पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

भविष्य की तैयारी:अगले साल से फ्यूल ऑन डिमांड सेवा शुरू कर सकती है रिलायंस-BP, चार शहरों से चलेगा पायलट प्रोजेक्ट

नई दिल्ली9 महीने पहले
  • डीजल की होम डिलिवरी के साथ होगी नई सेवा की शुरुआत
  • होम डिलिवरी के लिए कंपनी ने 100 डिलिवरी ट्रक खरीदे

रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (RIL) और ब्रिटेन की ब्रिटिश पेट्रोलियम (BP) Plc की जॉइंट वेंचर कंपनी रिलायंस BP मोबिलिटी लिमिटेड 2021 से फ्यूल ऑन डिमांड सेवा शुरू करने की योजना बना रही है। इसकी शुरुआत डीजल की डोरस्टेप डिलिवरी से होगी। इस मामले से वाकिफ दो सूत्रों के हवाले से एक रिपोर्ट में यह बात कही गई है।

रिलायंस BP मोबिलिटी की स्थापना जुलाई 2020 में की गई है। यह कंपनी जियो-BP ब्रांड बोर्ड के तहत काम करती है। एक सूत्र के मुताबिक, रिलायंस बड़े पैमाने पर ऑन-डिमांड फ्यूल डिलिवरी को योजना बना रही है। इसके लिए कंपनी ने 100 डिलिवरी ट्रकों की खरीदारी की है। कंपनी अगले साल से इस ऑपरेशन की शुरुआत करेगी।

पायल प्रोजेक्ट से होगी नई सेवा की शुरुआत

एक सूत्र के मुताबिक, रिलायंस अपनी डोरस्टेप डिलिवरी सेवा की शुरुआत पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर करेगी। इसके लिए चार शहरों का चयन किया गया है जिसमें बेंगलुरु, नोएडा, कोलकाता और गुजरात शामिल हैं। एक अन्य सूत्र का कहना है कि RIL-BP अपने रिटेल आउटलेट का विस्तार कर इनकी संख्या 1400 से बढ़ाकर 5000 करने की भी योजना बना रही है। सूत्र का कहना है कि जब सरकार पेट्रोल और CNG की मोबाइल फ्यूल रिटेलिंग की मंजूरी दे देगी तो RIL-BP भी इसकी शुरुआत कर देगी।

फ्यूल की होम डिलिवरी के लिए सरकारी कंपनियों ने भी मांगे EOI

इसी साल जुलाई में सरकारी तेल विपणन कंपनियों ने फ्यूल ऑन डिमांड सेवा शुरू करने के लिए स्टार्टअप्स से एक्सप्रेशन ऑफ इंटरेस्ट (EoI) मंगाए थे। इसके लिए अब तक 500 से ज्यादा EoI जमा हो चुके हैं। सरकारी तेल कंपनियों में इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन लिमिटेड (IOCL), भारत पेट्रोलियम कॉरपोरेशन लिमिटेड (BPCL) और हिन्दुस्तान पेट्रोलियम कॉरपोरेशन लिमिटेड (HPCL) शामिल हैं। हालांकि, RIL-BP खुद ही यह सेवा शुरू करना चाहती है और इसके लिए किसी स्टार्टअप के साथ साझेदारी नहीं करेगी।

नायरा एनर्जी भी बना रही है योजना

रॉसनेफ्ट प्रमोटेड नायरा एनर्जी भी फ्यूल ऑन डिमांड सेगमेंट में उतरने की योजना बना रही है। अभी नायरा एनर्जी मोबाइल फ्यूल रिटेलिंग की संभावनाएं तलाश रही है। कंपनी की योजना अभी प्रारंभिक अवस्था में है। कंपनी उपभोक्ताओं तक सुरक्षित, सुविधाजनक और बाधारहित तरीके से फ्यूल डिलिवरी के विकल्पों की तलाश कर रही है।

अभी ये स्टार्टअप दे रहे फ्यूल ऑन डिमांड सेवा

मौजूदा समय में देश में कई स्टार्टअप फ्यूल ऑन डिमांड सेवा दे रहे हैं। इसमें रेपोस एनर्जी, पेपफ्यूल्स, माईपेट्रोलपंप, फ्यूलबडी और हमसफर जैसे स्टार्टअप शामिल हैं। रेपोस एनर्जी के को-फाउंडर चेतन वालुंज का कहना है कि भारत अगले दशक में एनर्जी का सबसे बड़ा उपभोक्ता होगा। हम उम्मीद कर रहे हैं कि एनर्जी के डिस्ट्रीब्यूशन चैनल समस्या पैदा करेंगे। हमारा स्टार्टअप इस खाई को पाटने में मदद करेगा।