सस्ता होम लोन:बजाज फिनसर्व और बैंक ऑफ इंडिया सहित कई बैंक 8% से भी कम ब्याज पर दे रहे होम लोन

नई दिल्ली13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

रिजर्व बैंक (RBI) के रेपो रेट बढ़ाने के बाद कई बैंकों ने होम लोन की ब्याज दरों में बढ़ोतरी कर दी है। देश के सबसे बड़े बैंक SBI ने भी होम लोन पर ब्याज बढ़ाकर दिया है। अगर आप SBI ने भी होम लोन लेते हैं तो आपको कम से कम 8.05% सालाना ब्याज चुकाना होगा। हालांकि अब भी कई बैंक और वित्तीय संस्थाएं ऐसी हैं जो 8% से कम ब्याज पर लोन दे रही हैं। हम आपको इनके बारे में और यहां से लोन लेने पर कितनी किस्त देनी होगी ये भी बता रहे हैं।

अगर आप 8% ब्याज पर लोन लेते हैं तो कितनी EMI देनी होगी

होम लोन अमाउंट20 लाख रु.30 लाख रु.
अवधि20 साल20 साल
EMI16,729 रु.25,093 रु.
कुल ब्याज20.15 लाख रु.30.22 लाख रु.
कुल पेमेंट40.15 लाख रु.60.22 लाख रु.

होम लोन लेते समय इन 4 बातों का रखें ध्यान

कम रकम के लिए करें अप्लाई
कम लोन-टु-वैल्‍यू (LTV) रेश्यो आपके लिए लोन लेना आसान कर सकता है। इसका मतलब है कि घर खरीदने के लिए आपको अपना कॉन्ट्रिब्‍यूशन ज्‍यादा रखना होगा। कम LTV रेश्यो चुनने से प्रॉपर्टी में खरीदार का कॉन्ट्रिब्‍यूशन बढ़ जाता है। इससे बैंक का जोखिम कम होता है। इससे आपको लोन मिलने के चांस बढ़ जाएंगे। आमतौर पर बैंक प्रॉपर्टी की कीमत का 75-90% तक का लोन देता है। ऐसे में शेष राशि को लोन लेने वाले को डाउनपेमेंट या मार्जिन कॉन्ट्रिब्यूशन के रूप में चुकाना होता है। इसके बिना आपको लोन नहीं मिलेगा।

फिक्स ऑब्लिगेशन टु इनकम रेश्यो का रखें ध्यान
जब हम बैंक में लोन के लिए अप्लाई करते हैं तो बैंक फिक्स ऑब्लिगेशन टु इनकम रेश्यो (FOIR) भी देखता है। इससे पता चलता है कि आप हर महीने लोन की कितने रुपए तक की किस्त दे सकते हैं। FOIR से पता चलता है कि आपकी पहले से जा रही EMI, घर का कि‍राया, बीमा पॉलि‍सी और अन्‍य भुगतान मौजूदा आय का कि‍तना फीसदी है। अगर लोन दाता को आपके ये सभी खर्च आपकी सैलरी के 50% तक लगते हैं तो वह आपकी लोन एप्‍लि‍केशन को रि‍जेक्‍ट कर सकता है। इसीलिए यह ध्यान भी रखें कि लोन की रकम इससे ज्यादा न हो।

प्री-पेमेंट पेनल्टी की जानकारी जरूर लें
कई बैंक समय से पहले लोन अदा करने पर पेनल्टी लगाते हैं। ऐसे में बैंकों से इस बारे में पूरी डिटेल ले लें, क्योंकि समय से पहले लोन चुकाने पर बैंकों को उम्मीद के मुताबिक कम ब्याज मिलता है। ऐसे में उनकी ओर से कुछ टर्म एडं कंडीशन लगाए जाते हैं। इसलिए होम लोन लेते वक्त इस बारे में पूरी जानकारी हासिल कर लें।

संबंधित बैंक से लें लोन
अगर आप होम लोन लेने के बारे में सोच रहे हैं तो उसी बैंक से लें, जहां आपका अकाउंट हो, या जहां से आप फिक्स्ड डिपॉजिट या क्रेडिट कार्ड की सेवा ले रहे हैं, क्योंकि बैंक अपने रेगुलर कस्टमर्स को आसानी से और उचित ब्याज दर पर लोन उपलब्ध कराते हैं।

खबरें और भी हैं...