वैल्यूएशन को लेकर मतभेद:पेटीएम 2,000 करोड़ रुपए की डील को रद्द कर सकती है, IPO से पहले रकम जुटाने की योजना

मुंबईएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

IPO से पहले पेटीएम 2 हजार करोड़ के शेयर बिक्री के प्रस्ताव को रद्द कर सकती है। खबर है कि वैल्यूएशन के मतभेदों के चलते यह फैसला किया जा सकता है। पेटीएम में चीन के बिजनेसमैन जैकमा के अंट ग्रुप का निवेश है।

20 अरब डॉलर का वैल्यूएशन मांग रही है पेटीएम

जानकारी के मुताबिक, पेटीएम 2 हजार करोड़ रुपए के लिए 20 अरब डॉलर का वैल्यूएशन मांग रही थी। लेकिन शेयर खरीदने वालों ने इस वैल्यूएशन को काफी महंगा बताया। इससे यह डील अभी नहीं हो पाई है। पेटीएम का वैल्यूएशन इस समय करीबन 16 अरब डॉलर बताया जा रहा है। शेयर बाजार में पेटीएम की पैरेंट कंपनी One97 कम्युनिकेशंस लिमिटेड लिस्ट होने वाली है।

धमाकेदार लिस्टिंग की उम्मीद

पेटीएम को उम्मीद है कि चूंकि बाजार में अच्छी खासी लिक्विडिटी है और मार्केट में धमाकेदार लिस्टिंग भी हो रही है इसलिए उसे निवेशकों का अच्छा रिस्पांस मिलने वाला है। फ्लिपकार्ट और अमेजन डॉटकॉम से प्रतिस्पर्धा तेज होने के बाद मार्च 2021 को समाप्त वर्ष के दौरान कंपनी के रेवेन्यू में 10% की गिरावट आई थी। जानकारी के मुताबिक, IPO से पहले शेयर की बिक्री पर अंतिम निर्णय अभी नहीं लिया गया। पेटीएम अभी भी कम वैल्यूएशन पर संभावित रूप से प्री IPO बिक्री पर विचार कर सकती है।

जल्द ही मिलेगी सेबी की मंजूरी

कुछ लोगों का मानना है कि जल्द ही सेबी पेटीएम के IPO को मंजूरी दे सकती है। मॉर्गन स्टेनली, गोल्डमैन सैक्स ग्रुप इंक, सिटीग्रुप इंक और आईसीआईसीआई सिक्योरिटीज लिमिटेड जैसे मर्चेंट बैंकर्स शेयर्स सेल की दौड़ में हैं। पेटीएम ने 16 जुलाई को सेबी के पास IPO के लिए अर्जी दी थी। उसने इस अर्जी में कहा था कि 2,000 करोड़ रुपए के प्री IPO प्लेसमेंट पर कंपनी विचार कर सकती है।

दीवाली के बाद आएगा इश्यू

माना जा रहा है कि कंपनी का IPO दीवाली के बाद ही आ सकता है। क्योंकि 25 अक्टूबर को सोमवार है। अगर उस हफ्ते में कंपनी को मंजूरी मिलती भी है तो उसे बाकी तैयारियों के लिए एक हफ्ते की जरूरत होगी। ऐसे में उसका IPO 10 नवंबर के बाद ही आ पाएगा। पेटीएम अब तक का सबसे बड़ा IPO लेकर आ रही है। पेटीएम अभी के भाव के हिसाब से 3200 से 3800 रुपए पर IPO ला सकती है। रिटेल निवेशकों के लिए इसमें 10% हिस्सा रिजर्व है।

1.20 लाख करोड़ रुपए वैल्यूएशन

पेटीएम का अभी का वैल्यूएशन 1.20 लाख करोड़ रुपए आंका जा रहा है। पर आगे चलकर यह वैल्यूएशन 1.80 लाख करोड़ रुपए तक हो सकता है। जहां तक बात ग्रे मार्केट की है तो वहां का भाव धीरे-धीरे बढ़ रहा है। IPO के आने के पहले यह भाव ग्रे मार्केट में 4000 रुपए के ऊपर जा सकता है। मई में ग्रे मार्केट में इसका भाव 950 से 1 हजार रुपए के बीच कारोबार कर रहा था। हालांकि IPO से पहले जो शेयर खरीदे जाते हैं वे 1 साल के लिए लॉक इन रहते हैं। कंपनी 8,300 करोड़ रुपए के फ्रेश शेयर जारी करेगी जबकि 8,300 करोड़ रुपए के शेयर वर्तमान शेयर धारक बेचेंगे।

लगातार घाटा दे रही है कंपनी

कंपनी लगातार घाटे वाली रही है। इसने मसौदे में कहा है कि यह गारंटी नहीं दे सकती है कि आगे फायदा कमाएगी। यानी आगे भी यह घाटा दे सकती है। पिछले तीन सालों से इसका शुद्ध घाटा रहा है। वित्त वर्ष 2020 में 2,943 और 2021 में 1,704 करोड़ का घाटा रहा है। कंपनी में एंट ग्रुप की 30.33%, जापान के सॉफ्ट बैंक की 18.73%, एलवेशन कैपिटल की 17.65%, अलीबाबा की 7.32%, विजय शेखर शर्मा की 14.97% और अन्य की 11% हिस्सेदारी है।