• Hindi News
  • Business
  • Petrol Sales Expected To Reach PreKovid Level In December After 2 Pc Growth In October

पेट्रोल की बिक्री प्री-कोविड लेवल पर:अक्टूबर में 2% ग्रोथ के बाद दिसंबर में भी पेट्रोल की बिक्री प्री-कोविड लेवल पर पहुंचने की उम्मीद

नई दिल्लीएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
महाराष्ट्र में IOC की ईंधन बिक्री हालांकि प्री-कोविड लेवल तक नहीं पहुंच पाई है और डीजल की बिक्री उस स्तर से करीब 12% नीचे है - Dainik Bhaskar
महाराष्ट्र में IOC की ईंधन बिक्री हालांकि प्री-कोविड लेवल तक नहीं पहुंच पाई है और डीजल की बिक्री उस स्तर से करीब 12% नीचे है
  • ईंधन की बिक्री वापस प्री-कोविड लेवल पर पहुंचने से आर्थिक स्थिति सामान्य होने का संकेत मिलता है
  • IOC के वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि पिछले महीने से कंपनी की रिफाइनरी का उत्पादन 100% स्तर पर हो रहा है

अक्टूबर में 2 फीसदी का ग्रोथ दिखाने के बाद दिसंबर में भी पेट्रोल की बिक्री प्री-कोविड लेवल पर पहुंच जाने का अनुमान है। यह बात इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन (IOC) के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बुधवार को कही। उन्होंने कहा कि देश में ईंधन की बिक्री वापस प्री-कोविड लेवल पर पहुंच रही है, जिससे आर्थिक स्थिति नॉर्मल होने का संकेत मिल रहा है। नवंबर में कंपनी की पेट्र्रोल बिक्री प्री-कोविड लेवल से थोड़ी कम रह गई थी।

उन्होंने कहा कि पिछले महीने से हमारी रिफाइनरी का उत्पादन 100 फीसदी स्तर पर हो रहा है। इससे भी पता चलता है कि हम प्री-कोविड स्तर के लगभग पास पहुंच चुके हैं। कंपनी के एक्जीक्यूटिव डायरेक्टर और महाराष्ट्र स्टेट हेड अमिताभ अखौरी ने हालांकि कहा कि महाराष्ट्र में ईंधन की बिक्री प्री-कोविड लेवल तक नहीं पहुंच पाई है और डीजल की बिक्री उस स्तर से करीब 12 फीसदी नीचे है।

महाराष्ट्र में पेट्रोल की बिक्री नॉर्मल स्तर पर पहुंच सकती है

उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र में बिक्री कम रहने के कई कारण हैं। यह राज्य कुछ समय तक बंद रहता है। यहां अब भी रात में कफ्यू लगा रहता है। फिर भी यहां पेट्रोल की बिक्री नॉर्मल स्तर पर पहुंच जाने का अनुमान है, हालांकि डीजल की बिक्री में कमी बनी रहेगी।

छोटू की बिक्री किराना दुकानों पर भी होगी

उन्होंने कहा कि कंपनी 5 किलोग्राम के नए LPG सिलेंडर छोटू की बिक्री किराना दुकानों और ईंधन आउटलेट पर भी करने के बारे में सोच रही है। यह सिलेंडर अस्थायी प्रवासियों के काम का हो सकता है। कंपनी के किसी भी आउटलेट पर इसे रिफिल कराया जा सकता है।

हाइड्रोजन ईंधन पर भी रिसर्च कर रही कंपनी

कंपनी हाइड्रोजन को ईंधन के रूप में उपयोग करने पर भी रिसर्च कर रही है। उन्होंने कहा कि कंपनी पहले चरण में देश के 15 शहरों में XP 100 पेट्रोल लांच कर चुकी है, जिनमें नागपुर, पुणे और मुंबई भी शामिल हैं। इस फ्यूल का उपयोग हाई-एंड लक्गजरी कारों और बाइक्स में होता है।

महाराष्ट्र में 2,600-2,700 करोड़ रुपए का निवेश करेगी

अखौरी ने कहा कि IOC महाराष्ट्र में 2,600-2,700 करोड़ रुपए का निवेश करना चाहती है। इसमें से करीब 800 करोड़ रुपए का निवेश 2020-21 में होगा। कंपनी नागपुर में एक बॉटलिंग प्लांट भी लगा रही है। अगले 2-3 महीने में यह चालू हो जाएगा। इस पर 400 करोड़ रुपए का निवेश होगा।