चेक भुगतान का नया नियम:बैंक ऑफ बड़ौदा 1 अगस्त से लागू कर रहा पॉजिटिव पे सिस्टम, 5 लाख या इससे ज्यादा के चेक पर लागू होगा

नई दिल्ली2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

1 अगस्त से बैंक ऑफ बड़ौदा अपने चेक भुगतान के नियम में कुछ बदलाव करने जा रहा है। बैंक ने अपने ग्राहकों को कहा है कि 1 अगस्त से 5 लाख या उससे अधिक अमाउंट वाले चेक के भुगतान के लिए पॉजिटिव पे सिस्टम अनिवार्य होगा। ये बदलाव चेक पेमेंट को सेफ बनाने और बैंक फ्रॉड को रोकने के लिए किया जा रहा है।

5 लाख या इससे ज्यादा के चेक पर लागू होगा नया सिस्टम
1 अगस्त 2022 से पॉजिटिव पे सिस्टम प्रणाली अनिवार्य होगी। यदि ग्राहक बैंक ब्रांच या डिजिटल चैनल के जरिए 5 लाख या उससे ज्यादा का चेक जारी करते हैं तो पॉजिटिव पे सिस्टम कंफर्मेशन अनिवार्य होगा। ग्राहकों को अकाउंट नंबर, चेक नंबर, चेक डेट, चेक अमाउंट और लाभार्थी का नाम देना पड़ेगा।

पंजाब नेशनल बैंक ने भी इसी साल से लागू किया नया सिस्टम
पंजाब नेशनल बैंक (PNB) ने भी इसी साल 4 अप्रैल से पॉजिटिव पे सिस्टम लागू किया है। यदि ग्राहक बैंक ब्रांच या डिजिटल चैनल के जरिए ₹10 लाख और उससे ऊपर चेक जारी करते हैं तो पॉजिटिव पे सिस्टम कंफर्मेशन अनिवार्य होगा। इससे पहले SBI, HDFC, ICICI और एक्सिस बैंक सहित कई बैंक इसे लागू कर चुके हैं।

क्या है पॉजिटिव पे सिस्टम?
पॉजिटिव पे सिस्टम के तहत चेक से जुड़ी कुछ जानकारी इलेक्ट्रॉनिक तरीके से भुगतान करने वाले बैंक को देनी होगी। यह जानकारी SMS, मोबाइल ऐप, इंटरनेट बैंकिंग या ATM के जरिए दी जा सकती है।

इसमें चेक जारी करने वाले को चेक की तारीख, भुगतान प्राप्त करने वाले का नाम, भुगतान की जाने वाली राशि, चेक नंबर जैसी जानकारी भुगतान करने वाले बैंक को देनी होगी।

क्यों देनी होगी चेक से जुड़ी जानकारी?
RBI के मुताबिक, चेक पर मौजूद जानकारी और चेक जारी करने वाले की ओर से उपलब्ध कराई गई जानकारी का चेक ट्रंकेशन सिस्टम (CTS) में मिलान किया जाएगा। यदि चेक और ग्राहक की ओर से उपलब्ध कराई गई जानकारी में कोई अंतर मिलता है तो CTS चेक को भुगतान करने वाले बैंक को लौटा देगा। इसके बाद भुगतान करने वाला बैंक इससे संबंधी निवारण उपाय अपनाएगा।