पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Business
  • SEBI Bars NDTV Promoters Pranay Rai And Radhika Rai For 2 Years From Entering The Stock Market

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

NDTV इनसाइडर ट्रेडिंग:सेबी ने NDTV के प्रमोटर्स प्रणय राय और राधिका राय पर शेयर बाजार में प्रवेश करने से 2 साल की रोक लगाई

नई दिल्ली2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
नियामक ने दोनों प्रमोटर्स को बाजार में अवैध रूप से कमाई गई 16.97 करोड़ रुपए से ज्यादा की रकम वापस करने के लिए कहा - Dainik Bhaskar
नियामक ने दोनों प्रमोटर्स को बाजार में अवैध रूप से कमाई गई 16.97 करोड़ रुपए से ज्यादा की रकम वापस करने के लिए कहा
  • प्रणय और राधिका राय ने NDTV के शेयरों में इनसाइडर ट्रेडिंग की थी
  • यह मामला 12 साल से ज्यादा पुराना है
  • 7 व्यक्तियों और कंपनियों पर भी बाजार में प्रवेश करने से रोक लगी

बाजार नियामक भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (SEBI) ने NDTV के प्रमोटर्स प्रणय राय और राधिका राय पर शेयर बाजार में प्रवेश करने से 2 साल की रोक लगा दी। सेबी ने 12 साल से ज्यादा पहले हुई इनसाइडर ट्रेडिंग में संलिप्तता की वजह से दोनों प्रमोटस पर कार्रवाई की और उन्हें अवैध रूप से कमाई गई 16.97 करोड़ रुपए से ज्यादा की रकम वापस करने का आदेश दिया। शुक्रवार को जारी किए गए 3 अलग-अलग आादेशों में नियामक ने 1 से 2 साल तक NDTV के शेयरों में हुई इनसाइडर ट्रेडिंग के लिए 7 लोगों और कंपनियों पर भी बाजार में प्रवेश करने से रोक लगा दी।

इन 5 लोगों और कंपनियों में से कुछ को अवैध रूप से कमाई गई रकम वापस करने का भी आदेश दिया है। उन्होंने जब अवैध ट्रेडिंग की थी, तब उनके पास अनपब्लिश्ड प्राइस सेंसिटिव इन्फोर्मेशन (UPSI) थे। सेबी ने अपने आदेश में कहा कि इन सभी इकाइयों ने प्रोहिबिशन ऑफ इनसाइडर ट्रेडिंग (PIT) नियमों का उल्लंघन किया है।

6% सालाना की दर ब्याज सहित अवैध कमाई करनी होगी वापस

बाजार नियामक ने सितंबर 2006 से लेकर जून 2008 तक इस मामले की जांच की थी, जिसमें इनसाइडर ट्रेडिंग नियमों के बार हुए उल्लंघनों का पता चला था। मामले के दोषी संयुक्त रूप से या अलग-अलग रकम का भुगतान कर सकते हैं। इसके अलावा उन्हें 17 अप्रैल 2008 से लेकर भुगतान की तिथि तक 6 फीसदी सालाना की दर से ब्याज का भी भुगतान करना होगा।

प्रणय और राधिका राय के पास कंपनी के पुनर्गठ से जुड़ी UPSI थी

सेबी ने जांच में पाया कि प्रणय और राधिका राय दोनों ने मिलकर न्यू देलही टेलीविजन लिमिटेड (NDTV) के शेयरों में इनसाइडर ट्रेडिंग के जरिये अवैध तरीके से 16.97 करोड़ रुपए कमाए। यह कमाई उन्होंने जब की थी उस समय उनके पास कंपनी के प्रस्तावित पुनर्गठन से संबंधित UPSI थी। जांच अवधि के दौरान प्रणय राय चेयरमैन और होल टाइम डायरेक्टर थे और राधिका राय MD थी और वे उस निर्णय प्रक्रिया से जुड़े हुए थे, जिसका संबंध UPSI से था।

प्रणय व राधिका राय ने जब शेयर बेचे थे, तब उनके लिए ट्रेडिंग विंडो बंद था

कंपनी के पुनर्गठ पर डिस्कशन 7 सितंबर 20007 को शुरू हुआ और इस बारे में 16 अप्रैल 2008 को डिस्क्लोजर किया गया। इसलिए यह अवधि UPSI अवधि थी। प्रणय राय और राधिका राय ने 17 अप्रैल 2008 को शेयर बेचे थे, जब उनके लिए ट्रेडिंग विंडो बंद था और इस बिक्री से उन्होंने 16,97,38,335 रुपए का लाभ कमाया था।

