बहुत सारा काम करना है। बातचीत से पता चला है कि कंपनी के पास एक अरब डॉलर का अभी कैश है जिसमें इसकी सभी ग्रुप कंपनियां भी शामिल हैं।

सॉफ्टबैंक का सपोर्ट

ओयो के विस्तार और फाइनेंस को सॉफ्टबैंक सपोर्ट कर रहा है। कंपनी ने हजारों कर्मचारियों की छुट्‌टी कर दी थी। कुल कर्मचारियों की तुलना में दो तिहाई कर्मचारियों की छुट्‌टी की गई जो करीबन 10 हजार है। अग्रवाल ने कर्मचारियों से कहा कि वे बाहरी शेयर धारकों के किसी दबाव में नहीं हैं। निवेशक काफी मजबूत हैं। करीबन 2 अरब डॉलर का अपनी ही कंपनी में शेयर खरीदने वाले रितेश अग्रवाल आईपीओ को लेकर काफी प़ॉजिटिव हैं।

मैनेजमेंट का फोकस

रितेश ने कहा कि हमारे मैनेजमेंट का फोकस यह है कि हम अच्छी तरह से डिजाइन कंपनी हैं। आईपीओ के लिए कंपनी तैयार है। हमारे शेयर धारक और बोर्ड सदस्य इस मामले में सही फैसला सही समय पर लेंगे। बता दें कि ओयो भारत सहित कई देशों में छोटे होटल की सेवा देती है। इसने जिन होटल के साथ अपना टाईअप किया है, वे सभी मिडल क्लास और बजट क्लास वाले होटल हैं। कोरोना के दौरान हालांकि कंपनी का बिजनेस पूरी तरह से ठप रहा क्योंकि आवागमन इस दौरान बंद था। पर 25 मई के बाद से फ्लाइट की सेवा शुरू होने से धीरे -धीरे कंपनी का बिजनेस शुरू हो रहा है।

खबरें और भी हैं...

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- समय अनुसार अपने प्रयासों को अंजाम देते रहें। उचित परिणाम हासिल होंगे। युवा वर्ग अपने लक्ष्य के प्रति ध्यान केंद्रित रखें। समय अनुकूल है इसका भरपूर सदुपयोग करें। कुछ समय अध्यात्म में व्यतीत कर...

और पढ़ें