पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Business
  • Relief From Ever increasing Prices Of Edible Oils, Government Reduced Import Duty On Oil

बढ़ती महंगाई से मिलेगी राहत:खाने वाले तेलों की लगातार बढ़ रही कीमतों में गिरावट की उम्मीद, सरकार ने पाम ऑयल पर इंपोर्ट ड्यूटी घटाई

मुंबई3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

देश में लगातार महंगे हो रहे खाने के तेल का भाव सालभर में दोगुना हो गया है। जो सरसों का तेल पिछले साल 90 रुपए प्रति एक लीटर के भाव से बिक रहा था, वहीं तेल अब 200 रुपए प्रति लीटर में बिक रहा है। नतीजतन, आम लोगों के थाली का बजट गड़बड़ा गया है।

क्रूड पाम तेल पर इम्पोर्ट ड्यूटी 5% घटी
बढ़ती महंगाई से देने के लिए सरकार ने क्रूड पाम तेल पर इम्पोर्ट ड्यूटी को 5% घटाकर इसे 10% कर दिया है। वहीं, अन्य पाम तेल पर इसे 7.5% घटाकर 37.5% कर दिया है। अभी तक क्रूड पाम तेल पर इम्पोर्ट ड्यूटी 15% और अन्य पाम तेल पर 45% थी। इससे घरेलू बाजार में खाने वाले तेल की कीमतों को कम करने में मदद मिलेगी। केंद्रीय अप्रत्यक्ष कर और सीमा शुल्क बोर्ड (सीबीआईसी) ने इसकी जानकारी दी।

जारी नोटिफिकेशन के मुताबिक घटी दरें कटौती 30 जून 2021 से प्रभावी होंगी और 30 सितंबर 2021 तक लागू रहेंगी। सॉल्वेंट एक्सट्रैक्टर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया के ईडी बीवी मेहता ने कहा, क्रूड पाम तेल (सीपीओ) पर इम्पोर्ट ड्यूटी 15% से घटाकर 10% की गई है। इससे क्रूड पाम तेल पर प्रभावी ड्यूटी 35.75% से 5.50% घटकर 30.25% हो गई है।