बिजनेस लोन की लांचिंग:एसबीआई ने लांच किया आरोग्यम हेल्थकेयर बिजनेस लोन, 10 लाख से 100 करोड़ तक का कर्ज मिलेगा

मुंबई4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
एसबीआई का आरोग्यम हेल्थकेयर बिजनेस लोन कोविड लोन बुक के तहत आएगा। इसे बैंक ने रिजर्व बैंक के नियमों के तहत बनाया है - Dainik Bhaskar
एसबीआई का आरोग्यम हेल्थकेयर बिजनेस लोन कोविड लोन बुक के तहत आएगा। इसे बैंक ने रिजर्व बैंक के नियमों के तहत बनाया है
  • छोटे शहरों के लिए 10 लाख रुपए तक का लोन मिलेगा
  • 2 करोड़ तक का लोन बिना किसी गारंटी के मिलेगा

देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने आरोग्यम हेल्थकेयर बिजनेस लोन लांच किया है। यह एक अनोखा लोन प्रोडक्ट है जो हेल्थकेयर इकोसिस्टम को सपोर्ट करने के लिए बनाया गया है।

कैश क्रेडिट, टर्म लोन के रूप में ले सकते हैं

बैंक की ओर से जारी प्रेस बयान के मुताबिक, यह नया लोन कैश क्रेडिट, टर्म लोन, बैंक गारंटी और लेटर ऑफ क्रेडिट के रूप में लिया जा सकता है। इसके तहत कम से कम 10 लाख रुपए का लोन मिलेगा जबकि अधिकतम 100 करोड़ रुपए का लोन मिलेगा। यह लोन 10 साल के लिए होगा और इसके तहत नई फैसिलिटी के विस्तार और सेटिंग पर खर्च करना होगा।

चेयरमैन ने लांच किया प्रोडक्ट

बैंक ने कहा कि इसे बैंक के चेयरमैन दिनेश खारा ने लांच किया। देश के हेल्थकेयर सेक्टर को सपोर्ट करने के लिए इस नए प्रोडक्ट को लांच किया गया है। इसके तहहत सभी हेल्थकेयर इकोसिस्टम जैसे हॉस्पिटल्स, नर्सिंग होम, डायग्नॉस्टिक सेंटर्स, पैथोलॉजी लैब, सप्लायर्स, आयातक (इंपोर्टर्स), लॉजिस्टिक कंपनियां लोन ले सकती हैं। इसमें छोटे शहरों के लिए 10 लाख और फिर उसी आधार पर बाकी बड़े शहरों को लोन दिया जाएगा। बड़े शहरों के लिए 100 करोड़ रुपए तक का लोन बैंक देगा।

2 करोड़ तक कोई गारंटी नहीं

इस लोन के तहत जो भी यूनिट और कंपनियां कर्ज लेंगी उनको 2 करोड़ रुपए तक के लिए किसी भी तरह की गारंटी या सिक्योरिटी नहीं देनी होगी। बैंक इसे गारंटी स्कीम ऑफ क्रेडिट गारंटी फंड ट्रस्ट फॉर माइक्रो एंड स्मॉल एंटरप्राइजेज (CGTMSE) के तहत कवर करेगा। दिनेश खारा ने कहा कि हमारा हेल्थकेयर सिस्टम पिछले एक साल से बिना रुकावट के और बेहतरीन सपोर्ट देश में दे रहा है। इसे देखते हुए कोविड-19 के तहत हमने इस प्रोडक्ट को लांच किया है।

यह एक तरह से बिजनेस लोन है। हमारा मानना है कि स्पेशल लोन प्रोडक्ट कंपनियों को जरूरत के तहत मदद कर पाएगा। आरोग्यम हेल्थकेयर बिजनेस लोन कोविड लोन बुक के तहत आएगा और इसे बैंक ने रिजर्व बैंक के नियमों के तहत बनाया है।

पर्सनल लोन भी लांच किया था

इससे पहले भी बैंक ने इसी तरह के पर्सनल लोन को लांच किया था। उस लोन में 8.5 पर्सेंट की दर से ब्याज लगेगा। बैंक ने एक प्रेस बयान में बताया कि 5 लाख रुपए तक का कर्ज 60 महीनों यानी पांच साल तक के लिए मिलेगा। इस पर 8.5% की दर से ब्याज चुकाना होगा। इस समय ब्याज की दर ऐतिहासिक रुप से निचले स्तर पर हैं। होम लोन इस समय 6.70% की दर से मिल रहा है। ऐसे में बैंक ने कोरोना मरीजों के लिए इस तरह का लोन लांच कर दिया है।