• Hindi News
  • Business
  • Life Time Achievement Award to Ratan Tata, 73 year old Narayan Murthy blesses Tata's feet at 82

टाईकाॅन मुंबई 2020 / नारायण मूर्ति ने रतन टाटा को लाइफ टाइम अचीवमेंट अवॉर्ड दिया, 73 साल के मूर्ति ने 82 के टाटा के पैर छूकर आशीर्वाद लिया

संस्कार और सम्मान की सबसे प्रेरक तस्वीर।
भारतीय उद्योगजगत के दो अनमोल रत्न नारायणमूर्ति और रतन टाटा। भारतीय उद्योगजगत के दो अनमोल रत्न नारायणमूर्ति और रतन टाटा।
X
भारतीय उद्योगजगत के दो अनमोल रत्न नारायणमूर्ति और रतन टाटा।भारतीय उद्योगजगत के दो अनमोल रत्न नारायणमूर्ति और रतन टाटा।

  • रतन टाटा ने कहा- निवेशकों का पैसा डुबोकर गायब होने वाले स्टार्टअप को दूसरा मौका नहीं मिलेगा, बिजनेस में नैतिकता जरूरी
  • 'पुराने जमाने के बिजनेस धीरे-धीरे कमजोर होते जाएंगे, इनोवेटिव कंपनियों के युवा फाउंडर भारतीय उद्योगजगत के भविष्य के लीडर होंगे'

Dainik Bhaskar

Jan 29, 2020, 04:34 PM IST

मुंबई. टाईकॉन अवॉर्ड समारोह में मंगलवार को उद्योगपति रतन टाटा (82) को टाईकाॅन मुंबई 2020 लाइफ टाइम अचीवमेंट अवॉर्ड से नवाजा गया। उन्हें यह अवॉर्ड काॅर्पाेरेट वर्ल्ड में मूल्याें के पक्षधर इन्फोसिस के को-फाउंडर एन आर नारायण मूर्ति (73) ने दिया। मूर्ति ने टाटा के पैर छूकर आशीर्वाद भी लिया। इस मौके पर रतन टाटा ने कहा कि जो स्टार्टअप निवेशकों का पैसा डुबोकर गायब हो जाते हैं उन्हें दूसरा या तीसरा मौका नहीं मिलेगा। खुद स्टार्टअप में निवेश करते रहने वाले टाटा ने यह भी कहा कि पुराने जमाने के बिजनेस धीरे-धीरे कमजोर होते जाएंगे। इनोवेटिव कंपनियों के युवा फाउंडर भारतीय उद्योग जगत के भविष्य के लीडर होंगे।

रतन टाटा का बयान ऐसे समय आया है जब कई स्टार्टअप्स पर कैश बर्न के आरोप लग रहे हैं। कैश बर्न स्टार्टअप्स के बिजनेस करने के उस तरीके को कहते हैं जिसके तहत वे भविष्य में लाभ कमाने की उम्मीद में लगातार नुकसान उठाते रहते हैं। इसे ई-कॉमर्स कंपनी फ्लिपकार्ट के उदाहरण से समझा जा सकता है। फ्लिपकार्ट एक समय अपना बिजनेस बढ़ाने के लिए हर महीने करीब एक हजार करोड़ रुपए खर्च कर रही थी।

बिजनेस में नैतिकता बरतनी चाहिए

टाटा ने कहा, ‘हमें ऐसे स्टार्टअप मिलेंगे जो ध्यान आकर्षित करेंगे। फिर वे पैसे इकट्ठा करेंगे और गायब हो जाएंगे। ऐसे स्टार्टअप को दूसरा या तीसरा मौका नहीं मिलेगा। खुद ई-कॉमर्स कंपनी स्नैपडील में निवेश कर चुके टाटा ने कहा कि बिजनेस में नैतिकता बरतनी चाहिए। रातों-रात चमकने के तरीके से बचना चाहिए। उन्होंने कहा कि स्टार्टअप्स को मार्गदर्शन, सलाह, नेटवर्किंग और पहचान की जरूरत होती है।

पेंशन फंड और बैंक भी स्टार्टअप में निवेश करें

देश की दूसरी सबसे बड़ी आईटी कंपनी इन्फोसिस के को-फाउंडर नारायण मूर्ति ने कहा कि पेंशन फंड और बैंकों को भी भारतीय स्टार्टअप में निवेश करना चाहिए। सिर्फ चुनिंदा निवेशकों के दम पर स्टार्टअप के लिए सकारात्मक माहौल नहीं बन सकता। अगर उनके लिए ज्यादा से ज्यादा फंड जुटाना है तो पेंशन फंड और बैंकों को निवेश के लिए आगे आना होगा।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना