--Advertisement--

शेयर बाजार / सेंसेक्स 537 अंक लुढ़का, 5 सत्रों में निवेशकों को 8.47 लाख करोड़ रु का नुकसान

Dainik Bhaskar

Sep 24, 2018, 06:22 PM IST


Sensex drop 450 points Nifty fall below 11000 on Monday 24 Sep
X
Sensex drop 450 points Nifty fall below 11000 on Monday 24 Sep

  • 6 फरवरी के बाद सेंसेक्स में सबसे बड़ी गिरावट
  • उस दिन सेंसेक्स में 561.22 अंक की गिरावट आई थी
  • 11 जुलाई के बाद सेंसेक्स सबसे निचले स्तर पर बंद
  • उस दिन 36,265.93 पर क्लोजिंग हुई
  • आईएलएंडएफएस के लोन डिफॉल्ट का बाजार पर असर

मुंबई. सेंसेक्स सोमवार को 536.58 अंक की गिरावट के साथ 36,305.02 पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान इसने 36,216.95 का निचला स्तर छुआ। निफ्टी की क्लोजिंग 175.70 अंक नीचे 10,967.40 पर हुई। इंट्रा-डे में इसने 10,943.60 का लो बनाया। बैंकिंग और ऑटो शेयरों में सबसे ज्यादा बिकवाली रही। शेयर बाजार में लगातार 5वें सत्र में गिरावट रही। इससे निवेशकों को 8.47 लाख करोड़ रुपए का नुकसान हुआ।

इंडियाबुल्स हाउसिंग फाइनेंस में 7% से ज्यादा गिरावट

  1. पिछले हफ्ते बाजार लगातार 4 सत्रों में नुकसान में रहा। एक दिन मुहर्रम की वजह से कारोबार बंद रहा था। पिछले हफ्ते सेंसेक्स को 1,249 अंक का नुकसान हुआ।

  2. एनएसई के टॉप-5 लूजर

    शेयर गिरावट
    इंडियाबुल्स हाउसिंग फाइनेंस 7.26%
    आयशर मोटर्स 6.94%
    महिंद्रा एंड महिंद्रा 6.45%
    एचडीएफसी 6.27%
    बजाज फाइनेंस 6.07%

  3. एनएसई के टॉप-5 गेनर

    शेयर बढ़त
    टीसीएस 4.99%
    कोल इंडिया 2.31%
    इंफोसिस 2.08%
    टेक महिंद्रा 1.43%
    रिलायंस 1.40%

  4. सोमवार को बीएसई के 19 में से 16 सेक्टर इंडेक्स नुकसान में रहे। रियल्टी इंडेक्स 5.1% लुढ़क गया। ऑटो और फाइनेंस इंडेक्स 3.5% गिरावट के साथ बंद हुए।

  5. आईएलएंडएफएस ग्रुप के लोन डिफॉल्ट का बाजार पर सोमवार को भी असर देखा गया। चीन पर अमेरिका का नया आयात शुल्क भी सोमवार से लागू हो गया। इससे एशियाई बाजारों में गिरावट आई। भारतीय बाजार पर भी इसका असर पड़ा।

  6. डीएचएफएल के शेयर में सोमवार को 12% तेजी आई। बीएसई पर यह 393 रुपए पर बंद हुआ। शुक्रवार को कंपनी का शेयर 42% से ज्यादा टूट गया था।

  7. क्रूड महंगा होने से एविएशन सेक्टर के शेयरों में तेज गिरावट आई। स्पाइसजेट का शेयर 7.20% टूटकर 71.50 रुपए पर पहुंच गया। इंटरग्लोब का शेयर 4.97% गिरावट के साथ 860.65 रुपए पर बंद हुआ।

  8. ब्रोकर्स के मुताबिक क्रूड में तेजी और रुपए में गिरावट बनी हुई है। बाजार के लिए कोई अच्छे संकेत नहीं मिल रहे। इस वजह से निवेशक बिकवाली कर रहे हैं।

  9. सोमवार को डॉलर के मुकाबले रुपया 53 पैसे

    कमजोर होकर 72.73 पर पहुंच गया। ब्रेंट क्रूड 80 डॉलर प्रति बैरल के पार चला गया। नवंबर 2014 के बाद यह सबसे ज्यादा रेट है।

  10. सितंबर के महीने में अब तक विदेशी निवेशक भारत से 15,365 करोड़ रुपए निकाल चुके हैं। अप्रैल से जून के दौरान विदेशी निवेशकों ने 61,000 करोड़ रुपए की निकासी की।

Astrology

Recommended

Click to listen..