राय ने प्रीवेंशन ऑफ इनसाइडर ट्रेडिंग के लिए कंपनी की आचार संहिता के विरुद्ध काम किया

इस ट्रेडिंग के जरिये प्रणय और राधिका राय ने PIT नियम तोड़े और प्रीवेंशन ऑफ इनसाइडर ट्रेडिंग के लिए कंपनी की आचार संहिता के विरुद्ध भी काम किया। इस आचार संहिता के तहत वे शेयर बााजार में सूचना डिस्क्लोज किए जाने के बाद कम से कम 24 धंटे तक ट्रेड नहीं कर सकते थे। प्रणय व राधिका राय पर शेयर बाजार में प्रवेश करने से 2 साल की रोक लगाई गई है। उन्हें अवैध कमाई को 6 फीसदी की सालाना ब्याज के साथ वापस करने का भी आदेश दिया गया है।

कुछ और लोगों ने 6 से 8 लाख रुपए कमाए थे

इस मामले में UPSI अवधि में NDTV के शेयरों में ट्र्रेड कर विक्रमादित्य चंद्र (प्रासंगिक अवधि में ग्रुप CEO और एक्जीक्यूटिव डायरेक्टर) ने 6.67 लाख रुपए कमाए थे। तत्कालीन सीनियर एडवाइजर-एडीटोरियल एंड प्रॉजेक्ट्स इश्वरी प्रसाद बाजपेयी ने 8.82 लाख रुपए का लाभ कमाया था। तत्कालीन डायरेक्टर फाइनेंस व ग्रुप CFO सौरभी बनर्जी को 47,000 रुपए का घाटा हुआ था। इन लोगों ने जो शेयर UPSI अवधि में बेचे थे, वे उन्होंने ESOP अलॉटमेंट के तहत हासिल किए थे।

चंद्रा, बाजपेयी और बनर्जी पर बाजार में प्रवेश करने से 1 साल की रोक

सेबी ने चंद्रा, बाजपेयी और बनर्जी को भी अवैध लाभ को 6 फीसदी सालाना ब्याज के साथ वापस करने का आदेश दिया और उन पर बााजार में प्रवेश करने से 1 साल की रोक लगा दी। संजय दत्त की पत्नी प्रेणिता दत्त और संजय दत्त से जुड़ी कंपनियों क्वांटम सिक्युरिटीज प्राइवेट लिमिटेड, SAL रियल एस्टेट प्राइवेट लिमिटेड और ताज कैपिटल पार्टनर्स प्राइवेट लिमिटेड ने भी UPSI अवधि में इनसाइडर ट्रेडिंग के जरिये 2.2 करोड़ रुपए की अवैध कमाई की थी। संजय दत्त NDTV ग्रुप के ऑन-कॉल और इन हाउस एडवाइजर/ टीम मेंबर थे।

संजय दत्त ने अपनी पत्नी और कंपनियों को प्राइस सेंसिटिव सूचनाएं दी थीं

जांच अवधि में कंपनी ने एक्सचेंज में 6 प्राइस सेंसिटिव इंफॉर्मेशन फाइल किए थे। दत्त इन सूचनाओं के चेन से जुड़े थे और उन्होंने अपनी कंपनियों और पत्नी को ये सूचनाएं दी थीं। दत्त की कंपनियों और पत्नी ने इसके बाद UPSI अवधि में NDTV के शेयरों में ट्र्रेड किया और 2.2 करोड़ रुपए की अवैध कमाई की। सेबी ने यह राशि उन्हें मिलकर या अलग-अलग 6 फीसदी सालाना ब्याज के साथ जमा करने का आदेश दिया। इसके साथ ही संजय दत्त सहित सभी इकाइयों को 2 साल के लिए शेयर बाजार में प्रवेश करने पर रोक लगा दी।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज आप में काम करने की इच्छा शक्ति कम होगी, परंतु फिर भी जरूरी कामकाज आप समय पर पूरे कर लेंगे। किसी मांगलिक कार्य संबंधी व्यवस्था में आप व्यस्त रह सकते हैं। आपकी छवि में निखार आएगा। आप अपने अच...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser