पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Business
  • Reliance Industries Results Refining Segment Affects Consolidated Profit

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

रिलायंस Q2 रिजल्ट:रिलायंस इंडस्ट्री के पेट्र्रोकेमिकल्स सेगमेंट का रेवेन्यू पहली तिमाही के मुकाबले 17.8% बढ़कर 29,665 करोड़ रुपये पर पहुंचा

नई दिल्लीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
रिफाइनिंग सेगमेंट का रेवेन्यू सितंबर तिमाही में 62,154 करोड़ रुपए रहा, जो जून तिमाही में 46,642 करोड़ रुपए और पिछले साल की सितंबर तिमाही में 97,229 करोड़ रुपए था
  • जून तिमाही में पेट्रोकेमिकल्स सेगमेंट का रेवेन्यू 25,192 करोड़ रुपए था
  • पिछले साल की सितंबर तिमाही में पेट्र्रोकेमिकल्स सेगमेंट का रेवेन्यू 38,538 करोड़ रुपए था
  • ग्रॉस रिफाइनिंग मार्जिन 9.4 डॉलर प्रति बैरल से घटकर 5.7 डॉलर पर आ गया
  • रिजल्ट से पहले BSE पर RIL के शेयर 1.37% उछलकर 2054.35 रुपए पर बंद हुए

देश की सबसे बड़ी लिस्टेड कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज (RIL) ने शुक्रवार को कहा कि इस कारोबारी साल की दूसरी तिमाही (जुलाई-सितंबर) में उसके पेट्रोकेमिकल्स सेगमेंट का रेवेन्यू पहली तिमाही (अप्रैल-जून) के मुकाबले 17.8% बढ़कर 29,665 करोड़ रुपए पर पहुंच गया। पहली तिमाही में पेट्रोकेमिकल्स सेगमेंट का रेवेन्यू 25,192 करोड़ रुपए था। एक साल पहले की समान तिमाही में यह रेवेन्यू 38,538 करोड़ रुपए था।

शुक्रवार जारी बाजार बंद होने के बाद जारी नतीजे में कंपनी ने कहा कि प्रोडक्ट पोर्टफोलियो की अधिक कीमतों और अधिक वॉल्यूम के कारण पेट्रोकेमिकल्स सेगमेंट के रेवेन्यू में बढ़ोतरी दर्ज की गई। इस दौरान पेट्रोकेमिकल्स सेगमेंट का EBITDA तिमाही-दर-तिमाही आधार पर 34.6% बढ़कर 5,964 करोड़ रुपए पर जा पहुंचा। यह जून तिमाही में 4,430 करोड़ रुपए और एक साल पहले की सितंबर तिमाही में 8,946 करोड़ रुपए था।

इसे भी पढ़ सकते हैं:

रिफाइनिंग सेगमेंट का एबिडा जून तिमाही के मुकाबले 21.4% घटा

कंपनी ने कहा कि रिलायंस पेट्रोकेमिकल्स के रिफाइनिंग सेगमेंट का एबिडा पिछली तिमाही में जून तिमाही के मुकाबले 21.4% घटकर 3,002 करोड़ रुपए रह गया। कंपनी ने कहा का प्लांड टर्नअराउंड, लोअर मिड्ल डिस्टलेट्स क्रैक्स और नैरोअर लाइट-हैवी क्रूड डिफरेंशियल के कारण एबिडा में गिरावट आई। रिफाइनिंग सेगमेंट का रेवेन्यू सितंबर तिमाही में 62,154 करोड़ रुपए रहा, जो जून तिमाही में 46,642 करोड़ रुपए और पिछले साल की सितंबर तिमाही में 97,229 करोड़ रुपए था।

रिफाइनिंग मार्जिन 5.7 डॉलर प्रति बैरल रहा

सितंबर तिमाही में रिलायंस पेट्रोकेमिकल्स का ग्रॉस रिफाइनिंग मार्जिन (GRM) घटकर 5.7 डॉलर प्रति बैरल रह गया, एक साल पहले की समान तिमाही में 9.4 डॉलर प्रति बैरल था। इस सेगमेंट का सिंगापुर बेंचमार्क के मुकाबले प्रीमियम भी 5.7 डॉलर प्रति बैरल ही रहा, क्योंकि बेंचमार्क शून्य पर ही अटका रहा। कंपनी ने कहा कि पिछली तिमाही में घरेलू आपूर्ति श्रृंखला के इस्तेमाल, मल्टीमॉडल लॉजिस्टिक्स और राष्ट्रव्यापी वेयरहाउसिंग सुविधाओं के कारण रिलायंस ने इस तिमाही में अब तक की सबसे अधिक घरेलू पॉलिमर बिक्री हासिल की है। रिजल्ट आने से पहले BSE पर रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयर 1.37 फीसदी उछलकर 2054.35 रुपए पर बंद हुए।

RIL का शुद्ध लाभ करीब 15% गिरा

रिलायंस इंडस्ट्रीज को सितंबर तिमाही में 9,567 करोड़ रुपए का शुद्ध फायदा हुआ है। एक साल पहले कंपनी को 11,262 करोड़ रुपए का फायदा हुआ था। यानी एक साल पहले की समान तिमाही की तुलना में कंपनी का लाभ करीबन 15 पर्सेंट गिरा है। कंपनी का रेवेन्यू 1,28,385 करोड़ रुपए रहा है। एक साल पहले समान तिमाही में कपनी का रेवेन्यू 1 लाख 48 हजार 526 करोड़ रुपए था। रेवेन्यू में भी करीबन 15 पर्सेंट की कमी आई है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- यह समय विवेक और चतुराई से काम लेने का है। आपके पिछले कुछ समय से रुके हुए व अटके हुए काम पूरे होंगे। संतान के करियर और शिक्षा से संबंधित किसी समस्या का भी समाधान निकलेगा। अगर कोई वाहन खरीदने क...

और पढ़ें