--Advertisement--

शेयर बाजार / दिवाली पर मुहूर्त ट्रेडिंग में सेंसेक्स 246 अंक चढ़ा, निफ्टी में 68 प्वाइंट की तेजी



Sensex gain 246 points Nifty lift 68 points in Muhurt Trading on Diwali
X
Sensex gain 246 points Nifty lift 68 points in Muhurt Trading on Diwali
  • बुधवार को शाम 5.30 बजे से 6.30 बजे तक मुहूर्त ट्रेडिंग हुई
  • एक घंटे में निवेशकों को 1.18 लाख करोड़ रु का फायदा हुआ
  • 2008 के बाद निफ्टी की सबसे अच्छी दिवाली, इस बार 0.65% की तेजी

Dainik Bhaskar

Nov 08, 2018, 10:01 AM IST

मुंबई. दिवाली पर मुहूर्त ट्रेडिंग में सेंसेक्स 245.77 की बढ़त के साथ 35,237.68 पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान यह 35,302.25 से स्तर तक चढ़ा। निफ्टी की क्लोजिंग 68.40 प्वाइंट ऊपर 10,598.40 पर हुई। ट्रेडिंग के दौरान इसने 10,616.45 का उच्च स्तर छुआ। दिवाली पर शाम 5.30 बजे से 6.30 बजे तक परंपरा के मुताबिक विशेष ट्रेडिंग हुई थी। गुरुवार को बालीप्रतिपदा के मौके पर शेयर बाजार बंद रहेगा।

बीएसई पर सभी सेक्टर इंडेक्स में बढ़त

  1. बुधवार को एक घंटे की मुहूर्त ट्रेडिंग में निवेशकों को 1.18 लाख करोड़ रुपए का फायदा हुआ। बीएसई पर सभी सेक्टर इंडेक्स बढ़त के साथ बंद हुए। ऑटो इंडेक्स में 1% की तेजी आई।

  2. निफ्टी के 48 शेयरों में फायदा

    सेंसेक्स के 30 में से 29 शेयर फायदे में रहे। निफ्टी के 50 में से 48 शेयरों में बढ़त के साथ कारोबार खत्म हुआ। एनएसई पर महिंद्रा एंड महिंद्रा का शेयर 1.94% उछाल के साथ 793.50 रुपए पर बंद हुआ।

  3. एनएसई के टॉप-5 गेनर

    शेयर बढ़त
    महिंद्रा एंड महिंद्रा 1.94%
    इन्फोसिस 1.65%
    हिंदुस्तान पेट्रोलियम 1.37%
    बीपीसीएल 1.30%
    इंफ्राटेल 1.28%

  4. साल 2008 के बाद निफ्टी के लिए इस बार दिवाली सबसे अच्छी रही। बुधवार को मुहूर्त ट्रेडिंग में यह 0.65% चढ़ा। सेंसेक्स पिछले 14 मुहूर्त ट्रेडिंग में से 11 बार बढ़त में रहा है।

  5. शुभ समय में निवेश की परंपरा है मुहूर्त ट्रेडिंग

    हर दिन हजारों करोड़ रुपए का कारोबार करने वाले शेयर बाजार ने मुहूर्त ट्रेडिंग की परंपरा को सहेज कर रखा है। दिवाली के इस दिन वैसे तो शेयर बाजार बंद रहता है लेकिन, एक घंटे की मुहूर्त ट्रेडिंग होती है। इस दौरान निवेशक कुछ खरीदारी कर परंपरा को निभाते हैं।

  6. दिवाली के साथ नए साल की शुरुआत भी होती है। इस बार दिवाली के साथ संवत् 2075 शुरू हुआ है। भारतीय परंपरा के अनुसार देश के कई हिस्सों में दिवाली के साथ ही नए वित्त वर्ष की शुरुआत भी होती है। इसीलिए मुहूर्त ट्रेडिंग की जाती है। इसके जरिए निवेशक नए फाइनेंशियल ईयर के अच्छे रहने की कामना करते हैं।

Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..