पेटीएम का शेयर 9 वें दिन गिरावट में:निवेशकों की रकम आधा हुई, 2,150 की तुलना में स्टॉक का भाव 1,025 रुपए पर

मुंबई7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

सबसे ज्यादा वैल्यूएशन का दावा कर रही पेटीएम का वैल्यूएशन अब आधा हो गया है। इसका शेयर लगातार 9 दिन से पिट रहा है। IPO के भाव की तुलना में निवेशकों की रकम अब आधा हो गई है। स्टॉक 1,025 रुपए पर पहुंच गया है। यह स्टॉक 17 नवंबर को लिस्ट हुआ था।

2 महीने पहले लिस्ट हुआ था स्टॉक

पेटीएम का शेयर स्टॉक एक्सचेंज पर 2 महीने पहले लिस्ट हुआ था। इसकी लिस्टिंग इश्यू प्राइस 2,150 रुपए की तुलना में 2,050 रुपए पर हुई थी। उसी दिन इस स्टॉक में 27% की भारी गिरावट आई थी। किसी भी शेयर की लिस्टिंग के दिन इतनी भारी गिरावट हाल के सालों में पहली बार रही और वो भी देश के सबसे बड़े IPO में।

9 दिन में 21% से ज्यादा गिरा

अब पिछले 9 दिन में यह 21% से ज्यादा गिर चुका है। गुरुवार को यह करीबन 5% से ज्यादा गिरकर 1,031 रुपए पर बंद हुआ। हालांकि दिन में इसने 1,025 रुपए का लेवल भी टच किया। यह दोनों इसका अब तक का सबसे न्यूनतम स्तर है।

बजाज फाइनेंस से हो तुलना

दो दिन पहले ही पेटीएम की पैरेंट कंपनी वन97 कम्युनिकेशन के CEO विजय शेखर शर्मा ने कहा कि शेयर्स की लिस्टिंग खराब समय में हुई, जिससे इस पर असर दिख रहा है। उन्होंने कहा कि ऐसा लग रहा है कि कोई भी पेटीएम के शेयर को नीचे जाने से नहीं रोक सकता है। पेटीएम की तुलना बजाज फाइनेंस से की जानी चाहिए, जिससे कई मायनों में यह आगे है। हालांकि बजाज फाइनेंस का शेयर इस समय 7,798 हजार रुपए है।

18 नवंबर को 1,961 रुपए था भाव

18 नवंबर को इसका शेयर 1,961 रुपए पर था। यही इसका अब तक का उच्चतम लेवल है। इसका मार्केट कैप 66,862 करोड़ रुपए रह गया है। विदेशी ब्रोकरेज हाउस मैक्वायरी ने जब-जब इस शेयर की कीमत में गिरावट की आशंका जताई, वह सही हुई। उसने लिस्टिंग के बाद कहा था यह स्टॉक 1,200 रुपए तक जा सकता है, जो कुछ ही दिन में हो गया।

900 रुपए तक जाने की संभावना

इसी हफ्ते मैक्वायरी ने यह कहा कि पेटीएम का शेयर 900 रुपए तक जा सकता है। गुरुवार को यह 1,025 रुपए तक चला गया। हालांकि अब काफी सारे एनालिस्ट इस शेयर में ऊपर का लक्ष्य दे रहे हैं। मोर्गन स्टेनली, जेपी मोर्गन और गोल्डमैन जैसे ब्रोकरेज हाउस ने कहा कि यह स्टॉक 1,875 रुपए तक जा सकता है। अगर ऐसा होता है तो निवेशकों को यहां से 80% के करीब मुनाफा मिल सकता है।

शेयर का भाव और ज्यादा रख सकते थे

17 नवंबर को कंपनी के प्रेसीडेंट मधुर देवरा ने कहा था कि हम अगर चाहते तो शेयर का भाव और ज्यादा रख सकते थे, लेकिन निवेशकों के लिए हमने एक उचित और बैलेंस प्राइस रखने का निर्णय लिया। हालांकि इस समय पेटीएम का शेयर प्राइस यहां से 2-3 दिन और नीचे जा सकता है, जैसा कि मैक्वायरी ने इसका 900 रुपए रखा है।

अभी भी खरीदारी से बचना चाहिए

कुछ विश्लेषकों ने कहा कि अभी भी निवेशकों को इसमें खरीदारी से बचना चाहिए। जब तक कि कुछ पॉजिटिव डेवलपमेंट न हो, इसे नहीं लेना चाहिए। कंपनी ने अपने इतिहास में अभी तक कभी फायदा नहीं कमाया है। यह लगातार घाटे वाली रही है। सेबी के पास जमा मसौदा में भी इसके मैनेजमेंट ने यही कहा था कि निकट भविष्य में फायदा कमाने की कोई गुंजाइश नहीं दिख रही है।