• Hindi News
  • Business
  • Share Market This Week; Here Are 5 Key Factors That Will Keep The Traders Busy

हफ्ते की तैयारी:इस सप्ताह शेयर बाजार के लिए अहम होंगे ये 5 इवेंट्स, TCS 8 जनवरी को पेश करेगी दिसंबर तिमाही के नतीजे

मुंबई10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
FII ने पिछले साल दिसंबर में कुल 53,499.66 करोड़ रुपए का निवेश किया।                                       
                             ( फाइल फोटो) - Dainik Bhaskar
FII ने पिछले साल दिसंबर में कुल 53,499.66 करोड़ रुपए का निवेश किया। ( फाइल फोटो)

यह हफ्ता शेयर बाजार के लिए अहम है। क्योंकि इसमें तिमाही नतीजों के साथ-साथ अन्य आर्थिक आंकड़े भी जारी होंगे। इसके अलावा रविवार को कोरोना महामारी के लिए दो कंपनियों भारत बायोटेक की कोवैक्सिन और सीरम इंस्टीट्यूट की कोवीशील्ड को इमरजेंसी यूज के लिए मंजूरी की खबर भी काफी अहम होगी। ऐसे में मार्केट एक्सपर्ट मानते हैं कि सोमवार को शेयर बाजार में पॉजिटिव ग्रोथ देखने को मिल सकती है।

बीते हफ्ते बाजार लगातार 9वें बढ़त के साथ बंद हुआ

बता दें कि एक जनवरी को समाप्त कारोबारी हफ्ता निवेशकों के लिए अच्छा रहा। क्योंकि मजबूत वैश्विक संकेतों के चलते मार्केट रिकॉर्ड लेवल पर पहुंच गया है। बाजार के प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 1.91% ऊपर 48 हजार के करीब और निफ्टी भी 1.96% ऊपर 14 हजार के लेवल को पार पहुंच गया है। खासबात यह रही कि इस दौरान ब्रॉडर मार्केट में भी अच्छी तेजी दर्ज की गई। इसमें निफ्टी मिडकैप इंडेक्स 3% और स्मॉल कैप 3.88% ऊपर चढ़े। ऐसे में मार्केट एक्सपर्ट्स का मानना है कि तिमाही नतीजे उम्मीद से बेहतर आ सकते हैं, जिसका मार्केट पर पॉजिटिव अरस पड़ेगा।

इस हफ्ते ये 5 प्रमुख इवेंट्स करेंगे बाजार को प्रभावित

  • दिसंबर तिमाही के नतीजे - कारोबारी हफ्ते में 8 जनवरी को IT सेक्टर की दिग्गज कंपनी टीसीएस अपनी दिसंबर तिमाही के नतीजे पेश करेगी। इसके साथ ही तिमाही नतीजे पेश करने का सिलसिला भी शुरु हो जाएगा। इस हफ्ते टीसीएस के साथ-साथ जीएम ब्रेवरीज, एवेन्यू सुपरमार्ट, भंसाली इंजीनियरिंग, उत्तम शुगर, इंटिग्रेटेड कैपिटल सर्विस, रैडिक्स इंडस्ट्रीज और CHD केमिकल भी अपनी तिमाही नतीजे पेश करेंगी। मार्केट एक्सपर्ट्स को उम्मीद है कि फेस्टिव सीजन के चलते दिसंबर तिमाही के नतीजे उम्मीद से बेहतर हो सकते हैं।
  • कोरोना वैक्सीन अपडेट - ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DCGI) ने रविवार को भारत बायोटेक की कोवैक्सिन और सीरम इंस्टीट्यूट की कोवीशील्ड को इमरजेंसी यूज के लिए मंजूरी दे दी है। वहीं जायडस कैडिला हेल्थकेयर की जायकोव-डी को फेज-3 ट्रायल की मंजूरी दी गई। इससे पहले 30 दिसंबर को ब्रिटेन में भी ऑक्सफोर्ड की कोवीशील्ड वैक्सीन को इमरजेंसी यूज के लिए मंजूरी मिली थी। पिछले हफ्ते शुक्रवार को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने कहा था कि कोरोना वैक्सीन पूरे देश में फ्री होगी। हालांकि डेढ़ घंटे बाद उन्होंने कहा कि पहले फेज में यह 3 करोड़ लोगों के लिए फ्री मिलेगी। इनमें 1 करोड़ हेल्थकेयर वर्कर्स और 2 करोड़ फ्रंटलाइन वर्कर्स शामिल होंगे।
  • देश में कोरोना - कोरोना की वैक्सीन को लेकर आ रही पॉजिटिव खबरों के बीच देश में कोरोना वायरस की पकड़ लगातार कमजोर हो रही है। अब तक कुल आबादी के लगभग 13% हिस्से यानी 17.4 करोड़ लोगों के टेस्ट किए जा चुके हैं। इनमें 5.9% लोग संक्रमित मिले। इसका मतलब है कि हर 100 टेस्ट पर सिर्फ 6 लोगों में ही संक्रमण की पुष्टि हुई है। पिछले 24 घंटे के अंदर 18 हजार 144 नए केस मिले। 20 हजार 903 लोग रिकवर हुए और 216 की मौत हो गई। देश में अब तक 1 करोड़ 3 लाख 24 हजार से ज्यादा लोग कोरोना संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। अच्छी बात ये है कि अब तक 99 लाख 26 हजार लोग रिकवर हो चुके हैं। वहीं, अब तक 1 लाख 49 हजार 471 लोगों की कोरोना की वजह से जान जा चुकी है।
  • इकोनॉमी डेटा - दिसंबर के लिए मार्किट मैन्युफैक्चरिंग PMI डेटा सोमवार को और मार्किट सर्विसेस PMI डेटा को बुधवार को आएंगे। इससे पहले नवंबर में IHS मार्किट इंडिया मैन्युफैक्चरिंग पर्चेंजिंग मैनेजर्स इंडेक्स (PMI) तीन महीने के निचले स्तर 56.3 पर आ गया था, जो अक्टूबर में 54.1 पर था। जबकि एक जनवरी को समाप्त हफ्ते में फॉरेन एक्सचेंज रिजर्व का आंकड़े शुक्रवार को जारी किए जाएंगे।
  • मार्केट में FII बढ़ता निवेश - भारत में विदेशी संस्थागत निवेशकों (FII) का भारी निवेश लगातार जारी है। FII ने पिछले साल दिसंबर में कुल 53,499.66 करोड़ रुपए का निवेश किया। हालांकि, यह नवंबर में हुए कुल 70,844.63 करोड़ रुपए के निवेश से कम है। बता दें कि नवंबर में निवेश का यह आंकड़ा एक महीने में निवेश के लिहाज से सर्वाधिक है। FII ने 2020 में कुल 1.66 लाख करोड़ रुपए का निवेश किया, जो किसी एक साल निवेश का सर्वाधिक आंकड़ा है।

मार्केट में आगे भी पॉजिटिव ग्रोथ देखने को मिल सकता है। ब्रोकरेज कंपनी निर्मल बंग फाइनेंशियल सर्विसेस ने निफ्टी का लक्ष्य 14,500 रखा है, जो फिलहाल 14 हजार के लेवल पर कारोबार कर रहा है। ब्रोकरेज हाउस का कहना है कि 15 जनवरी के बाद बाजार को बजट का सपोर्ट मिलने लगेगा। तब निफ्टी और आगे जा सकता है।