सोशल मीडिया / राजनीतिक दलों ने विज्ञापनों पर 53 करोड़ रुपए खर्च किए, भाजपा सबसे आगे रही

Dainik Bhaskar

May 19, 2019, 04:00 PM IST


प्रतीकात्मक फोटो प्रतीकात्मक फोटो
X
प्रतीकात्मक फोटोप्रतीकात्मक फोटो

  • फेसबुक और सहयोगी कंपनियों ने 26.5 करोड़ के विज्ञापन जुटाए
  • गूगल, यूट्यूब पर 27.36 करोड़ रुपये के कुल 14, 837 विज्ञापन आए

नई दिल्ली. आम चुनावों के दौरान सोशल मीडिया का इस्तेमाल करने के मामले में भाजपा ने दूसरी पार्टियों को पीछे छोड़ दिया। जबकि राजनीतिक विज्ञापन जुटाने के मामले में गूगल और उसकी सहयोगी कंपनियां सबसे आगे रहीं। गूगल, यूट्यूब पर 27.36 करोड़ रुपये के कुल 14, 837 विज्ञापन आए। फेसबुक और उसकी और सहयोगी कंपनियों ने 26.5 करोड़ के 1.21 लाख विज्ञापन जुटाए। यह आंकड़ा फरवरी से 15 मई के बीच का है। 

भाजपा ने गूगल पर 17 करोड़ के विज्ञापन दिए

  1. भाजपा ने 4.23 करोड़ रुपए खर्च करके फेसबुक पर 25सौ विज्ञापन दिए। माय फर्स्ट वोट फॉर मोदी, भारत के मन की बात और नेशन विद नमो जैसे पेजों पर भी पार्टी ने 4 करोड़ रुपए खर्च किए। गूगल पर भाजपा ने 17 करोड़ के विज्ञापन दिए।

  2. कांग्रेस ने फेसबुक पर 1.46 करोड़ रुपए खर्च करके 3686 विज्ञापन दिए। पार्टी ने गूगल पर 2.71 करोड़ रुपए के 425 विज्ञापन दिए। कुल मिलाकर सोशल मीडिया के जरिए प्रचार करने के मामले में वह भाजपा से काफी पीछे रही।

  3. तृणमूल कांग्रेस ने फेसबुक पर 29.28 लाख रुपए खर्च किए। जबकि आम आदमी पार्टी ने फेसबुक पर 13.62 लाख रुपए खर्च करके 176 विज्ञापन दिए। हालांकि, गूगल के पॉलिटिकल एड डेशबोर्ड के मुताबिक- आबर्न डिजीटल सॉल्यूशन नाम की कंपनी आप का राजनीतिक कैंपेन चला रही थी। इसके जरिए कुल 2.18 करोड़ के विज्ञापन जारी किए गए।

  4. सोशल मीडिया पर भी इस बार निर्वाचन आयोग की पैनी नजर है, क्योंकि यहां भी चुनाव प्रचार संबंधित कानूनी प्रावधान प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया की तर्ज पर लागू किया गया है। इसमें प्रावधान किया गया है कि राजनीतिक विज्ञापनों का पूर्व प्रमाणन किया जाएगा। विज्ञापन से संबंधित सामग्री का प्रकाशन किए जाने पर इसे प्रचार पर व्यय में जोड़ा जाएगा।

COMMENT