• Hindi News
  • Business
  • PM Mudra Yojana (Business Loan); All You Need To Know About Pradhan Mantri Mudra Scheme, World Entrepreneurs' Day

वर्ल्ड एंटरप्रेन्योर डे विशेष:मुद्रा लोन लेकर आप भी शुरू कर सकते हैं खुद का काम, बिना किसी गारंटी के बिजनेस प्लान पर मिलेगा लोन

नई दिल्ली5 महीने पहले

आज यानी 21 अगस्त को पूरे विश्व में 'वर्ल्ड एंटरप्रेन्योर डे' मनाया जा रहा है। अगर आप भी इन दिनों अपना खुद का बिजनेस शुरू करने का प्लान बना रहे हैं तो आपको इसके लिए सस्ते में लोन मिल सकता है। सरकार द्वारा चलाई जा रही मुद्रा योजना के तहत खुद का बिजनेस शुरू करने के लिए आप 10 लाख रुपए तक का लोन ले सकते हैं। हम आज आपको इस योजना के बारे में बता रहे हैं।

नहीं देनी होती कोई गारंटी
2015 में शुरू हुई इस योजना का मकसद रेहड़ी-पटरी वाले से लेकर छोटे कारोबारी को बिना किसी गारंटी (जमानत) के लोन मुहैया कराना है। कोई भी व्यक्ति जो अपना स्वयं का व्यवसाय शुरू करना चाहता है, वह इस योजना के तहत लोन ले सकता है। इसके साथ ही अगर कोई अपने मौजूदा व्यवसाय को आगे बढ़ाना चाहता है, तो भी उसे इस योजना के जरिए लोन मिल सकता है।

मिलेगा 10 लाख तक का लोन
मुद्रा लोन को 3 श्रेणियों में वर्गीकृत किया गया है- शिशु ऋण, जिसमें अधिकतम सीमा 50 हजार रुपए है। किशोर ऋण, जिसमें 50 हजार से 5 लाख रुपए तक की सीमा है और तरुण ऋण, जिसमें अधिकतम 10 लाख रुपए तक की सीमा रखी गई है। यानी आप के काम के हिसाब से आपको लोन दिया जाएगा।

लोन लेने के लिए बताना होगा बिजनेस प्लान
सबसे पहले आवेदक को एक बिजनेस प्लान तैयार करना होता है। साथ ही लोन के लिए सभी आवश्यक दस्तावेज भी तैयार करने होते हैं। सामान्य दस्तावेजों के साथ बैंक आपसे आपका बिजनेस प्लान, प्रोजेक्ट रिपोर्ट, भविष्य की आय के अनुमान संबंधी दस्तावेज भी मांगेगा। जिससे उसे आपकी जरूरत की जानकारी हो, साथ ही यह भी अंदाजा लग सके कि आपको लाभ कैसे होगा या लाभ कैसे बढ़ेगा।

कितना देना होगा ब्याज?
मुद्रा लोन की खास बात यह है कि इसमें कोई निश्चित ब्याज दर नहीं है। अलग-अलग बैंक लोन पर अलग-अलग दर से ब्याज वसूल सकते हैं। ब्याज दर का निर्धारण कारोबार की प्रकृति और उससे जुड़े जोखिम के आधार पर होता है। वैसे आमतौर पर 10 से 12% सालाना ब्याज दर रहती है।

कैसे कर सकते हैं मुद्रा लोन के लिए अप्लाई?

  • सबसे पहले आप किस बैंक/वित्तीय संस्थान से लोन लेना चाहते हैं, यह तय कर लें। आवेदक एक से अधिक बैंकों का चयन कर सकता है। बैंक को दस्तावेजों के साथ लोन एप्लिकेशन फॉर्म भरकर जमा करना होगा।
  • मुद्रा लोन के लिए आपको आवेदन फॉर्म के साथ निम्न दस्तावेज जमा करने होते हैं। मुद्रा लोन आवेदन, बिजनेस प्लान या प्रोजेक्ट रिपोर्ट, पहचान संबंधी दस्तावेज जैसे पैन कार्ड, आधार कार्ड, मतदाता पहचान पत्र आदि।
  • एक से ज्यादा आवेदकों की स्थिति में पार्टनरशिप संबंधी दस्तावेज (डीड), टैक्स रजिस्ट्रेशन, बिजनेस लाइसेंस आदि। दस्तावेजों की संख्या लोन की राशि, व्यापार की प्रकृति, बैंक नियमों आदि के आधार पर कम या ज्यादा हो सकती है।
  • जैसे- निवास के प्रमाण संबंधी दस्तावेज, जैसे टेलीफोन बिल/बिजली बिल आदि। आवेदक की 6 महीने से कम पुरानी तस्वीरें, मशीन या अन्य सामग्री का कोटेशन जिसे खरीदना चाहते हैं, साथ ही जहां से खरीदेंगे उस सप्लायर/दुकानदार के बारे में जानकारी, श्रेणियां (एससी/एसटी/ओबीसी/अल्पसंख्यक), अगर लागू हो तो पिछले दो वर्षों की बैलेंस शीट और प्रोजेक्टेड बैलेंस शीट (दो लाख से ऊपर के लोन पर)।
  • मुद्रा लोन के लिए उस सरकारी या किसी अन्य बैंक या वित्तीय संस्थान में आवेदन देना होगा, जो मुद्रा लोन देता हो। आवेदन के लिए आपके कारोबार की पूरी जानकारी/प्लान सहित अन्य आवश्यक दस्तावेज जमा करने होंगे।
  • आवेदन सही पाए जाने पर बैंक या वित्तीय संस्थान मुद्रा लोन पास करेगा और आवेदक को मुद्रा कार्ड (डेबिट कार्ड) प्रदान किया जाएगा। आप इससे अपने हिसाब से खर्च कर सकते हैं।

योजना से जुड़ी खास बातें

  • इस योजना के तहत बिना गारंटी के लोन लिया जा सकता है।
  • इसके लिए किसी भी तरह की प्रोसेसिंग फीस नहीं चुकानी पड़ती।
  • लोन भुगतान अवधि को 5 साल तक बढ़ाया जा सकता है।
  • लोन लेने वाले को मुद्रा कार्ड दिया जाता है, जिसका उपयोग कारोबारी जरूरत पड़ने पर आने वाले खर्च के लिए कर सकता है। योजना से जुड़ी अधिक जानकारी के लिए यहां क्लिक करें
खबरें और भी हैं...