कॉरपोरेट:आरआईएल को केकेआर से 5550 करोड़ रुपए मिले, रिलायंस रिटेल की 1.28% हिस्सेदारी के लिए पिछले महीने हुआ था सौदा

नई दिल्ली2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
आरआईएल के चेयरमैन मुकेश अंबानी अब तक रिलायंस रिटेल की 7.28 फीसदी हिस्सेदारी बेच चुके हैं। - Dainik Bhaskar
आरआईएल के चेयरमैन मुकेश अंबानी अब तक रिलायंस रिटेल की 7.28 फीसदी हिस्सेदारी बेच चुके हैं।
  • रिलायंस रिटेल में अब तक 7 कंपनियों ने किया निवेश
  • इसमें से सिल्वर लेक और केकेआर ने भुगतान किया

रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (आरआईएल) को प्राइवेट इक्विटी फर्म केकेआर से 5550 करोड़ रुपए मिल गए हैं। आरआईएल ने 23 सितंबर को अपनी रिटेल सब्सिडियरी रिलायंस रिटेल वेंचरर्स लिमिटेड (आरआरवीएल) की 1.28 फीसदी हिस्सेदारी केकेआर को बेचने की घोषणा की थी।

8.13 करोड़ इक्विटी शेयर आवंटित किए

आरआईएल ने गुरुवार को दाखिल रेगुलेटरी फाइलिंग में कहा है कि उसे यह रकम केकेआर की यूनिट अलैसम एशिया होल्डिंग्स II पीटीई लिमिटेड से मिला है। इसके एवज में कंपनी को 81,348,479 करोड़ इक्विटी शेयर आवंटित कर दिए गए हैं। यह सौदा रिलायंस रिटेल की 4.21 लाख करोड़ रुपए की प्री-मनी इक्विटी वैल्यू के आधार पर हुआ था।

रिलायंस इंडस्ट्रीज में केकेआर का यह दूसरा निवेश

प्राइवेट इक्विटी फर्म केकेआर का रिलायंस इंडस्ट्रीज में यह दूसरा निवेश है। इससे पहले केकेआर ने रिलायंस की टेलीकॉम सब्सिडियरी जियो प्लेटफॉर्म्स में 2.32 फीसदी हिस्सेदारी के लिए 11,367 करोड़ रुपए का निवेश किया था।

सिल्वर लेक ने भी किया 7500 करोड़ रुपए का भुगतान

अमेरिका की इक्विटी फर्म सिल्वर लेक ने भी 9 सितंबर को रिलायंस रिटेल की 1.75 फीसदी हिस्सेदारी खरीदी थी। इसके लिए सिल्वर लेक ने आरआईएल को 7500 करोड़ रुपए का भुगतान कर दिया है। इससे पहले सिल्वर लेक ने रिलायंस की टेक कंपनी जियो प्लेटफॉर्म में भी निवेश किया था।

देश का तेजी से बढ़ता प्लेटफॉर्म है रिलायंस रिटेल

रिलायंस इंडस्ट्रीज की रिटेल सब्सिडियरी रिलायंस रिटेल देश का तेजी से बढ़ता रिटेल प्लेटफॉर्म है। ऑनलाइन ग्रॉसरी प्लेटफॉर्म जियोमार्ट समेत रिलायंस रिटेल कई प्रकार के रिटेल और होलसेल कारोबार करता है। रिलायंस रिटेल के देश के 7000 कस्बों में 12 हजार से ज्यादा स्टोर हैं।

रिलायंस रिटेल को अब तक मिला निवेश

खबरें और भी हैं...